मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> UDA के बाबू को 4-4 साल का कठोर कारावास

UDA के बाबू को 4-4 साल का कठोर कारावास

उज्जैन  1 मई 2019 । चार साल पहले 10 हजार की रिश्वत लेते पकड़ाये उज्जैन विकास प्राधिकरण के बाबू विजय जैन को न्यायालय ने दो अलग अलग धाराओं में चार-चार साल के कठोर कारावास एवं कुल 5 हजार रुपये अर्थदण्ड की सजा सुनाई है। मंगलवार को विशेष न्यायाधीश उज्जैन चंद्र किशोर बारपेटे ने उज्जैन विकास प्राधिकरण के लिपिक विजय जैन सहायक ग्रेड 3 को भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धारा 7 एवं 13 में चार-चार वर्ष सश्रम कारावास एवं दोनों धाराओं में कुल पांच हजार रुपए के अर्थदण्ड से दंडित किया गया।

के मुताबिक 1 अप्रैल 2015 को फरियादी पत्रकार धर्मेंद्र भाटी निवासी उज्जैन ने पुलिस अधीक्षक लोकायुक्त को शिकायत की थी कि ऋषि नगर छोटा कांप्लेक्स की छत क्रय करने अथवा किराए पर दिलाने हेतु उज्जैन विकास प्राधिकरण का बाबू विजय जैन द्वारा उससे ₹10000 रिश्वत की मांग की जा रही है। जिस पर पुलिस अधीक्षक लोकायुक्त के निर्देशन में निरीक्षक बसंत श्रीवास्तव द्वारा ट्रैप कार्यवाही की गई थी और आरोपी विजय जैन को दिनांक 4 अप्रैल 2015 को UDA कार्यालय में फरियादी से रिश्वत के 10000 रुपए लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया था। इस दौरान उसने रिश्वत के रुपये फेंककर भागने की भी कोशिश की थी लेकिन लोकायुक्त की टीम ने उसे दबोच लिया था और उसका हाथ घोल में धुलाये जाने पर घोल का रंग गुलाबी हो गया था। एफएसएल द्वारा अपने रासायनिक परीक्षण में आरोपी के हाथ धुलाने के घोल में फिनाफ्थलीन रसायन धनात्मक पाया था।विवेचना में अपराध प्रमाणित पाए जाने पर लोकायुक्त संगठन द्वारा आरोपी के विरुद्ध अभियोग पत्र न्यायालय प्रस्तुत किया गया था। जिसमें विचारण उपरांत विशेष न्यायालय उज्जैन आरोपी विजय जैन को दोष सिद्ध किया गया और सजा सुनाई गई।लोकायुक्त की ओर से विशेष लोक अभियोजक मनोज कुमार पाठक द्वारा प्रकरण में पैरवी की गई।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

राहुल ने जारी किया श्वेतपत्र, बोले- तीसरी लहर की तैयारी करे सरकार

नई दिल्ली 22 जून 2021 । कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस …