मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> 100 रुपये का नया नोट, न कटेगा-न फटेगा

100 रुपये का नया नोट, न कटेगा-न फटेगा

नई दिल्ली 18 नवम्बर 2018 । अभी आप सौ रुपए (100 रुपये) के इस नए नोट को पाकर खुश हो रहे हैं होंगे औऱ संभालकर रखने का मन करता होगा. लेकिन जल्द ही एक और नया नोट सौ रुपए का आपके पास पहुंचने वाला है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, सोमवार को होने वाली रिजर्व बैंक बोर्ड की बैठक में वार्निश पेंट चढ़ा हुई सौ रुपए के नोट जारी करने के प्रस्ताव को मंजूरी मिल सकती है. अगर रिजर्व बैंक बोर्ड की बैठक में प्रस्ताव को मंजूरी मिलती है तो शुरू में इसे ट्रायल के तौर पर बाजार में लाया जाएगा.

खास बात ये होगी कि उस नए नोट को ज्यादा संभालकर रखने की जरूरत नहीं होगी. क्योंकि वो नया नोट ना तो जल्दी कटेगा फटेगा, और ना ही पानी में जल्द गलेगा. क्योंकि इसपर वार्निश पेंट चढ़ा होगा. जी हां, वही वार्निश पेंट जो हम लकड़ी या लोहे के पेंट करते वक्त इस्तेमाल करते हैं.

अभी आप सौ रुपए (100 रुपये) के इस नए नोट को पाकर खुश हो रहे हैं होंगे औऱ संभालकर रखने का मन करता होगा. लेकिन जल्द ही एक और नया नोट सौ रुपए का आपके पास पहुंचने वाला है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, सोमवार को होने वाली रिजर्व बैंक बोर्ड की बैठक में वार्निश पेंट चढ़ा हुई सौ रुपए के नोट जारी करने के प्रस्ताव को मंजूरी मिल सकती है. अगर रिजर्व बैंक बोर्ड की बैठक में प्रस्ताव को मंजूरी मिलती है तो शुरू में इसे ट्रायल के तौर पर बाजार में लाया जाएगा.

खास बात ये होगी कि उस नए नोट को ज्यादा संभालकर रखने की जरूरत नहीं होगी. क्योंकि वो नया नोट ना तो जल्दी कटेगा फटेगा, और ना ही पानी में जल्द गलेगा. क्योंकि इसपर वार्निश पेंट चढ़ा होगा. जी हां, वही वार्निश पेंट जो हम लकड़ी या लोहे के पेंट करते वक्त इस्तेमाल करते हैं.

क्या होगा नोट में खास
नोट का साइज बिल्कुल सौ रुपए के नए नोट के बराबर होगा.
गांधी सीरीज का नोट होगा.
उसकी डिजाइन भी बिल्कुल मौजूदा नए नोट की तरह होगी.
लेकिन वार्निश वाला ये नया नोट, मौजूदा नोट के मुकाबले करीब दोगुना टिकाऊ होगा
अभी सौ रुपए का नोट औसतन करीब ढ़ाई से साढ़े तीन साल तक चलता है, लेकिन वार्निश चढ़े नोट की उम्र करीब दोगुना हो जाएगी. यानी करीब 7 साल तक टिका रहेगा.

नोट की छपाई पर खर्च
अभी के सौ रुपए के एक हजार नोट की छपाई में करीब 1570 रुपए खर्च आता है.
वार्निश नोट की छपाई में करीब 20 परसेंट ज्यादा खर्च आएगा.
पानी हो या केमिकल उससे नोट खराब नहीं होगा.
मौजूदा नोट के मुकाबले पानी या केमिकल से वार्निश वाले नोट के खराब होने का खतरा 170 परसेंट कम होगा.
वार्निश चढ़ा होने की वजह से बार बार ज्यादा मोड़ना आसान नहीं होगा लेकिन नोट को बार बार मोड़ने से फटने का खतरा भी मौजूदा नोट के मुकाबले करीब 20 परसेंट कम होगा.

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

लगातार बढ़ रही हैं PM मोदी की उपलब्धियां, अब मिलने वाला है एक और इंटरनेशल अवॉर्ड

नई दिल्ली 28 फरवरी 2021 । प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी अगले सप्ताह एक वार्षिक अंतरराष्ट्रीय …