मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> बीमारू एमपी आज एमपी मतलब मैक्जिमम प्रोग्रेस : मोदी

बीमारू एमपी आज एमपी मतलब मैक्जिमम प्रोग्रेस : मोदी

ग्वालियर 17 नवम्बर 2018 । प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि कांग्रेस की परंपरा है कि मैं नहीं तो कोई नहीं। यही एक सूत्र कांग्रेस का जीवन मंत्र रहा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि सभा के बाद सभी लोग संकल्प लेकर जाएं कि ग्वालियर सहित सभी क्षेत्रों में कांग्रेस को पैर नहीं रखने देंगे। उन्होंने कहा कि आज मध्यप्रदेश का मतलब ही बदल गया है। पहले मप्र बीमारू राज्य था आज मैक्जिमम प्रोगे्रस वाला राज्य बन गया है।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज मध्यप्रदेश की दूसरी चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कांग्रेस के ग्वालियर अंचल के दिग्गज नेता से पूछा कि वह अपने कांग्रेस के नेताओं से पूछकर बताएं कि उन्होंने उनकी दादी राजमाता से लोकमाता बनी भाजपा नेता विजया राजे सिंधिया को आपात काल के समय १९ महीने कौन से गुनाह में जेल में डाला। उन्हें यातनाएं क्यों दी। यदि वह निर्दोष थीं तो कांग्रेस ने यह पाप क्यों किया। उन्होंने लोकतंत्र के नाम पर गला क्यों घोंटने का प्रयास क्यों किया। इसका जबाब उन्हें देना चाहिए। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि इतिहास गबाह है कि कांग्रेस के ५५ वर्ष बनाम भाजपा के १५ वर्ष । उन्होंने कहा कि वह चुनौती देते हैं कि जनता ५५ साल और १५ साल को तराजू पर तौल लें। मप्र पहले बीमारू राजय था और आज वह मैक्जिमम प्रोग्रेस वाला राज्य की श्रेणी में है। उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार ने गांव में गरीबों को घर देने में पूरे हिन्दुस्तान में नंबर वन है। वहीं गांव में सडकें भी पहले की तुलना में बेहतर हुई है। उन्होंने मध्यप्रदेश की बात करते हुए कहा कि आज मप्र कृषि में नंबर एक पर लगातार चार साल से बना हुआ है। किसानों को २४ घंटे बिजली मिल रही है। उन्होंने कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह अपना एक नेता सिरमौर के लिए नहीं चुन पा रहे हैं। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश के आठ इलाकों में आठ तरह की बातें कांग्रेस नेता करते हैं। उन्होंने कहा कि आज भी कांग्रेस आपातकाल की मनोदशा में जी रही है। अब जमाना बदल गया है। ५० साल बीत गये हैं। झूठ पल पल चुनौती बन जाता है। छिंदबाडा ग्वालियर में क्या बोला सब कुछ पता चल जाता है।
उन्होंने कहा कि यदि कांग्रेस नेताओं में हिम्मत है तो वह अपने सिरमौर का नाम बताएं। उन्होंने कहा कि जब कांग्रेस अपना सिरमौर ही नहीं तय कर पा रही है तो आपका भविष्य कैसे तय करेगी। प्रधानमंत्री ने कहा कि ग्वालियर को उन्होंने स्मार्ट सिटी में लाकर खडा किया है। ग्वालियर ने भी स्मार्ट सिटी का सपना देखा है अब देश में बनने वाली ७ स्मार्ट सिटी में ग्वालियर के आने और २३ हजार करोड की राशि मिलने पर शहर कैसा हो जाएगा। यह आप अच्छी तरह जान सकते हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा का नारा है बालक बालिकाओं को पढाई, युवाओं को कमाई और किसानों को सिंचाई और बुजुर्गो को दवाई। उन्होंने प्रधानमंत्री मुद्रा योजना की बात कहते हुए बताया कि मप्र में एक करोड युवाओं ने बैंक से दस हजार से लेकर ५० लाख तक का ऋण लेकर आज दो से चार युवाओं को नौकरी दे रहा है। आज वह अपने पैरों पर ख डा है। उन्होंने जन धन योजना पर जोर देते हुए बताया कि अकेले मध्यप्रदेश में दो करोड खाते खुले। उन्होंने कहा कि कांग्रेस झुठ के सहारे खडी है। कांग्रेस ने कर्नाटक में किसानों से ऋण माफी का वादा किया वहीं बैंकों ने किसानों को बैंक का ऋण अदा नहीं करने के लिए जेलों में डाला है। वहीं कांग्रेस ने १५ प्रतिशत की ब्याज दर पर किसानों को पैसा दिया और शिवराज सरकार शून्य ब्याज दर पर पैसा दे रही है। यूरिया आज जितनी चाहे किसान ले रहा है। सेना के लोगों के लिए वन रैंक वन पेंशन लागू की। इसके लिए जहां २०१३ में कांगे्रस ५०० करोड लेकर आई वहीं हमने १२०० करोड से इसकी शुरूआत की। ग्वालियर चंबल के लोगों को सेना में रहे लोगों को इसका लाभ मिला। कांग्रेस का मंत्र है बांटो और भाजपा का सबका साथ सबका विकास। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि ग्वालियर की धरती गालव ऋषि की तपोभूमि है यह राजमाता से लोकमाता बनी श्रीमती विजयाराजे की कर्म भूमि, भाजपा नेता कुशाभाऊ ठाकरे की कर्म भूमि, अटल बिहारी वाजपेयी की जन्म भूमि है वीरांगना लक्ष्मीबाई , तात्याटोपे रामप्रसाद बिस्मिल की भी कर्मभूमि रही है। आज हम राजमाता की जन्म शताब्दी मना रहे हैं ऐसी भूमि के लोगों का पुण्य स्मरण हमें करना चाहिए।
इससे पूर्व केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने सभा को संबोधित किया साथ ही सांसद मुरैना अनूप मिश्रा, मध्यप्रदेश के मंत्री जयभान सिंह, लाल सिंह आर्य, रूस्तम सिंह सहित अन्य विधायक प्रत्याशियों राकेश चौधरी, सतीश सिंह सिकरवार, नारायण सिंह कुशवाह, राकेश शुक्ला , आदि ने भी सभा को संबोधित किया। इस अवसर पर भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा, मंत्री माया सिंह सहित भाजपा के जिलाध्यक्ष देवेश शर्मा आदि मौजूद थे।

पीएम मोदी बोले- किस गुनाह में कांग्रेस ने राजमाता को 19 महीने तक जेल में रखा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  मध्य प्रदेश के ग्वालियर में रैली को संबोधित किया। पीएम मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि आखिर क्यों राजमाता को कांग्रेस ने 19 महीने के लिए जेल में रखा था। उन्होंने कहा कि एक समय मध्य प्रदेश बीमारू राज्य की गिनती में आता था। अब 15 साल के बीजेपी सरकार के बाद एमपी के नाम का मतलब बदल गया है, अब यह मैक्सिमम प्रोग्रेस हो गया है। पीएम मोदी ने कहा कि जिस समय दिग्विजय सिंह की सरकार थी और कांगेस का शासन था, तब रास्ते की हालत से पता चल जाता था कि मध्य प्रदेश आ गया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि हमने ग्वालियर को स्मार्टसिटी बनाने का निर्णय किया है। पांच सालों में भारत सरकार 23 हजार करोड़ रुपये लगाने वाली है। पीएम मोदी ने कहा कि अकेले मध्य प्रदेश में तीन करोड़ जनधन अकाउंट खोले गए।

इससे पहले मध्यप्रदेश के शहडोल जिले में मोदी ने एक जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा, ‘इंदिरा गांधी ने बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया था, लेकिन क्या गरीबों को बैंक के अंदर प्रवेश मिला था। हमारी सरकार ने यह निश्चित किया कि देश के गरीबों का बैंक में खाता हो और केवल चार साल में हमने यह कर दिया।’ उन्होंने कहा कि जो काम वह 55 साल में नहीं कर पाए वह हमने बिजली (सौभाग्य बिजली योजना) , रसौई गैस (उज्जवला गैस योजना) और सड़क सहित अन्य मामलों में केवल चार साल में कर दिया।

‘नोटबंदी से लोगों को कोई परेशानी नहीं’

पीएम मोदी ने नोटबंदी का जिक्र करते हुए कहा कि नोटबंदी से अब लोगों को कोई परेशानी नहीं है। शुरुआत में लोगों को जरुर इससे परेशानी हुई थी और इस बारे में हमने लोगों को बताया था। मोदी ने लोगों से सवाल किया कि क्या अब आपको नोटबंदी से परेशानी है, इस पर लोगों ने जवाब दिया, नहीं।

MP BJP में सिर-फुटौव्‍वल, वरिष्ठ नेता ने कहा- चुनाव नहीं होते तो पार्टी विधायक के दांत तोड़ देता

मध्यप्रदेश में सत्तारूढ़ दल की अंदरूनी रार बाहर आ गई, जब निवर्तमान भाजपा विधायक सुदर्शन गुप्ता ने अपनी ही पार्टी के वरिष्ठ नेता विष्णुप्रसाद शुक्ला को कथित तौर पर ‘हिस्ट्रीशीटर’ बता दिया. इस संबोधन को लेकर आग-बबूला शुक्ला ने गुप्ता के खिलाफ सरेआम कड़ी प्रतिक्रिया दी.

शुक्ला ने इंदौर में संवाददाताओं से कहा, “अगर फिलहाल विधानसभा चुनाव नहीं होते और गुप्ता मेरे खिलाफ इस तरह की गलत बात बोलते, तो मैं (घूंसा मारकर) उनके दांत गिरा देता.”

‘बड़े भैया’ के नाम से मशहूर भाजपा नेता शुक्ला ने कहा, “चूंकि आसन्न विधानसभा चुनावों में गुप्ता मेरी पार्टी (भाजपा) के उम्मीदवार हैं और उनके सामने मेरा बेटा चुनाव लड़ रहा है. लिहाजा मैं इस स्थिति में अभी शांत रहना ही बेहतर समझता हूं.”

गुप्ता, शहर के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक-एक से भाजपा विधायक होने के साथ पार्टी की प्रदेश इकाई के उपाध्यक्ष भी हैं. भाजपा ने 28 नवंबर को होने वाले विधानसभा चुनावों में उन्हें बतौर उम्मीदवार फिर चुनावी मैदान में उतारा है. इस सीट पर कांग्रेस की ओर से संजय शुक्ला को टिकट दिया गया है, जो भाजपा नेता विष्णुप्रसाद शुक्ला के बेटे हैं.

गुप्ता ने एक अखबार के हालिया चुनावी कार्यक्रम के दौरान विष्णुप्रसाद शुक्ला को कथित तौर पर ‘हिस्ट्रीशीटर’ बताते हुए कहा था कि भाजपा ने उनके चुनावी प्रतिद्वन्द्वी के पिता को पिछले चुनावों में तीन बार टिकट देकर गलती की. गुप्ता के बयान को लेकर विवाद बढ़ने पर मामला शांत करने के लिए भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय को आगे आना पड़ा.  विजयवर्गीय ने कहा, “उत्तेजना में गुप्ता के मुंह से बड़े भैया (शुक्ला) के लिये गलत शब्द निकल गए थे. बड़े भैया भाजपा के वरिष्ठ नेता हैं. कांग्रेस के पूर्ववर्ती शासनकाल में उनके खिलाफ झूठे मामले दर्ज कराए गए थे. जहां तक मैं जानता हूं, उन्होंने अपने जीवन में किसी को एक थप्पड़ भी नहीं मारा है.”

शुक्ला को लेकर विवादास्पद बयान के बारे में पूछे जाने पर गुप्ता ने कहा, “इस मामले में हमारी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव पहले ही बयान दे चुके हैं. अब मैं इस बारे में कुछ नहीं कहना चाहूंगा.”

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

भारत में कोरोना का सबसे बड़ा अटैक, एक दिन में पहली बार 2 लाख 34 हजार नए केस

नई दिल्ली 17 अप्रैल 2021 । कोरोना की दूसरी लहर हर दिन नए रिकॉर्ड बना …