मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> MP में जीका वायरस को लेकर अलर्ट, गर्भवती महिलाएं राजस्थान न जाएं

MP में जीका वायरस को लेकर अलर्ट, गर्भवती महिलाएं राजस्थान न जाएं

भोपाल 2 नवम्बर 2018 । जीका वायरस समेत मच्छरों से होने वाली अन्य बीमारियों से निपटने की तैयारियां देखने भारत सरकार की एक टीम मंगलवार से प्रदेश दौरे पर है। टीम में डॉक्टर व मच्छर जनित बीमारियों के विशेषज्ञ शामिल हैं। टीम ने प्रदेश में स्वास्थ्य विभाग के अफसरों के साथ बैठक कर जीका वायरस को लेकर सतर्क रहने को कहा है।

टीम के सदस्यों ने सलाह दी है कि स्वास्थ्य विभाग इस बात का प्रचार-प्रसार करे कि गर्भवती महिलाएं जीका प्रभावित राजस्थान न जाएं। इसकी वजह यह है कि इस बीमारी से प्रभावित होने पर गर्भस्थ शिशु भी संक्रमित हो सकता है। टीम ने यह भी कहा है यह बीमारी डेंगू फैैलाने वाले मच्छरों से होती है, जो मध्यप्रदेश के सभी जिलों में हैं। इस बीमारी के लक्षण भी डेंगू जैसे ही होते हैं, इसलिए विशेष सतर्कता बरतने की जरूरत है।

टीम में नेशनल सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल (एनसीडीसी), इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) और नेशनल वेक्टर बॉर्न डिसीज कंट्रोल प्रोग्राम (एनवीडीसीपी) के अधिकारी शामिल हैं। टीम ने भोपाल के हमीदिया, जेपी और कमला नेहरू गैस राहत अस्पताल के अलावा सीहोर के जिला अस्पताल का निरीक्षण किया है।

टीम के सदस्यों ने जीका वायरस को लेकर विभाग की तैयारियों और कमियों की जानकारी ली। टीम ने स्वास्थ्य विभाग के अफसरों को आगाह किया है कि मप्र के पड़ोसी राज्य राजस्थान में दो महीने के भीतर जीका वायरस के 144 केस आ चुके हैं। लिहाजा राजस्थान से आने वाले लोगों पर खास नजर रखने जरूरत है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

Endocrine Disruptors Linked To Several Cancers: Dr Purohit

Bhopal 07.03.2021. Endocrine disrupting chemicals (EDCs) are an exogenous [non-natural] chemical, or mixture of chemicals, …