मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> MP में ST-OBC के बाद सरकार की SC को खुश करने की कोशिश, रविदास जयंती पर घोषणाओं का पिटारा खुला

MP में ST-OBC के बाद सरकार की SC को खुश करने की कोशिश, रविदास जयंती पर घोषणाओं का पिटारा खुला

नयी दिल्ली 16 फरवरी 2022 । संत रविदास जयंती पर मध्य प्रदेश सरकार ने अनुसूचित जाति वर्ग के लोगों के लिए घोषणाओं का पिटारा खोल दिया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना पॉजिटिव होने के बावजूद वर्चुअली रूप से राज्यस्तरीय कार्यक्रम में शामिल होकर इस वर्ग के लिए स्व रोजगार देने के लिए ब्याज अनुदान, आंबेडकर आर्थिक कल्याण योजना, एससी बहुल जिलों में संत रविदास सामुदायिक भवन और भोपाल में बन रहे ग्लोबल पार्क का नाम संत रविदास पर करने का ऐलान किया। ज्ञात रहे कि इसके पहले मध्य प्रदेश सरकार ने जनजातीय समुदाय और ओबीसी को खुश करने के लिए भी घोषणा की हैं। संत रविदास जयंती पर जिला, विकासखंड और ग्राम पंचायतस्तर पर सरकारी कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। इनके लिए सरकार ने अलग से राशि दी गई थी। कार्यक्रमों में संतों को सम्मानित किया गया और अनुसूचित जाति के प्रशिक्षणार्थियों को कौशल विकास के लिए स्वीकृति-पत्र भी सौंपे गये। सीएम ने वर्चुअली शामिल होकर यह घोषणा की कि भोपाल में बन रहा ग्लोबल स्किल पार्क को संत रविदास के नाम से पहचाना जाएगा।

अनुसूचित जाति के लिए घोषणाएं
सीएम ने संत रविदास स्वरोजगार योजना की घोषणा करते हुए कहा कि इसमें 25 लाख तक का लोन दिया जाएगा जिसका पांच फीसदी ब्याज सरकार भरेगी। मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति विशेष परियोजना भी प्रारंभ करने का ऐलान किया। इसें अनुसूचित जाति के युवाओं को स्वरोजगार, कौशल उन्नयन, नवाचार के लिए 2 करोड़ तक का अनुदान देने की घोषणा की। सीएम ने अनुसूचित जाति वर्ग के लिए भीमराव आंबेडकर आर्थिक कल्याण योजना भी शुरू करने की भी घोषणा की। इसमें कम लागत के उपकरण और पूंजी की आवश्यकता होने पर सरकार द्वारा एक लाख तक का लोन दिए जाने की घोषणा की और कहा कि अनुसूचित जाति बहुल आबादी वाले जिलों में संत रविदास सामुदायिक भवन बनाए जाएंगे।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

नरेश पटेल की एंट्री के कयास ने लिखी हार्दिक पटेल के एग्जिट की पटकथा

नयी दिल्ली 18 मई 2022 । कांग्रेस से लंबे समय से नाराज चल रहे गुजरात …