मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> PM की छूट का सेना ने उठाया फायदा, कश्मीर पर तैनात हुए 540 कमांडो

PM की छूट का सेना ने उठाया फायदा, कश्मीर पर तैनात हुए 540 कमांडो

नई दिल्ली 28 फरवरी 2019 । पुलवामा में सीआरपीएफ की बस पर हुए आ,त्मघाती ह,मले के विरोध में जम्मू में भड़की ¨हसा से निपटने के लिए सेना की 9 कॉलम को संवेदनशील इलाकों में तैनात किया गया है। इसमें सेना का हेलीकॉप्टर भी स्थिति पर नजर रखे हुए है।

टाइगर डिवीजन की 9 आंतरिक सुरक्षा कॉलम को शहर के संवेदनशील इलाके जानीपुर, गुज्जरनगर, जानीपुर, शहीदी चौका, तलाब खटिका, गांधी नगर आदि इलाकों में तैनात किया गया है। एक कॉलम में 60 जवान होते हैं। सेना के जवान हेलीकॉप्टर से भी स्थिति पर नजर रखे हुए हैं।

पुलवामा में हुए आ,तंकी हमले पर पाकिस्तान को कड़ा संदेश दिया और कहा था कि आतं,क के सरपरस्तों को इसकी कीमत चुकानी पड़ेगी।

इस बीची सीमा पर भारतीय जवानों से 200 तोपें तैनात कर दी गई थी। अब आर पार का फैसला होगा। भारत की सेना पाकिस्तान पर कार्रवाही करने की पूरी तैयारी कर चुकी है। किसी भी वक्त खबर आ सकती है कि भारत ने पाकिस्तान पर धावा बोल दिया है।

गुरुवार को पुलवामा में हुए कायराना आ,तंकी हमले में सीआरपीएफ के 44 जवान शहीद हो गए थे। इसके बाद अब पूरे देश में रोश है। पाकिस्तान स्थित आ,तंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने इस आतंकी हमले की जिम्मेदारी ली है। जैश का सरगना आ,तंकी मौलाना मसूद अजहर है। इसके बाद अभी अभी CRPF के जवानों ने कहा है कि इस ह,मले का जवाब हम बहुत जल्दी देंगे, हम चुप नहीं बैठेंगे। हम ये ह,मला नहीं भूलेंगे ना माफ करेंगे।

सुत्रों के हवाले से खबर आ रही हैं कि 24 घंटे अंदर ही पाकिस्तान पर भारत धावा बोल सकता है। वहीं बॉर्डर पर ज्यादा से ज्यादा सेना तैनात की जा रही हैं।

कश्मीर में सेना ने पूरे गांव को घेरा-छिपे हैं 20-25 आ’तंकी-आज सब 72 हूरों से मिलेंगे

दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिले में आ’तंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ जारी है। अब तक की कार्रवाई में पांच आ’तंकी मार गिराए गए हैं। केल्लम गांव में छिपे दहशतगर्दों को सेना के जवानों ने चारों ओर से घेर रखा है। दोनों ओर से लगातार फायरिंग चल रही है। गांव में 20-25 आ’तंकी छिपे हैं ।

आ’तंकी इस गांव में कब घुसे, फिलहाल इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है। जानकारी के मुताबिक बीती रात सुरक्षा बलों को केल्लम गांव में कुछ संदिग्ध लोगों की गतिविधि के बारे में सूचना मिली। इसके बाद सेना के जवानों ने पूरे गांव को चारों ओर से घेर लिया और तलाशी अभियान शुरू की। इससे बौखलाए आ’तंकियों ने सेना पर गोलीबारी शुरू कर दी। काफी देर तक सुरक्षाकर्मियों इन आ’तंकियों से आत्मसमर्पण की अपील की लेकिन वो नहीं माने और लगातार फायरिंग करते रहे। इसके बाद सेना ने भी जवाबी कार्रवाई करते हुए उन्हें मुंहतोड़ जवाब दिया। फिलहाल दोनों तरफ से लगातार फायरिंग की खबरें आ रही हैं।

इससे पहले बुधवार को पुलवामा में भी सुरक्षा बलों और आ’तंकियों के बीच मुठभेड़ हुई थी। पुलिस के मुताबिक लित्तर इलाके के चकूरा गांव में आ’तंकियों की मौजूदगी की जानकारी मिली थी। इसके बाद सुरक्षा बलों ने इलाके को चारों ओर से घेर लिया और खोज अभियान शुरू किया। जैसे ही छिपे आ’तंकियों के चारों ओर घेरे को कड़ा किया गया तो उन्होंने सुरक्षा बलों पर फायरिंग शुरू कर दी। वहीं 1 फरवरी को भी पुलवामा के एक गांव में सुरक्षाबलों के साथ आ’तंकियों की मुठभेड़ हुई थी जिसमें जैश-ए-मोहम्मद के दो आ’तंकवादी मारे गए थे।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

भारत में कोरोना का सबसे बड़ा अटैक, एक दिन में पहली बार 2 लाख 34 हजार नए केस

नई दिल्ली 17 अप्रैल 2021 । कोरोना की दूसरी लहर हर दिन नए रिकॉर्ड बना …