मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> 5 करोड़ 4 लाख से अधिक मतदाताओं के लिये 65 हजार 367 मतदान केन्द्र तैयार

5 करोड़ 4 लाख से अधिक मतदाताओं के लिये 65 हजार 367 मतदान केन्द्र तैयार

नई दिल्ली 28 नवम्बर 2018 । प्रदेश में विधानसभा चुनाव 2018 में मतदाता सूची में 5 करोड़ 4 लाख 33 हजार 79 मतदाता 65 हजार 367 मतदान केन्द्रों पर ई.व्ही.एम और व्ही.व्ही.पैट. से मतदान करेंगे। इसमें पुरूष मतदाताओं की संख्या 2 करोड़ 63 लाख 1300, महिला मतदाताओं की संख्या 2 करोड़ 41 लाख 30 हजार 390 एवं तृतीय लिंग मतदाताओं की संख्या 1 हजार 389 है। प्रदेश में 62 हजार 172 सेवा मतदाता हैं। इनमें 61 हजार 84 पुरूष और 1 हजार 88 महिला सेवा मतदाता सूची में दर्ज है। इनमें 3 लाख 38 हजार 340 दिव्यांग मतदाता हैं। इस प्रकार प्रदेश में कुल 5 करोड़ 4 लाख 95 हजार 251 मतदाता निर्वाचक सूची में दर्ज है।

विधानसभा चुनाव 2018 में 2 हजार 899 अभ्यर्थी है, जिनमें पुरूष प्रत्याशी 2 हजार 644, महिला प्रत्याशी 250 और अन्य प्रत्याशी 5 हैं। मतदाता सूची में 18 से 19 वर्ष के मतदाताओं की कुल संख्या 16 लाख 3 हजार 73 है, जिसमें पुरूष मतदाताओं की संख्या 8 लाख 86 हजार 476, महिला मतदाताओं की संख्या 7 लाख 16 हजार 493 एवं तृतीय लिंग 104 है। 20 से 29 वर्ष के मतदाताओं की कुल संख्या 1 करोड 38 लाख 26 हजार 251 है, जिसमें पुरूष मतदाताओं की संख्या 73 लाख 55 हजार 461 महिला मतदाताओं की संख्या 64 लाख 70 हजार 195 और तृतीय लिंग मतदाताओं की संख्या 595 है।

30 से 39 वर्ष के मतदाताओं की कुल संख्या 1 करोड़ 28 लाख 87 हजार 754 है, जिसमें पुरूष मतदाताओं की संख्या 68 लाख 24 हजार 45, महिला मतदाताओं की संख्या 60 लाख 63 हजार 384 एवं तृतीय लिंग 325 है। 40 से 49 वर्ष के मतदाताओं की कुल संख्या 99 लाख 38 हजार 938 है जिसमें पुरूष मतदाताओं की संख्या 51 लाख 46 हजार 957 महिला मतदाताओं की संख्या 47 लाख 91 हजार 791 और तृतीय लिंग मतदाताओं की संख्या 190 है।

50 से 59 वर्ष के मतदाताओं की कुल संख्या 63 लाख 64 हजार 870 है जिसमें पुरूष मतदाताओं की संख्या 33 लाख 3 हजार 531, महिला मतदाताओं की संख्या 30 लाख 61 हजार 241 एवं तृतीय लिंग 98 है। 60 से 69 वर्ष के मतदाताओं की कुल संख्या 35 लाख 48 हजार 426 है जिसमें पुरूष मतदाताओं की संख्या 17 लाख 70 हजार 52 महिला मतदाताओं की संख्या 17 लाख 78 हजार 324 और तृतीय लिंग मतदाताओं की संख्या 50 है। 70 से 79 वर्ष के मतदाताओं की कुल संख्या 16 लाख 86 हजार 214 है जिसमें पुरूष मतदाताओं की संख्या 7 लाख 80 हजार 524, महिला मतदाताओं की संख्या 9 लाख 5 हजार 675 एवं तृतीय लिंग 15 है।

80 वर्ष से अधिक उम्र के मतदाताओं की कुल संख्या 5 लाख 77 हजार 553 है जिसमें पुरूष मतदाताओं की संख्या 2 लाख 34 हजार 254 महिला मतदाताओं की संख्या 3 लाख 43 हजार 287 और तृतीय लिंग मतदाताओं की संख्या 12 है।

विधानसभा चुनाव 2018 में 2 हजार 899 प्रत्याशी

विधानसभा चुनाव 2018 में प्रदेश में 2 हजार 899 प्रत्याशी हैं। इनमें 2 हजार 644 पुरूष, 250 महिलायें और 5 अन्य प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं। सामान्य वर्ग के 1 हजार 794, अनुसूचित जाति वर्ग के 591 और अनुसूचित जनजाति वर्ग के 514 प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं। छतरपुर विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 51 में 16 प्रत्याशियों में सबसे ज्यादा 7 महिला प्रत्याशी और मेहगांव विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 12 में 34 प्रत्याशियों में से 33 पुरूष प्रत्याशी हैं।

विधानसभा चुनाव में 65 हजार 367 कंट्रोल यूनिट, 78 हजार 870 बैलेट यूनिट और 65 हजार 367 व्ही.व्ही. पैट. उपयोग किये जा रहे हैं। प्रदेश के 45 विधानसभा क्षेत्रों में 2 बैलेट यूनिट और 2 विधानसभा क्षेत्र अटेर और मेहगांव में 3 बैलेट यूनिट मतदान में प्रयोग होंगे।

विधानसभा चुनाव में 40 हजार 487 वाहन मतदान दलों को लाने-ले जाने के लिये लगाये गये हैं। विस्तृत जानकारी के अनुसार नौ हजार 681 बड़ी बसें, 8 हजार 510 मिनी बसें, 19 हजार 487 मैजिक और जीप, हल्के और मध्यम 1 हजार 573 वाहन, 1 हजार 236 भारी वाहन प्रदेश में मतदान कर्मियों को मतदान केन्द्र तक लाने ले-जाने के लिये लगाये गये हैं।

प्राप्त जानकारी अनुसार 230 विधानसभा क्षेत्रों के 65 हजार 367 मतदान केन्द्रों पर मतदान दल रवाना हो चुके हैं। अभी तक 50 हजार 340 मतदान दल आवंटित मतदान केन्द्रों पर पहुँच चुके हैं। विधानसभा चुनाव 2018 में 3 लाख 782 मतदानकर्मी लगाये गये हैं, जिसमें 2 लाख 54 हजार 878 पुरूष और 45 हजार 904 महिला मतदानकर्मी हैं।

28 नवम्बर को प्रदेश में सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक होगा मतदान

भारत निर्वाचन आयोग ने 28 नवम्बर दिन बुधवार को विधानसभा 2018 के सामान्य निर्वाचन के मतदान के लिये सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक का समय निर्धारित किया है। बालाघाट जिले के विधानसभा क्षेत्र बैहर क्रमांक 108, लांजी-109 और परसवाड़ा-110 विधानसभा क्षेत्रों में मतदान के लिये प्रात: 7 बजे से अपरान्ह 3 बजे तक का समय निर्धारित किया है।

17 हजार से अधिक संवेदनशील मतदान केन्‍द्रों पर विशेष निगरानी

विधानसभा चुनाव 2018 में कुल मतदान केन्‍द्र 65 हजार 367 हैं, जिनमें से 17 हजार 712 संवेदनशील मतदान केन्‍द्र हैं। इन सभी मतदान केन्‍द्रों पर विशेष निगरानी रखी जाएगी। इसी के साथ, 6 हजार 500 मतदान केन्‍द्रों पर वेबकास्टिंग से, 4 हजार 600 मतदान केन्द्रों पर वीडियोग्राफी से और 6 हजार 700 मतदान केन्‍द्रों पर सीसीटीवी कैमरों से निगाह रखी जाएगी। केन्‍द्रीय सुरक्षा बल और माईक्रो ऑब्‍जर्वर भी संवेदनशील केन्‍द्रों पर निगाह रखेंगे। प्रदेश में कार्यरत केन्‍द्रीय शासन के 12 हजार से अधिक कर्मचारियों को माईक्रो आब्‍जर्वर बनाया गया है, जिन्‍हें चुनाव आयोग के आब्‍जर्वर द्वारा विशेष प्रशिक्षण दिया गया है।

विधानसभा निर्वाचन 2018 को सम्‍पन्‍न कराने के लिये मतदान केन्‍द्रों में कुल 3 लाख 782 मतदान कर्मी लगाये गये हैं। इसमें 2 लाख 54 हजार 878 पुरूष तथा 45 हजार 904 महिलाएं शामिल हैं। तीन हजार 46 मतदान केन्‍द्र महिला कर्मियों द्वारा संचालित होंगे तथा 160 पीडब्‍ल्‍यूडी बूथ दिव्‍यांग कर्मचारियों द्वारा संचालित होंगे। निष्‍पक्ष एवं स्‍वतंत्र चुनाव के‍ लिये 12 हजार 363 माईक्रो आब्‍जर्वर की तैनाती मतदान केन्‍द्रों पर की गई है। इसमें 12 हजार 211 पुरूष एवं 152 महिला माईक्रो आब्‍जर्वर हैं।

प्रदेश में 1 लाख 80 हजार से अधिक संख्‍या में सुरक्षा बल तैनात किया गया है। इनमें 67 हजार से अधिक केन्‍द्रीय सुरक्षा बल और 33 हजार दूसरे राज्‍यों से आये होमगार्ड तैनात किये गये हैं।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कान्ता राव ने मतदाताओं से मतदान करने की अपील की

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री व्ही.एल. कान्ता राव ने विधानसभा चुनाव-2018 में प्रदेश के सभी मतदाताओं से मतदान कर लोकतन्त्र के पर्व में भाग लेने का आव्हान किया है। श्री कान्ता राव ने कहा है कि लोकतंत्र में स्वतंत्र एवं निष्पक्ष निर्वाचन प्रक्रिया एक महत्वपूर्ण सोपान है। निर्वाचन प्रक्रिया में राज्य के प्रत्येक वयस्क व्यक्ति का मत महत्वपूर्ण है। प्रदेश में विधानसभा निर्वाचन के लिये आगामी 28 नवम्बर को मतदान सम्पन्न होगा। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने निर्वाचन में सहभागिता के लिये राज्य के प्रत्येक मतदाता से स्वतंत्र और निर्भीक होकर मतदान करने की अपील की है।

श्री कांता राव ने कहा है कि निर्वाचन प्रक्रिया को स्वतंत्र और निष्पक्ष होने के साथ-साथ सुगम और समावेशी बनाने के लिये प्रदेश में इस बार मतदान में मुख्य रूप से दिव्यांग, बुजुर्ग, गर्भवती महिलाओं एवं धात्री महिलाओं के लिये विशेष सुविधायें प्रदान की गई हैं। मतदान केन्द्रों पर छाया, पीने के पानी एवं शौचालय की समुचित व्यवस्था की गई है। इसके साथ ही इस बार व्ही.व्ही.पैट मशीन का उपयोग भी किया जा रहा है, जिसमें आपके द्वारा डाले गये वोट का सत्यापन आप स्वयं कर सकते हैं। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने सभी मतदाताओं से अनुरोध किया है कि मध्यप्रदेश विधानसभा निर्वाचन 2018 में 28 नवम्बर को मतदान केन्द्र पर पहुँचकर शत-प्रतिशत मतदान कर लोकतंत्र को मजबूत बनाने में अपनी भागीदारी निभायें।

28 नवम्बर को मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी 3 प्रेस वार्ता करेंगे

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री व्ही.एल. कान्ता राव 28 नवम्बर दिन बुधवार को विधानसभा 2018 के सामान्य निर्वाचन के मतदान की जानकारी देने के लिये प्रात: 10 बजे, दोपहर 3 बजे और सायं 6 बजे मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय 17, अरेरा हिल्स में प्रेस से चर्चा करेंगे।

मतदान प्रतिशत की जानकारी मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी की वेबसाइट पर मिल सकेगी

विधानसभा निर्वाचन 2018 में दिनांक 28 नवम्बर 2018 को मतदान होगा। मतदान के दिन मतदान केन्द्रों पर होने वाले मतदान की जानकारी प्राप्त करने के लिए मत प्रतिशत मोबाईल एप डेवलप किया गया है। इसके माध्यम से मतदान केन्द्रों से सीधे मतदान की स्थिति की जानकारी प्राप्त होगी, जो मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी मध्यप्रदेश की वेबसाइट ceomadhyapradesh.nic.in and sugmaya mp portal की लिंक mpmlaelection.nic.in:9080 पर देखी जा सकेगी। कोई भी व्यक्ति सीईओ की वेबसाइट एवं सुगम्य की लिंक पर जाकर मतदान की अद्यतन स्थिति का अवलोकन कर सकेंगे।

प्रदेश में 17 हजार से अधिक संवेदनशील मतदान केन्‍द्रों पर विशेष निगरानी
65 हजार से अधिक मतदान केन्‍द्रों पर सुरक्षा व्‍यवस्‍था चौकस

विधानसभा चुनाव 2018 में कुल मतदान केन्‍द्र 65 हजार 367 हैं, जिनमें से 17 हजार 712 संवेदनशील मतदान केन्‍द्र हैं। इन सभी मतदान केन्‍द्रों पर विशेष निगरानी रखी जाएगी। इसी के साथ, 6 हजार 500 मतदान केन्‍द्रों पर वेबकास्टिंग से, 4 हजार 600 मतदान केन्द्रों पर वीडियोग्राफी से और 6 हजार 700 मतदान केन्‍द्रों पर सीसीटीवी कैमरों से निगाह रखी जाएगी। केन्‍द्रीय सुरक्षा बल और माईक्रो ऑब्‍जर्वर भी संवेदनशील केन्‍द्रों पर निगाह रखेंगे। प्रदेश में कार्यरत केन्‍द्रीय शासन के 12 हजार से अधिक कर्मचारियों को माईक्रो आब्‍जर्वर बनाया गया है, जिन्‍हें चुनाव आयोग के आब्‍जर्वर द्वारा विशेष प्रशिक्षण दिया गया है।

विधानसभा निर्वाचन 2018 को सम्‍पन्‍न कराने के लिये मतदान केन्‍द्रों में कुल 3 लाख 782 मतदान कर्मी लगाये गये हैं। इसमें 2 लाख 54 हजार 878 पुरूष तथा 45 हजार 904 महिलाएं शामिल हैं। तीन हजार 46 मतदान केन्‍द्र महिला कर्मियों द्वारा संचालित होंगे तथा 160 पीडब्‍ल्‍यूडी बूथ दिव्‍यांग कर्मचारियों द्वारा संचालित होंगे। निष्‍पक्ष एवं स्‍वतंत्र चुनाव के‍ लिये 12 हजार 363 माईक्रो आब्‍जर्वर की तैनाती मतदान केन्‍द्रों पर की गई है। इसमें 12 हजार 211 पुरूष एवं 152 महिला माईक्रो आब्‍जर्वर हैं।

पिछले 48 घण्‍टों में 54 लाख से अधिक की नगदी जप्‍त

विधानसभा चुनाव-2018 में विगत 48 घण्‍टों में 54 लाख 32 हजार 325 रूपये की नगदी, 2 लाख 95 हजार 375 रूपये की शराब, 48 हजार रूपये की ड्रग्‍स, 13 लाख 14 हजार रूपये की बहुमूल्‍य धातु और 17 लाख 74 हजार 350 रूपये की अन्‍य सामग्री जॉंच के दौरान जप्‍त की गई है। इस दौरान आदर्श आचरण संहिता के अंतर्गत 39 प्रकरण दर्ज किये गये हैं।

हरदा जिले में 6 लाख 81 हजार 320 रूपये कीमत की 3 हजार 51 लीटर शराब जप्‍त की गई है। हरदा में पर्ची के आधार पर पेट्रोल दिये जाने की सूचना सही पाये जाने पर 2 पेट्रोल पम्‍प सील किये गये हैं। इसी दौरान छतरपुर, इंदौर, सिंगरौली, सतना, मन्‍दसौर और मुरैना में जांच के दौरान कार्यवाही की गयी है।

एमसीएमसी द्वारा 262 विज्ञापनों को अनुमति दी गयी

विधानसभा चुनाव-2018 में आदर्श आचरण संहिता लगने के बाद 6 अक्टूबर से 27 नवम्बर 2018 तक 262 राजनैतिक विज्ञापनों को एमसीएमसी द्वारा अनुमति प्रदान की गयी। इस अवधि में विभिन्न राजनैतिक दलों द्वारा एमसीएमसी को 268 विज्ञापन अनुमति के लिये आये थे। इनमें 166 वीडियो, 56 ऑडियो, 32 फोटोक्रियेटिव और 8 प्रिन्ट के विज्ञापन एमसीएमसी को अनुमति के लिये प्राप्त हुये थे। इनमें से 6 विज्ञापनों को निरस्त किया गया। राज्य-स्तरीय एमसीएमसी के समक्ष 6 अपील हुई, जिनमें से 5 अपील निरस्त हुईं। एक अपील स्वीकृत की गयी।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

कोरोना महामारी के चलते सादे समारोह में ममता बनर्जी ने ली शपथ

नई दिल्ली 05 मई 2021 । तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की सुप्रीमो ममता बनर्जी ने राजभवन …