मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> भवानीमंडी के संतरे की दक्षिण भारत और बांग्लादेश में मांग तेज

भवानीमंडी के संतरे की दक्षिण भारत और बांग्लादेश में मांग तेज

भवानीमंडी 2 मार्च 2019 । भवानीमंडी के संतरे की दक्षिण भारत और बांग्लादेश में मांग तेजभवानीमंडी के संतरे की कोलकाता बॉर्डर के साथ दक्षिण भारत और बांग्लादेश में खूब मांग बढ़ गई है। वहीं इन दिनों यूपी…भवानीमंडी के संतरे की कोलकाता बॉर्डर के साथ दक्षिण भारत और बांग्लादेश में खूब मांग बढ़ गई है। वहीं इन दिनों यूपी आदि जगह ठंड के चलते देसी खपत कमजोर है। उधर, संतरा फल के भाव में ज्यादा कोई उछाल नहीं आने से ज्यादा संतरा थोक में 10 से 15 रुपए किलो ही बिक रहा है। बहरहाल, कृषिमंडी स्थित फलमंडी और बाहर बाग बिक्री से मिलाकर इस समय रोज के करीब 150 ट्रक संतरा फल की निकासी होने लगी है। मंडी में भीड़ रह रही है।
जयपुर कोल्ड स्टोरेज में जमा
व्यापारियों ने इस समय संतरा फल का भाव कम होने और आगे तेज गर्मी में बिक्री के लिए जयपुर आदि के कोल्ड स्टोरेज में भी संतरा जमा करना शुरू कर दिया है। भवानीमंडी में भी कोल्ड स्टोर है, लेकिन यह खपत मंडी से दूर होने और आगे गर्मी के समय तुरंत ट्रक नहीं मिल पाने की समस्या के चलते व्यापारी यहां पर संतरा जमा करना पसंद नहीं करते हैं।
भवानीमंडी। फलमंडी से एक सौ से भी ज्यादा संतरा फल ट्रकों की निकासी हुई। ट्रकों में लदान के लिए संतरे को कैरेट में जमा करते श्रमिक।
लदान मिलने से दो सौ किमी तक से खाली आ रहे ट्रक
इन दिनों कृषिमंडी में जिंस के साथ ही संतरा फल की जोरदार आवक से अच्छा लदान निकल रहा है। तुरंत और लंबी दूरी का लदान मिल जाने की उम्मीद से कोटा, उज्जैन तक से खाली ट्रक आने लगे हैं। ट्रांसपोर्टर चेतन गहलोत ने गुरुवार को बताया कि अभी सबसे ज्यादा कलकत्ता के लिए निकासी हो रही है। 14 चक्का ट्रकों का कलकत्ता गुर्जर डागा को 1.26 लाख रुपए, करीमगंज का 1.95 लाख रुपए, डोगी बॉर्डर को 1.80 लाख रुपए, मेहंदीपुर बॉर्डर का 1.40 लाख रुपए भाड़ा हो गया है। इसके अलावा बेंगलोर, छपरा बिहार की निकासी हो रही है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

पंजाब कांग्रेस का सस्पेंस बरकरार, नाराज सुनील जाखड़ को अपनी फ्लाइट में दिल्ली लाए राहुल-प्रियंका गांधी

नई दिल्ली 23 सितम्बर 2021 । चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बनाने के बावजूद पंजाब …