मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> मध्यप्रदेश में अलर्ट जारी, प्रशासन ने छुट्टी पर लगाई रोक

मध्यप्रदेश में अलर्ट जारी, प्रशासन ने छुट्टी पर लगाई रोक

भोपाल 28 फरवरी 2020 । दिल्ली हिंसा को देखते हुए मध्यप्रदेश में अलर्ट जारी कर दिया गया है। सीएए और एनआरसी को लेकर दिल्ली में हुई हिंसा में 30 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। मध्यप्रदेश के उज्जैन सहित महानगरों और हर जिले में अलर्ट जारी किया गया है। पुलिस मुख्यालय ने सभी जिलों के पुलिस अधीक्षकों को अलर्ट जारी करते हुए मुस्तैद रहने को कहा है। इसके साथ ही इन दिनों अवकाश पर भी जाने पर रोक लगाई गई है। जिलों में अतिरिक्त पुलिस बल भेजा गया है। वहीं, सोशल मीडिया पर नजर रखने के निर्देश दिए गए हैं।

अलर्ट जारी करते हुए कहा गया है सोशल मीडिया में भड़काऊ पोस्ट करने वालों और भड़काऊ भाषण देने वालों के खिलाफ तत्काल कार्यवाही की जाए। इसके साथ-साथ उन लोगों पर भी नजर रखी जाए जो प्रदेश के अमन और शांति को बिगाड़ सकते हैं।

मध्यप्रदेश के जबलपुर में अलर्ट जारी किया गया है। जिले के सभी थाना प्रभारी और साइबर सेल को सतर्क कर दिया गया है। जबलपुर पुलिस अधीक्षक के अनुसार दिल्ली में हुई हिंसा के मद्देनजर जबलपुर में पुलिस अलर्ट है। सभी थाना प्रभारियों को सतर्क किया गया है। वहीं सोशल मीडिया पर भी नजर रखी जा रही है। बता दें कि नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ जबलपुर में भी हिंसा हुई थी।

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में भी अलर्ट जारी कर दिया गया है। साइबर सेल भी पूरा तरह से सक्रिय है। इसके साथ ही ग्वालियर और इंदौर में भी अलर्ट जारी किया गया है। बता दें कि मध्य प्रदेश में कई जगहों पर सीएए के विरोध में धरना-प्रदर्शन किए जा रहे हैं। ऐसे में दिल्ली में हुए उपद्रव को देखते हुए प्रशासन अलर्ट हो गया है। सभी जिलों के पुलिस अधीक्षकों को एहतियात के तौर पर मुस्तैद रहने के निर्देश दिए गए हैं। इसके साथ ही आने वाले त्यौहारों को देखते हुए प्रशासन ने निर्देश दिए हैं।

मिल संचालकों के श्रीजी ट्रेडर्स, रामदेव शुगर मिल में भोपाल समेत कई जिलों पर कार्रवाई

आयकर विभाग की स्पेशल इन्वेस्टिगेशन विंग ने गुरुवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए रामदेव शुगर मिल और माहेश्वरी ग्रुप के 14 ठिकानों पर एक साथ छापा मारा। छापे की ये कार्रवाई भोपाल समेत होशंगाबाद, पिपरिया, नरसिंहपुर और इंदौर में की गई है। अल सुबह मारे गए छापे में बड़े पैमाने पर नकदी और कर चोरी के दस्तावेत बरामद हुए हैं। विभाग शुक्रवार को छापे से जुड़ी अहम जानकारियों का खुलासा कर सकती है। आयकर विभाग के करीब 100 अफसर व कर्मचारियों की टीम ने एक साथ 14 ठिकाने पर मारा है।

भोपाल में रामदेव शुगर मिल संचालकों और माहेश्वरी ब्रदर्स के कई प्रतिष्ठानों पर एक साथ आयकर टीम ने छापा मारा। मिल संचालकों के श्रीजी ट्रेडर्स, रामदेव शुगर मिल होशंगाबाद, बैतूल, भोपाल, नरसिंहपुर सहित कई मिलों पर टीम ने कार्रवाई की। सुगर मिल के संचालकों के भोपाल के ग्रीन हाइट स्थित आवास पर छापा मारा गया।

होशंगाबाद, पिपरिया और नरसिंहपुर में माहेश्वरी ग्रुप के सभी ठिकानों पर आयकर के छापे पड़े। होशंगाबाद में रामदेव शुगर मिल पर छापा पड़ा। यहां माहेश्वरी ब्रदर्स के कई प्रतिष्ठानों पर एक साथ टीम ने कार्रवाई की। यहां सालीचौका की नर्मदा शुगर मिल पर पहुंची और कार्रवाई की। चार गाड़ियों में आयकर विभाग की करीब 20 से 25 सदस्यीय टीम यहां पहुंची थी। जिन फैक्ट्रियों पर छापा पड़ा उनमें शुगर मिल के साथ एथेनॉल और बिजली बनाने का काम भी किया जाता है।

इंदौर, बुरहानपुर, खंडवा और सेंधवा में संयुक्त कार्रवाई
शुक्रवार को ही बड़वानी में आयकर विभाग की टीम ने सेंधवा और खेतिया के 5 व्यवसायियों के यहां छापा मारा। ये कार्रवाई सेंधवा के रत्ना कॉटन और यश कॉटन पर की गई। खेतिया की सुगम इंडस्ट्री, घनश्याम टोबेको और घनश्याम ट्रेडिंग पर छापा पड़ा। ये छापे आयकर विभाग के डायरेक्टर जनरल इन्वेस्टिगेशन राजेश टुटेजा के नेतृत्व में की जा रही है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

किश्तवाड़ में बादल फटने से पांच की मौत, 40 से ज्यादा लोग लापता

नई दिल्ली 28 जुलाई 2021 ।  जम्मू-कश्मीर में भारी बारिश का कहर देखने को मिला …