मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> आशु गुरु का निकला क्रिमिनल रिकॉर्ड, आश्रम में किया था मां-बेटी से रेप

आशु गुरु का निकला क्रिमिनल रिकॉर्ड, आश्रम में किया था मां-बेटी से रेप

नई दिल्ली 17 सितम्बर 2018 । मां-बेटी से दिल्ली के आश्रम में रेप करने के आरोपी ‘आशु भाई गुरुजी’ के बारे में पता चला है कि पहले भी वह आपराधिक मामलों में आरोपी रहा है. आपको बता दें कि आश्रम की पड़ताल में यह भी सामने आया था कि आशु महाराज असल में आसिफ खान है. कई साल पहले भी इस शख्स को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया था. आशु भाई गुरुजी’ पर 2003 में आईपीसी की धारा 328/508/420/34 के तहत दिल्ली के मुखर्जी नगर थाने में मुकदमा दर्ज किया गया था. मामले में सहयोगी विरेन्द्र सिंह उर्फ बबली को भी आरोपी बनाया गया था. ‘आशु भाई गुरुजी’ और बबली को गिरफ्तार किया गया था, लेकिन बाद में जमानत मिल गई थी. 2003-04 में फिर पुलिस की नजर में बाबा आया था. तब बाबा के रोहणी आश्रम के पड़ोसी ने मारपीट का इल्जाम लगाया था. मारपीट के इस मामले में बाबा पर पुलिस ने आईपीसी की धारा 107,51 के तहत केस दर्ज कर गिरफ्तार किया था.बाबा पर आरोप है कि उन्होंने एक महिला को बोला कि अपनी नाबालिग बेटी को लेकर आओ और फिर उसे मालिश करने के नाम पर उसके साथ रेप किया. अब उसकी जालसाजी की अन्य करतूतें सामने आ रही हैं. आशु भाई गुरुजी को तलाशते हुए जब आज तक की टीम उसके आश्रम पहुंची तो एक चौंकाने वाला खुलासा हुआ.बाबा के आश्रम में जाने पर पता चला है कि ज्योतिषाचार्य का चोला ओढ़े इस बाबा का असली नाम है आसिफ खान. निर्वाचन आयोग की वोटर लिस्ट में भी आशु भाई गुरुजी की फोटो के सामने उसका नाम आसिफ खान लिखा हुआ है. उसके बेटे की फोटो के सामने उसका नाम समर खान लिखा हुआ है.एक महिला ने आरोप लगाया था कि बाबा ने दिल्ली के अपने आश्रम में उसके साथ कई सालों तक रेप किया. महिला के मुताबिक, बाबा के बेटे और दोस्तों ने भी उनके साथ यौन शोषण किया.आरोपों के मुताबिक, महिला की बेटी को पैरों में दर्द होता था, उसे ठीक करने के बहाने ज्योतिषाचार्य आशु भाई उस मासूम बच्ची को नग्न कर उसकी मालिश करता था.

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

कोरोना विस्फोट के बीच क्या लगेगा लॉकडाउन? पीएम मोदी की आज बड़ी बैठक

नई दिल्ली 19 अप्रैल 2021 । कोरोना की दूसरी लहर की वजह से देश में …