मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> धूमधाम से नगर भ्रमण पर निकले बाबा महाकाल

धूमधाम से नगर भ्रमण पर निकले बाबा महाकाल

उज्जैन  9 नवंबर 2021 ।भूत भावन भगवान श्री महाकाल की कार्तिक एवं अगहन माह में निकलने वाली प्रथम सवारी सोमवार को धूमधाम से निकली। बाबा महाकाल ने भक्तों को दर्शन दिये। नगर भ्रमण पर निकलेंगे, बाबा महाकाल का जोरदार स्वागत किया गया। वहीं वैकुण्ठ चतुर्दशी पर हरि का हर से मिलन होगा, इसकी तैयारियां भी चल रही है। भगवान महाकाल की कार्तिक एवं अगहन माह में निकलने वाली पहली सवारी सोमवार को श्री महाकालेश्वर मंदिर के सभामंडप से शाम 4 बजे विधिवत पूजन-अर्चन के बाद निकली। बाबा महाकाल पालकी में विराजित होकर नगर भ्रमण पर निकले। सवारी के पहले सभामंडप में भगवान महाकाल के चंद्रमौलेश्वर रजत स्वरूप का मुख्य पुजारी पं. घनश्याम शर्मा द्वारा पूजन किया इसके पश्चात महाकाल मंदिर प्रशासक गणेश धाकड़ ने भी पूजन किया। इस दौरान पुजारी, प्रशासनिक व पुलिस अधिकारी मौजूद थे। शाही-ठाटबाट से निकली सवारी
बाबा महाकाल की सवारी श्री महाकालेश्वर मंदिर से शाही ठाटबाट के साथ शुरू हुई, जहां पुलिस द्वारा राजा महाकाल को गार्ड गार्ड ऑफ़ ऑनर दिया गया। सवारी बड़ा गणेश मंदिर के सामने होते हुए हरसिद्धि मंदिर से नृसिंह घाट रोड स्थित सिद्ध आश्रम के सामने से शिप्रा नदी स्थित रामघाट पहुंची। रामघाट पर मां शिप्रा के जल से बाबा महाकाल का अभिषेक किया गया, इसके बाद बाद सवारी रामानुजकोट, हरसिद्धि पाल से हरसिद्धि मंदिर के सामने होते हुए बड़ा गणेश मंदिर से होकर श्री महाकालेश्वर मंदिर वापस पहुंची। कब-कब निकलेंगी सवारी
श्री महाकालेश्वर मंदिर समिति प्रशासक गणेश धाकड़ ने बताया कि प्रतिवर्षा अनुसार इस वर्ष भी कार्तिक-अहगन माह में बाबा महाकाल की चार सवारियां निकलेंगी, जिनमें पहली सवारी सोमवार यानि 8 नवंबर को नगर भ्रमण पर निकली है। अब दूसरी सवारी 15 नवंबर, तीसरी सवारी 22 नवंबर और चौथी व शाही सवारी 29 नवंबर को निकाली जाएगी। हरिहर मिलन (वैकुण्ठ चतुर्दशी) की सवारी में होगा। मंत्री तुलसी सिलावट ने किये दर्शन
उज्जैन दौरे पर पहुंचे प्रदेश सरकार के मंत्री तुलसी सिलावट ने सोमवार को महाकाल मंदिर पहुंचकर बाबा महाकाल के दर्शन कर पूजा-अर्चना की। इस दौरान उनके साथ उनकी धर्मपत्नी भी मौजूद थी। कोरोना गाईड लाईन का पालन करते हुए नंदी हाल के बाहर से ही मंत्री तुलसी सिलावट ने पूजा-अर्चना कर बाबा महाकाल का आर्शीवाद लिया और प्रदेश और देश की उन्नति की कामना की।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

ज्ञानवापी मस्जिद का सर्वे पूरा, हिंदू पक्ष ने किया दावा-‘बाबा मिल गए’; कल कोर्ट में पेश होगी रिपोर्ट

नयी दिल्ली 16 मई 2022 । ज्ञानवापी मस्जिद का सर्वे पूरा हो गया है। तीसरे …