मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> हिंदुत्व पर अखिलेश का भाजपा को जवाब? हाथ में हनुमान की मूर्ति ले अयोध्या की गलियों में घूमे

हिंदुत्व पर अखिलेश का भाजपा को जवाब? हाथ में हनुमान की मूर्ति ले अयोध्या की गलियों में घूमे

नयी दिल्ली 25 फरवरी 2022 । उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के पांचवें चरण से पहले भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और समाजवादी पार्टी (सपा) ने पूरी ताकत झोंक दी है। शुक्रवार सुबह जहां सीएम योगी आदित्यनाथ ने रामलला के दर्शन किए तो शाम को सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अयोध्या की गलियों में रोड शो निकाला। ‘विजय रथ’ की छत पर सवार होकर निकले अखिलेश यादव के साथ कुछ संत भी नजर आए। इस दौरान अखिलेश हनुमान जी की मूर्ति लेकर हाथ में लेकर लोगों अभिवादन करते दिखे। बीजेपी एक तरफ राममंदिर निर्माण के लिए क्रेडिट लेते हुए वोट मांग रही है तो सपा पर यह कहकर हमला किया जाता है कि उन्होंने कारसेवकों पर गोलियां चलवाईं थीं। माना जा रहा है कि अखिलेश यादव ने अयोध्या में रोड के जरिए बीजेपी को हिदुत्व के पिच पर जवाब देने की कोशिश की है। वहीं, एक दिन पहले ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बीजेपी ने सपा को अयोध्या की बात करने को मजबूर किया है। एक बार जनता ने फिर बीजेपी को जितवा दिया तो सपा के नेता कारसेवा के लिए पहुंचने लगेंगे।

‘भगवान के बिना संभव नहीं था इतना समर्थन’
रोड शो की शुरुआत से पहले बस की छत से समर्थकों को संबोधित करते हुए अखिलेश यादव ने भगवान विष्णु के अवतार श्री राम, भगवान श्रीकृष्ण और भगवान परशुराम को नमन किया। संतों, गुरुजनों को नमन करते हुए अखिलेश यादव ने कहा, ”जिस तरह का समर्थन आज हमें दिखाई दे रहा है, यह समर्थन बिना भगवान श्रीराम के संभव नहीं था। इसलिए कहीं ना कहीं भगवान की कृपा है कि यह समर्थन जनता का मिल रहा है। जहां कण-कण में राम है, ऐसी देश की संस्कृति और हमारी गंगा-जमुनी तहजीब। हम मिलीजुली संस्कृति को बचाकर बीजेपी का सफाया करेंगे।” अयोध्या का करेंगे विकास, व्यापारियों को नहीं होने देंगे नुकसान: अखिलेश
अखिलेश यादव ने सपा सरकार बनने पर अयोध्या के विकास का वादा करते हुए कहा, ”इस मौके पर यह कहना चाहता हूं कि यह चुनाव देश का सबसे बड़ा चुनाव होने जा रहा है। अयोध्या विधानसभा का भी आशीर्वाद मिले। मैं समय-समय पर अयोध्या के संतों, बाबागण, गुरुजनों को भरोसा दिलाता हूं कि यह पवित्र नगरी है। यह पुण्य की धरती है। यहां के नगर निगम का जो पहले वादा किया था, कि घर का और पानी का टैक्स पूरा माफ होगा।। ना सिर्फ ये दो टैक्स माफ होंगे, उसके साथ 300 यूनिट बिजली माफ होगी। मैं अपने तमाम लोगों को भरोसा देता हूं कि किसी पुण्य काम के लिए जमीन लेनी पड़ेगी, किसानों से जमीन ली जाएगी तो उन्हें सर्किल रेट बढ़ाकर छह गुणा मुआवजा दिया जाएगा। व्यापारियों का नुकसान ना हो, विकास ऐसा होगा कि व्यापारी का नुकसान ना हो और लोग हमारे आध्यात्म संस्कृति को जानें।”

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

‘राजपूत नहीं, गुर्जर शासक थे पृथ्वीराज चौहान’, गुर्जर महासभा की मांग- फिल्म में दिखाया जाए ‘सच’

नयी दिल्ली 21 मई 2022 । राजस्थान के एक गुर्जर संगठन ने दावा किया कि …