मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> 130 साल पुरानी फर्म डूबी, दफ्तर बंद, लोगों के 30 करोड़ अटके

130 साल पुरानी फर्म डूबी, दफ्तर बंद, लोगों के 30 करोड़ अटके

अजमेर 8 अप्रैल 2019 । अजमेर के नया बाजार स्थित एक वित्तीय फर्म डूब गई है। फर्म के दफ्तर पर ताला लग गया है। बताया जाता है कि यह फर्म करीब 130 साल पुरानी है। फर्म पर लोगों के करीब 30 करोड़ रुपया बकाया होने की चर्चा है।
नया बाजार स्थित इस प्रतिष्ठित फर्म ने मंगलवार को अपना कारोबार समेट दिया है। फर्म मालिकों के निर्देश पर कारिंदों ने सोमवार को सारा सामान पैक किया जिसे मंगलवार की सुबह गाड़ियों में भर कर ले गए। मंगलवार को नया बाजार बंद रहता है इसीलिए इसकी कोई ज्यादा चर्चा नहीं हुई, लेकिन फर्म पर ताले लगे देख कर बुधवार को इसकी चर्चा सरेआम हो गई। जानकारों के मुताबिक फर्म पर लोगों के करीब 30 करोड़ से अधिक की राशि बकाया होने की चर्चा है। यह राशि फर्म में किए गए इन्वेस्टमेंट और फर्म द्वारा लोगों से लिए गए उधार की बताई जा रही है। फर्म संचालकों ने पैसा लौटाने से मना कर दिया है। हालांकि भुगतान नहीं करने की स्थिति पिछले आठ महीनों से लगातार बनी हुई थी। जिन लोगों का बकाया है उनमें से कुछ लोगों ने संचालकों से पैसा लौटाने के लिए संपर्क किया था लेकिन उन्हें निराशा हाथ लगी है।
इसलिए हुई बर्बाद : सूत्रों के मुताबिक फर्म दो बड़े कारणों से बर्बाद हुई। बताया जाता है कि फर्म ने कुछ अर्सा पहले दिल्ली एनसीआर इलाके में रिलायंस कंपनी के साथ केबल बिछाने का काम शुरु किया था जो अंजाम तक नहीं पहुंचा। इसमें फर्म को बड़ा घाटा हो गया। इसी प्रकार जमीनें भी खरीदीं जिनमें घाटा हुआ। फर्म संचालकों के रईसाना रहन सहन ने भी नुकसान बढ़ाया है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

चीन नहीं, हिमाचल में तैयार होगा दवाइयों का सॉल्ट, खुलेगा देश का पहला एपीआई उद्योग

नई दिल्ली 01 अगस्त 2021 । नालागढ़ के पलासड़ा में एक्टिव फार्मास्यूटिकल इनग्रेडिएंट (एपीआई) उद्योग …