मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> 95% पुरुष रहते है तनाव में , कम हो रही औसत आयु

95% पुरुष रहते है तनाव में , कम हो रही औसत आयु

उज्जैन 19 नवम्बर 2018 । पुरुषों के स्वास्थ्य पर ध्यान न देने की वजह से 90 से 95 प्रतिशत पुरुष मानसिक तनाव में रहते है। शोध अध्ययनों से पता चला है कि बीते 5 साल मे देश मे पुरुषों की औसतन आयु 4 से 5 साल तक कम हुई है। अनियमित दिनचर्या , तनाव, शराब और सिगरेट के सेवन साहित बेतरतीब जीवन शैली ने स्वास्थ्य की दृष्टि से पुरुषों को कमजोर किया है।
यह खुलासा राष्ट्रीय सामुदायिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के सलाहकार डॉ नरेश पुरोहित ने हाल ही में भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद की पत्रिका मे प्रकाशित अपनी शोध सर्वेक्षण रिपोर्ट मे किया I
शोध रिपोर्ट के आधार पर डॉ पुरोहित ने बताया कि महिलाओ में दो एक्स क्रोमोजोन होने से वे मानसिक तौर पर आधिक मजबूत मानी जाती है जबकि पुरुषो मे केवल एक एक्स क्रोमोजोन होता है और दूसरा वाई क्रोमोजोन होता है। खान-पान, सिगरेट, शराब,और तनाव की वजह से एक्स क्रोमोजोन में जैनेटिक म्यूटेशन होता है जो कई अन्य प्रकार के रोगो की वजह बनता है l
नशे की लत एवं बेतरतीब जीवनशैली ही पुरुषों को अस्वस्थ करने का प्रमुख कारण है।
– पुरुषों मे पाई जाने वाली प्रमुख बीमारियां :
० मानसिक तनाव
० अवसाद
० मधुमेह
० उच्च रक्तचाप
० लिवर की समस्याएं
० प्रोस्टेट ग्रन्थि की समस्याएं
०घुटनों का दर्द
० हृदय रोग इन सभी के अलावा कमरदर्द या सिरदर्द तो हर चौथे पुरुष को होता है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

Ram Mandir निर्माण के लिए Rajasthan के लोगों ने दिया सबसे ज्यादा चंदा

जयपुर: विश्व हिंदू परिषद (VHP) के केंद्रीय उपाध्यक्ष और श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के …