मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> 40 करोड़ की रेती गंभीर नदी से रोजाना अवैध तरीके से निकाली जाती है

40 करोड़ की रेती गंभीर नदी से रोजाना अवैध तरीके से निकाली जाती है

नई दिल्ली 14 जनवरी 2020 । अखिल भारत हिंदू महासभा के प्रदेश अध्यक्ष मनीष सिंह चौहान द्वारा आरोप लगाते हुए बताया हमारे द्वारा लगाए गए खनिज कार्यालय पर आरोप पर अब सरकार को को भी इस बात की सत्ता जानकारी हो गई है कि गंभीर नदी में अवैध खनन माइनिंग की सेटिंग से जारी है गंभीर नदी के दौरान लंबी-लंबी लाइनें विश्व हुई है जिससे रैली निकाली जाती है करीब 40 करोड़ रोजाना की रेती उज्जैन गंभीर नदी से निकाली जा रही है
अखिल भारत युवा हिंदू महासभा
और मध्य प्रदेश युवा शिवसेना गोरक्षा न्यास द्वारा उज्जैन गंभीर नदी मुक्त अभियान चला जा सरहा था इस अभियान में पूरे साक्ष्य जिला प्रशासन को सौपे गए हैं आज उज्जैन दौरे पर आए नदी न्यास के अध्यक्ष श्री कंप्यूटर बाबा ने गंभीर नदी का दौरा किया दौरे के दौरान जिला खनिज प्रभारी रेशमी पांडे और गंभीर नदी में पाइप लाइन बिछी हुई दिखाई दे रही है हिंदू महासभा और गोरक्षा न्यास की की सत्यता कि गंभीर में हो रहा है अवैध खनन वर्णन इसके प्रमाण नदी न्यास अध्यक्ष श्री कंप्यूटर बाबा और खनिज प्रभारी रेशमी पांडे के को पूरे सबूत सौंप चुके हैं हैं हिंदू महासभा और गोरक्षा न्यास माननीय न्यायालय में याचिका कागजी कार्रवाई बहुत जल्दी पूर्ण हो जाएगी इसके बाद उच्चतम न्यायालय में याचिका प्रस्तुत की जाएगी वीडियो में कंप्यूटर बाबा दौरा करते हुए गंभीर नदी उज्जैन गोरक्षा न्यास द्वारा कंप्यूटर बाबा को हिंदू महासभा द्वारा कंप्यूटर बाबा को उनके व्हाट्सएप नंबर पर गंभीर नदी में हो रहे खनन की प्रमाणित वीडियो अखबार की कटिंग दिए गए ज्ञापन की फोटो कॉपी भेज दी गई थी हिंदू महासभा और गौ रक्षा न्यास कंप्यूटर बाबा के आभारी है कि उन्हें हमारे आगरा पर गंभीर नदी का दौरा किया जय हिंदू राष्ट्र भारत की जय हो

नर्मदा का पानी रामघाट पहुंचा, 15 जनवरी को होगा पर्व स्नान

मकर संक्रान्ति का पर्व स्नान रामघाट पर 15 जनवरी को होगा। रामघाट पर स्वच्छ जल से स्नान हेतु नर्मदा का पानी पहुंच चुका है। कलेक्टर श्री शशांक मिश्र के निर्देश पर नगर निगम द्वारा घाटों की साफ-सफाई, वस्त्र बदलने के लिये स्थान एवं अन्य तैयारियां लगभग पूर्ण हो चुकी है। उल्लेखनीय है कि 15 जनवरी बुधवार को मकर संक्रान्ति का पर्व है। इस पर्व पर उज्जैन संभाग एवं आसपास के विभिन्न जिलों से बड़ी संख्या में श्रद्धालु पवित्र शिप्रा नदी में डुबकी लगाने आते हैं। पिछले एक साल से वर्तमान सरकार द्वारा रामघाट पर यह सुनिश्चित किया जा रहा है कि पर्व स्नानों पर श्रद्धालुओं को स्वच्छ एवं निर्मल जल में स्नान का अवसर मिले। रामघाट पर स्वच्छ जल उपलब्ध कराने के लिये राज्य शासन के निर्देश पर देवास बैराज से नर्मदा का चार एमसीएम जल छोड़ा गया है। स्वच्छ जल रामघाट पर पहुंच गया है। यही नहीं पाईप लाइन के जरिये भी शिप्रा नदी में नर्मदा का जल प्रवाहित किया जाता है।
इस सम्बन्ध में संभागायुक्त श्री अजीत कुमार, कलेक्टर श्री शशांक मिश्र एवं नगर निगम आयुक्त श्री ऋषि गर्ग ने विगत दिनों देवास से लेकर त्रिवेणी तक के विभिन्न स्टापडेमों व बैराजों का निरीक्षण किया एवं यह सुनिश्चित किया कि नर्मदा का जल बिना किसी रूकावट के रामघाट तक पहुंचे।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा- ‘कांग्रेस न सदन चलने देती है और न चर्चा होने देती’

नई दिल्ली 27 जुलाई 2021 । संसद शुरू होने से पहले भाजपा संसदीय दल की …