मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> अशोक गहलोत बोले- अमित शाह अपना घर देखें, वसुंधरा तक उनकी मीटिंग में नहीं आईं

अशोक गहलोत बोले- अमित शाह अपना घर देखें, वसुंधरा तक उनकी मीटिंग में नहीं आईं

नई दिल्ली 13 सितम्बर 2018 । राजस्थान में जैसे-जैसे चुनाव नजदीक आ रहा है, वैसे ही नेताओं की बयानबाजी तेज होने लगी है. मंगलवार को जयपुर में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर हमला बोला. वहीं अब कांग्रेस महासचिव अशोक गहलोत ने बीजेपी अध्यक्ष पर पलटवार किया है.

अशोक गहलोत ने कहा कि अमित शाह जी को अपना घर संभालना चाहिए. गहलोत ने कहा, ”अमित शाह ने पूरा जोर गजेन्द्र सिंह शेखावत को अध्यक्ष बनाने के लिए लगाया तब भी उनको वसुंधरा जी के सामने झुक कर सलाम करना पड़ा. उन्हें अपना फैसला रद्द करना पड़ा. ऐसे व्यक्ति को कांग्रेस को सलाह देने का क्या अधिकार है?”

गहलोत ने कहा कि अमित शाह ने मंगलवार को जिस भाषा में बात की वो बहुत ओछी है. उनको पता नहीं कि राजस्थान की परंपराएं दूसरी हैं. यहां हम बहुत ही प्यार, मोहब्बत और भाईचारे से बात करते हैं. गहलोत ने आगे कहा कि जो पार्टी शासन कर रही है उसका राष्ट्रीय अध्यक्ष ऐसे ओछी भाषा में बात करे तो फिर और लोगों से क्या उम्मीद कर सकते हैं?

वसुंधरा राजे पर शाह को विश्‍वास नहीं

राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि अमित शाह ने राज्य के बारे में विशेष बातें नहीं की. वह नरेंद्र मोदी जी के नाम का लेखा-जोखा देते रहे. अमित शाह को लगता है कि मोदी जी आएंगे और जादू की छड़ी घुमा देंगे. मुख्‍यमंत्री वसुंधरा जी पर उनको तनिक भी विश्वास नहीं है इसलिए वह शाह की सभा में मौजूद नहीं थीं. गहलोत ने आगे कहा कि अमित शाह के घमंड का जवाब आने वाले चुनाव में जनता देगी.

गहलोत ने कहा कि राजस्थान में कांग्रेस के पक्ष में माहौल बना हुआ है. जिस पार्टी के पक्ष में माहौल बनता है उस पार्टी में टिकट के दावेदारों की संख्या बढ़ जाती है. हमारे सभी वर्कर समझदार हैं. गहलोत ने कहा कि प्रदेश में भ्रष्टाचार अपने चरम पर है. बजरी ने राज्य की हालत खराब कर रखी है. गहलोत ने बताया कि राहुल गांधी 20 सितंबर को राजस्थान आ रहे हैं. इसके बाद उनका आना-जाना लगा रहेगा.

भावनाओं को ध्यान में रखकर उम्‍मीदवार का नाम तय

बता दें कि अमित शाह ने अपनी रैली में कांग्रेस पर जमकर हमला बोला था. उन्होंने कहा था कि कांग्रेस के मुख्यमंत्री का चेहरा अभी तय नहीं है. इसके जवाब में गहलोत ने कहा कि कांग्रेस में सब लोग मिलकर चुनाव लड़ते आए हैं. पहले भी हम बिना उम्मीदवार के चुनावी मैदान में उतर चुके हैं. कांग्रेस हाई कमान उम्मीदवार का नाम, सबकी भावनाओं को ध्यान में रखकर तय करता है.

गहलोत ने कहा कि शाह को राजस्थान की इन बातों का भी ज्ञान नहीं है. गहलोत ने शाह के उस बयान पर भी हमला बोला जिसमें बीजेपी अध्यक्ष ने कहा था कि अगला चुनाव जीत जाएंगे तो 50 साल तक हमें कोई नहीं हरा सकेगा. कांग्रेस नेता ने कहा, ”इनका लोकतंत्र में विश्वास नहीं है. उन्होंने यहां अपनी फासिस्ट सोच को प्रकट कर दिया है.”

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

आयुष्मान भारत ने लाखों लोगों को गरीबी के दलदल में फंसने से बचाया: पीएम नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली 27 सितम्बर 2021 । पीएम नरेंद्र मोदी ने सोमवार को आयुष्मान भारत डिजिटल …