मुख्य पृष्ठ >> Uncategorized >> 40 करोड़ लोगों पर बेरोजगार होने का संकट

40 करोड़ लोगों पर बेरोजगार होने का संकट

नई दिल्ली 11 अप्रैल 2020 । इस समय पुरे देश मे लॉक डाउन है । एक सर्वे के मुताबिक 88 प्रतिशत जनता ने लॉक डाउन का समर्थन भी किया है । सभी राजनैतिक दल इस समय पीएम मोदी के संग नजर आ रहें है । सबने एक स्वर में लॉक डाउन को बढाने के फैसले के लिए उन्हें स्वतंत्र कर दिया है । लेकिन इन सबके बीच सबसे बड़ा संकट आने वाला है गरीब वर्ग ,मध्यम वर्ग पर क्योकि एक अनुमान के मुताबित 40 करोड़ लोगों के बेरोजगार होने का संकट भारत मे हो सकता है । अंतरराष्ट्रीय श्रम संगठन (ILO) के एक रिपोर्ट के मुताबिक, कोरोनावायरस असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले 40 करोड़ लोगों को और गरीबी में धकेल देगा। त्राहिमाम होने की इस घड़ी में केवल भोजन के पैकेट वितरण करके ही गरीबो की मदद या देश की सेवा नही की जा सकती इसके और भी उपाय है,जिन पर ध्यान देने की आवश्यकता है ।
मकान मालिक अधिकांश वो ही व्यक्ति होते है जो संपन्न वर्ग से आते है ऐसे अमीर लोगो को इस समय देश की सेवा का अवसर आया है । वे अपने किराएदारो से 3 माह तक किराया न लें । सरकार इस कदम को अनिवार्य करें यदि फिर भी मकान मालिक किराया वसूले तो उस पर FIR दर्ज हो । ऐसे मकान मालिक मकान के साथ-साथ छोटे दुकानदारों को किराए पर दी गयी दुकानों के किराए को भी माफ करें । दुकान बंद पड़ी है कैसे दुकान वाला किराया चुका पायेगा । सरकार को तत्काल इस दिशा में आदेश देना चाहिए ।
निजी क्षेत्र में नौकरी करने वाले लोगो के मालिक उन्हें इस माह का वेतन न देने के मूड़ में लग रहे है । जबकि अपने यहां किसी को नौकरी देने वाला वर्ग अमिर होता है वो 3 माह तक बिना काम के भी वेतन दे सकता है । यदि कोई भी मालिक अपने कर्मचारी को वेतन नही दे रहा है तो मालिक पर भी FIR दर्ज करवाने का प्रावधान होना चाहिए ।
राज्य सरकार बिजली बिल माफ करें या हाफ करें । सभी राज्य सरकार इस वक्त जनता की मदद करने के लिए काम कर रही है। आप बिजली के 2 माह के बिलों को माफ करें या हाफ करें इससे भी गरीब एवं मध्यम वर्ग को लाभ होगा । इसमें सरकारी नौकरी वालो को छोड़कर और बड़े उद्योगपतियों को छोड़कर सभी को इस सुविधा का लाभ दिया जा सकता है ।
सभी प्राइवेट स्कूल कॉलेज को इस दौरान 6 माह तक बच्चों की फीस नही वसूलनी चाहिए । देश मे अधिकांश प्राइवेट स्कूल कॉलेज सक्षम है उन्हें 6 माह तक फीस न लेकर भी कोई बड़ा नुकसान नही होगा ।
सभी यूनिवर्सिटी सभी छात्रों की परीक्षा फीस माफ करें एवं सभी विद्यार्थियों से यूनिवर्सिटी जो भी फीस वसूलता है इस वक्त 6 माह के लिए उस पर रोक लगाकर देश हित मे वो भी सरकार की मदद कर सकती है । वैसे भी यूनिवर्सिटी के पास स्वयं का बहुत फंड होता है और कभी भी जन हित के किसी कार्य मे इनकी सहभागिता कम ही होती है ।
सभी ट्रेनों के किराए को 3 माह तक आधा किया जाना चाहिए ।
कच्चे तेल की कीमत बहुत कम हो गयी है इस समय सरकार पेट्रोल डीजल की कीमत में भारी कमी करके भी जनता की मदद कर सकती है ।
सरकार अपने सभी टेक्स को 6 माह के लिए माफ करके भी जनता की मदद कर सकती है ।
सभी टोल टैक्स को 6 माह के लिए छोटी कारो के लिए फ्री किया जा सकता है ।
नगर निगम इस वर्ष के हाउस टैक्स को माफ कर सकती है ।
शराब ,पाउच गुटके ,सिगरेट पर अधिक शुल्क वसूल कर इन सब टेक्स की भरपाई की जा सकती है ।
सभी मोबाइल कम्पनी हमेशा ग्राहकों से पैसा कमाती है सरकार उन्हें निर्देश दें कि 4 माह के लिए वाइस कॉल सभी नेटवर्क पर फ्री किये जायें ।
आपके घर पर यदि कोई काम वाले कमर्चारी आते हो तो आमजन भी उन्हें उनके मेहनताने से वंचित न करें । उनके राशन की व्यवस्था आपके द्वारा की जा सकती है ।
ऑटो वालो, टेक्सी वालो, ठेला चालकों ,रिक्शा चालकों ,को चिन्हित करके इनके खातों में राज्य सरकारों द्वारा प्रति माह 2000 रु डालना चाहिए कम से कम 3 माह ऐसा किया जा सकता है ।
देश की विभिन्न मंडियों में कार्यरत मजदूरों को मंडी व्यापारियो से राशि एकत्र करके इस संकट की घड़ी में उनकी मदद करनी चाहिए ।
किसानों को एक साल के लिए उनकी घरेलू एवं खेत की बिजली को पूरी तरह निशुल्क कर देना चाहिए ।
खेती में उपयोग होने वाले वाहनों को सभी पेट्रोल पंप से निशुल्क एक सीमित मात्रा में ईंधन प्रदान करना चाहिए ।

मध्य प्रदेश के 15 जिलों में हॉटस्पॉट चिन्हित
राज्य शासन ने 15 जिलों में कुल 46 कोरोना हॉट स्पॉट घोषित किये हैं। इन जिलों में कुल 75 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं। जिन क्षेत्रों को हॉट स्पाट घोषित किया गया है, उन क्षेत्रों को जिला प्रशासन द्वारा एहतियात के तौर पर बेरिकेट्स लगाकर सील किया गया है। इन क्षेत्रों में जिला प्रशासन द्वारा अति आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति नागरिकों के घरों पर उनकी माँग के अनुसार सुनिश्चित की जा रही है।

जबलपुर में कचिया पाथ गोल बाजार, प्रोफेसर कॉलोनी, सुहागी सरस्वती कॉलोनी, अंधेरदेव, शंकर नगर, मौलाना की गली कोतवाली, रामपुर तथा पंचशील नगर को हॉट स्पॉट घोषित किया गया है। इन स्थानों पर कुल 8 कोरोना पॉजिटिव मरीज पाये गये। ग्वालियर में ढोली बुआ का पुल, चेतकपुरी, विजय नगर, आमखो, नाका चंद्रवंदनी, सत्यदेव नगर और बीएसएफ कॉलोनी टेकनपुर को कुल 6 कोरोना पॉजिटिव मरीज पाये जाने पर हॉट स्पॉट घोषित किया गया है। खरगोन में धारगाँव, असनगाँव, बड़गाँव, साकार नगर केजीएन और वार्ड नम्बर-11 कसरावद में कुल 12 कोरोना पॉजिटिव प्रकरण पाये जाने के कारण इन्हें हॉट स्पॉट घोषित किया गया है।

मुरैना में वार्ड नम्बर-47 में 13 कोरोना पॉजिटिव और शिवपुरी में खनियाधाना में 2 कोरोना पॉजिटिव मरीज पाये जाने पर इन क्षेत्रों को हॉट स्पॉट घोषित किया गया है। बड़वानी के सेंधवा में अमन नगर, खलवाड़ी मोहल्ला और मदीना नगर तथा बड़वानी के पानवाड़ी मोहल्ला और सुतार कॉलोनी में कुल 12 कोरोना पॉजिटिव पाये जाने पर हॉट स्पॉट घोषित किया गया है। बैतूल की भैंसदेही सिटी में एक, विदिशा के सिरोंज में काड़ी मोहल्ला तथा गंजबासौदा के मिर्जापुर करीमी मोहल्ला में कुल 2, श्योपुर के हसनपुर हवेली क्षेत्र में एक कोरोना पॉजिटिव मिलने पर इन क्षेत्रों को हॉट स्पॉट घोषित किया गया है।

राज्य शासन ने छिंदवाड़ा जिले के ग्राम गुलबरारा, इमलीखेड़ा, सरना, मालनवारा और केवलारी में कुल 4, रायसेन के वार्ड-6 में एक, होशंगाबाद जिले के इटारसी में देशबंधुपुरा, जीन मोहल्ला और हाजी मंजिल में कुल 6 और खण्डवा की संजय कॉलोनी तथा मक्का मस्जिद में कुल 5 कोरोना पॉजिटिव पाये जाने पर इन क्षेत्रों को हॉट स्पॉट घोषित किया गया है। धार में बख्तावर मार्ग में एक तथा देवास में पीठा रोड, नाहर दरवाजा, शीतलामाता वार्ड हाटपिपल्या सिटी और कन्नौज के पानीगाँव को कुल 3 कोरोना पॉजिटिव मिलने के कारण हॉट स्पॉट घोषित किया गया है।

विदेश से अब तक 20 हजार से ज्‍यादा भारतीय निकाले गए

देश में कोरोना से अब तक करीब 200 लोगों की मौत हो चुकी है। स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के मुताबिक देश में कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा 199 तक पहुंच गया है। पिछले 12 घंटे में 547 नए मामले सामने आए हैं, वहीं 30 लोगों की मौत हुई है। कोरोना पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या भी बढ़कर 6412 तक पहुंच गई है, जिनमें से 5709 लोगों का इलाज चल रहा है। वहीं 504 लोग ठीक हो चुके हैं। आज भारत में लॉकडाउन का 17वां दिन है। 14 अप्रैल को लॉकडाउन खत्म करने की तिथि निर्धारित की गई है। फिलहाल इसे आगे बढ़ाने पर कोई फैसला नहीं लिया गया है। इस बीच अंडमान और निकोबार में सभी 10 कोरोना पॉजिटिव मरीज इलाज के बाद ठीक हो गए हैं, उनका कोरोना टेस्ट नेगेटिव पाया गया है।

केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के मुताबिक, बीते 24 घंटे में कोरोना वायरस के 678 नए मामले सामने आए हैं जबकि 33 लोगों की मौत हो गई है। भारत में कोरोना के कुल 6,412 मामले पाए गए हैं जिनमें से 516 ठीक भी हुए हैं। अब तक 199 लोगों की जान गई है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

सीएम बदलने से खत्म नहीं होगा बीजेपी का संकट, चेहरा नहीं बड़े बदलाव आ सकते हैं नजर

नई दिल्ली 9 मार्च 2021 । उत्तराखंड में सियासी संकट लगातार गहराता दिखाई दे रहा …