मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> जम्मू और कश्मीर में नई राजनीतिक पार्टी का जन्म

जम्मू और कश्मीर में नई राजनीतिक पार्टी का जन्म

नई दिल्ली 8 मार्च 2020 । श्रीनगर में मौजूद बीबीसी संवाददाता रियाज़ मसरूर ने बताया कि पूर्व मंत्री अल्ताफ़ बुखारी रविवार को श्रीनगर के लाल चौक पर अपना राजनीतिक दल लॉन्च करेंगे. इस नए राजनीतिक दल का नाम होगा ‘अपनी पार्टी.’

माना जा रहा है कि महबूबा मुफ़्ती की पीडीपी और उमर अब्दुल्ला की नेशनल कॉन्फ़्रेंस के असंतुष्ट नेता अल्ताफ़ बुखारी के झंडे का दामन थाम सकते हैं.

अल्ताफ़ बुखारी ने कश्मीर की स्वायत्ता ख़त्म करने के केंद्र सरकार के फ़ैसले का स्वागत किया था.

सात महीनों के सियासी सन्नाटे के बाद वे कश्मीर की एकमात्री राजनीतिक आवाज़ होने जा रहे हैं.

अल्ताफ़ बुखारी को भारतीय जनता पार्टी का क़रीबी माना जाता है. कई लोगों की राय ये भी है कि अल्ताफ़ बुखारी कश्मीर की नई सियासत का चेहरा बनने जा रहे हैं.

भारतीय विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने ये बात नागरिकता संशोधन क़ानून (सीएए) के बारे में एक सवाल पूछे जाने पर कही. एस. जयशंकर ने शनिवार को ग्लोबल बिज़नस समिट में हिस्सा लिया और वहां पूछे गए कई सवालों के जवाब दिए.

सीएए के मुद्दे पर चल रहे विवाद को लेकर उन्होंने कहा, “हर व्यक्ति नागरिकता को एक संदर्भ में देखता है. आप मुझे एक ऐसा देश बताइए जो कहता हो कि उसके यहां दुनिया के सभी लोगों का स्वागत है.”

एस. जयशंकर ने कहा कि भारत सरकार ने नागरिकता संशोधन क़ानून के ज़रिए ऐसे लोगों की संख्या कम करने की कोशिश की हैं जिनका अपना कोई देश नहीं है और इसकी सराहना की जानी चाहिए.

उन्होंने कहा कि कोई ये तर्क नहीं दे सकता कि सरकार या संसद को नागरिकता की शर्तें तय करने का अधिकार नहीं है क्योंकि हर सरकार ऐसा करती है.

सीएए और दिल्ली के हालिया दंगों पर कुछ देशों की तीखी प्रतिक्रियाओं और ये पूछे जाने पर कि क्या भारत अपने मित्र खो रहा है, एस.जयशंकर ने कहा, “शायद अब हम ये समझ पा रहे हैं कि हमारा असली दोस्त कौन है.”

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

राहुल ने जारी किया श्वेतपत्र, बोले- तीसरी लहर की तैयारी करे सरकार

नई दिल्ली 22 जून 2021 । कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस …