मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> RSS के गढ़ में हारी BJP, कांग्रेस ने कसा तंज

RSS के गढ़ में हारी BJP, कांग्रेस ने कसा तंज

महाराष्ट्र 9 जनवरी 2020 । महाराष्ट्र में हुए 6 जिला परिषद चुनावों में बीजेपी को करारा झटका लगा है. 6 में से 4 जिला परिषद चुनावों में एनसीपी-कांग्रेस और शिवसेना के गठबंधन (महाविकास आघाड़ी) को जीत मिली है. बीजेपी ने धुले जिला परिषद चुनाव जीता है. वहीं अकोला में प्रकाश आंबेडकर की वंचित बहुजन आघाड़ी ने तीसरी बार सत्ता हासिल की है.

महाराष्ट्र में नागपुर, अकोला, धुले, नंदुरबार, पालघर और वाशिम में मंगलवार को जिला परिषद चुनाव के लिए वोट डाले गए थे, जिसके नतीजे बुधवार को घोषित किए गए. सबसे चौंकाने वाली बात है कि बीजेपी नागपुर जिला परिषद चुनाव हार गई, जो राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) का गढ़ माना जाता है. केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के गांव धपेवाडा में भी बीजेपी को मात मिली. साथ ही पालघर जिला परिषद भी उसके हाथ से चली गई.

फडणवीस को झटका

पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के लिए ये चुनावी नतीजे किसी झटके से कम नहीं हैं. 2019 विधानसभा चुनाव में बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी. लेकिन शिवसेना से मतभेद के कारण सरकार दोनों की सरकार नहीं बन पाई. इसके बाद उद्धव ठाकरे की अगुआई में कांग्रेस, शिवसेना और एनसीपी ने गठबंधन की सरकार बनाई.

कांग्रेस ने कसा बीजेपी पर तंज

महाराष्ट्र में जिस तरह राजनीतिक समीकरण बदले हैं, उसकी कल्पना शायद ही बीजेपी ने की हो. बीजेपी की हार के बाद कांग्रेस ने करारा हमला बोला है. पार्टी महासचिव मुकुल वासनिक ने ट्वीट कर लिखा कि नागपुर जिले में आरएसएस का मुख्यालय है और यहां जिला परिषद चुनावों में कांग्रेस को जीत मिली है. कांग्रेस नेता के मुताबिक, लोगों ने बीजेपी को नकार दिया है. बेहतरी के लिए लोगों का मूड अब बदल रहा है.महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों के बाद सबकी नजरें जिला परिषद चुनावों पर थीं. क्या जिला परिषद चुनावों में ग्रामीण जनता महाविकास आघाड़ी का साथ देगी, यह सवाल बना हुआ था.
चला महाविकास आघाड़ी का जादू

बीजेपी ने लगभग सभी नेता ये कह रहे थे कि आने वाले चुनाव में जनता तीनों दलों को सबक सिखाएगी. लेकिन बुधवार को आए नतीजों में महाराष्ट्र में महाविकास आघाड़ी का जादू चल गया. ग्रामीण जनता को शरद पवार ने दिखाया हुआ फॉर्मूला पसंद आया. महाविकास आघाड़ी को 6 में से 4 जिला परिषद में जीत मिली है. वहीं बीजेपी को दोनों गढ़ (नागपुर और पालघर) में हार मिली है.

गडकरी के गांव की धपेवाडा सीट कांग्रेस उम्मीदवार महेंद्र डोंगरे ने जीती. उन्होंने बीजेपी प्रत्याशी मारुति सोमकुवर को मात दी. डोंगरे को 9,444 वोट मिले. वहीं सोमकुवर को 5,501 वोटों से ही संतुष्ट होना पड़ा. जिला परिषद धपेवाडा सर्किल (सीट) तीन बार से बीजेपी के ही पास थी.
किस जिला परिषद के क्या रहे नतीजे

नागपुर जिला परिषद् चुनाव नतीजे:

कुल सीटें- 58

कांग्रेस – 30

एनसीपी-10

शिवसेना-1

बीजेपी-15
वाशिम जिला परिषद् चुनाव के नतीजे

कुल सीट-52

कांग्रेस-09

एनसीपी-12

शिवसेना-6

बीजेपी-7

जनविकास आघाड़ी-6

वंचित बहुजन आघाड़ी-8

अकोला जिला परिषद के नतीजे

कुल सीट- 53

वंचित बहुजन आघाड़ी-23

कांग्रेस-4

एनसीपी-3

शिवसेना-13

भाजपा-7

निर्दलीय-3

पालघर जिला परिषद् के नतीजे

कुल सीट- 57

शिवसेना-18

एनसीपी-15

कांग्रेस- 1

बीजेपी-10

नंदुरबार जिला परिषद् के नतीजे

कुल सीट-55

बीजेपी-23

कांग्रेस-22

शिवसेना-07

एनसीपी-3

धुले जिला परिषद् के नतीजे

कुल सीट-56

बीजेपी-39

शिवसेना-4

कांग्रेस-7

एनसीपी-3

निर्दलीय- 3

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा- ‘कांग्रेस न सदन चलने देती है और न चर्चा होने देती’

नई दिल्ली 27 जुलाई 2021 । संसद शुरू होने से पहले भाजपा संसदीय दल की …