मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> बैंकों ने एक साल में बंद किए 10 हजार ATM! RBI रिपोर्ट में खुलासा

बैंकों ने एक साल में बंद किए 10 हजार ATM! RBI रिपोर्ट में खुलासा

नई दिल्ली 31 दिसंबर 2018 । रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) की ओर से जारी वार्षिक रिपोर्ट के मुताबिक पिछले एक साल के दौरान बैंकों के एटीएम की संख्या 10 हजार कम हो गई है. एटीएम की संख्या कम होने का मुख्य कारण कुछ सार्वजनिक बैंकों द्वारा अपनी शाखाओं की संख्या को तार्किक बनाना है. बैंक की शाखाओं में लगे एटीएम की संख्या इस दौरान 1.09 लाख से कम होकर 1.06 लाख पर आ गयी. हालांकि इस दौरान शाखाओं के अलावा लगे एटीएम की संख्या 98,545 से बढ़कर एक लाख पर पहुंच गयी.

आरबीआई की वित्त वर्ष 2017-18 रिपोर्ट में कहा है, वित्त वर्ष 2017-18 में सरकारी बैंकों के एटीएम की संख्या 1.48 लाख से कम होकर 1.45 लाख पर आ गयी. इस दौरान निजी बैंकों के एटीएम की संख्या 58,833 से बढ़कर 60,145 पर पहुंच गयी.

रिपोर्ट में कहा गया कि अप्रैल 2018 से अगस्त 2018 के दौरान एटीएम की संख्या और कम होकर 2.04 लाख पर आ गयी. इसमें छोटे वित्तीय बैंकों और भुगतान बैंकों के एटीएम शामिल नहीं हैं. इसका कारण डिजिटल तरीके के इस्तेमाल में वृद्धि आना है. इस दौरान प्वायंट ऑफ सेल टर्मिनलों की संख्या में तेजी से वृद्धि दर्ज की गयी. व्हाइट लेवल एटीएम की संख्या भी इस दौरान बढ़कर 15000 के पार हो गयी.

वित्त वर्ष 2017-18 के दौरान एकीकृत भुगतान इंटरफेस (यूपीआई) के जरिये कुल 1,090 अरब रुपये के 91.5 करोड़ लेन देन हुए. यह वित्त वर्ष 2018-19 में की प्रथम छमाही में बढ़कर 157.9 करोड़ लेन देन पर पहुंच गया. इस दौरान यूपीआई के जरिये 2,670 अरब रुपये का लेन-देन हुआ.

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

वेनेजुएला ने जारी किया अब तक का सबसे बड़ा 10 लाख का नोट

नई दिल्ली 9 मार्च 2021 । साउथ अमेरिका महाद्वीप का देश वेनेजुएला दुनिया का ऐसा …