मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> इसी महीने के आखिरी हफ्ते से पहले ही अमित शाह दे देंगे इस्तीफा

इसी महीने के आखिरी हफ्ते से पहले ही अमित शाह दे देंगे इस्तीफा

नई दिल्ली 7 जून 2019 ।  ‘एक व्यक्ति एक पद’ के सिद्धांत का मानते हुए बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जल्द ही अपने पद से इस्तीफा देने वाले हैं। सरकार में गृहमंत्री बनने के बाद उन पर दबाव हर दिन बढ़ता जा रहा है। लेकिन पार्टी के सामने दिक्कत यह है कि अध्यक्ष जैसे महत्वपूर्ण जिम्मेदारी किसे दी जाये। अमित शाह के निर्देशन में बीजेपी ने कांग्रेस को राजनीति के नैपथ्य में जाने को मजबूर कर दिया है। अब पार्टी का थिंक टैंक चाहता है ता है कि ऐसी ही नीतियों के साथ काम करने वाला अध्यक्ष होना चाहिए।

बीजेपी में शीर्ष स्तर पर बदलावों पर एक सप्ताह के भीतर ही अमल होने की शुरुआत हो सकती है। मौजूदा अध्यक्ष अमित शाह का बीते साल दिसंबर में ही तीन साल का कार्यकाल पूरा हो गया था। इसके बाद लोकसभा चुनावों के मद्देनजर उन्हें 6 महीने का विस्तार दिया गया था। इसकी अवधि जून में ही समाप्त हो रही है।

अमित शाह के विकल्प के तौर पर जेपी नड्डा के नाम पर विचार किया जा रहा है। शायद इसी के चलते उन्हें केंद्रीय कैबिनेट में भी शामिल नहीं किया गया है। नड्डा को संगठन का जानकार और साफ छवि का नेता माना जाता है। हालांकि एक संभावना यह भी है कि अमित शाह की ओर से इस्तीफा दिए जाने के बाद अध्यक्ष के चुनाव की दो महीने की प्रक्रिया पूरी करने तक के लिए कोई वर्किंग प्रेजिडेंट चुन लिया जाए। कुछ रिपोर्ट्स में यह भी कहा जा रहा है कि नड्डा को उनके निर्वाचन से पहले वर्किंग प्रेजिडेंट के तौर पर भी मनोनीत किया जा सकता है। हिमाचल प्रदेश से आने वाले जेपी नड्डा संसदीय बोर्ड के सदस्य हैं। उनके अलावा भूपेंद्र यादव का भी नाम चल रहा है, जो फिलहाल पार्टी के महासचिव हैं और उन्हें अमित शाह और नरेंद्र मोदी का करीबी माना जाता है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

राहुल ने जारी किया श्वेतपत्र, बोले- तीसरी लहर की तैयारी करे सरकार

नई दिल्ली 22 जून 2021 । कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस …