मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> चिकित्सा महाविद्यालयों मे छात्रों का दाखिला उपलब्ध सुविधाओं के आधार पर दिया जाए

चिकित्सा महाविद्यालयों मे छात्रों का दाखिला उपलब्ध सुविधाओं के आधार पर दिया जाए

उज्जैन 9 फरवरी 2019 । मेडिकल काउसिंल ऑफ इंडिया (एमसीआई) ने नियमों मे बदलाव की सिफारिश की है। नए नियमों के तहत् चिकित्सा महाविद्यालयों को उतनी सीटों पर प्रवेश देने की मंजूरी दी जाएगी, जितनी सीटों के लायक सुविधाएं उनके पास है।
अखिल भारतीय अस्पताल प्रशासक संघ के सचिव डॉ नरेश पुरोहित ने मेडिकल काउसिंल ऑफ इंडिया (एमसीआई) के अधिकारियों की दिल्ली में आयोजित बैठक के आधार पर उक्त जानकारी देते हुए बताया कि नियमों मे बदलाव का मकसद सामान्य वर्ग हेतु 10 फीसदी आरक्षण को लागू करने के लिए की जा रही कवायद के बीच एक भी एमबीबीएस सीट को खराब नही होने देना है। इसे अंतिम मंजूरी हेतु केन्द्र के पास भेजा गया है। वर्तमान नियमों के तहत् मेडिकल कॉलेज को एमबीबीएस के पहले वर्ग मे प्रवेश देने हेतु एमसीआई की मंजूरी लेनी होती है। साथ ही सीटों की संख्या भी बतानी होती है ।
इसके पश्चात एमसीआई कॉलेज की जांच करती है। आवेदन की गई सीटों के अनुरूप कॉलेज में सुविधाएं नही होने पर एक भी सीट पर प्रवेश की अनुमति नही दी जाती।
डॉ पुरोहित ने बताया कि इसकी वजह से हर साल दो से तीन हजार सीटें बेकार चली जाती है। एमसीआई ने इस अव्यवस्था को रोकने हेतु यह फैसला किया है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

टी-20 वर्ल्ड कप के लिए भारत के गेम प्लान पर बोले कोच रवि शास्त्री- खिलाड़ियों को ज्यादा तैयारी की जरूरत नहीं

नई दिल्ली 19 अक्टूबर 2021 । भारतीय क्रिकेट टीम को टी-20 वर्ल्ड कप में अपना …