मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> भाजपा इन तीन वजहो से चुनाव हारी

भाजपा इन तीन वजहो से चुनाव हारी

नई दिल्ली 17 दिसंबर 2018 । दोस्तों, पांच राज्यों में हुए हालिया विधानसभा चुनाव में जिस प्रकार से हिंदी पट्टी तीन राज्यों में केंद्रासीन भारतीय जनता पार्टी को हार का सामना करना पड़ा वह चौंकाने वाला है। इस हार पर संघ ने बड़ खुलासा किया है, हम इसी पर बात करते हैं इसके लिए आप मुझे फॉलो कर लें।

पहला वजह-
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के भरोसेमंद सूत्रों ने के अनुसार मोदी सरकार की एससी/एसटी एक्ट बहाल करने के लिए विधेयक, जिसे केंद्र द्वारा इसके कड़े प्रावधान लाने के लिए पारित किया, इसका परिणाम यह हुआ कि भाजपा से अगड़ी जातियां नाराज हो गईं। यह भी भाजपा की हार कि वजह है।
दूसरी वजह-
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के फीडबैक में यह भी पता चला है कि मतदान में ‘नोटा’ का बटन दबाने की वजह से भी पार्टी को खासा नुकसान हुआ। इसके मतलब यह हुआ वोट डालने के बाद भी उस शख्स के वोट पार्टी के खाते में नहीं गया। यह वजह भी खास है भाजपा की हार के लिए।

तीसरी वजह-
राज्य सरकारों एवं केंद्र सरकार की किसानों, बेरोजगारों के प्रति गलत नीतियां भी भाजपा की हार कि वजह बनी है। सरकार ने अपने कामों को सही ढ़ग से जनता के सामने नहीं रख सकी।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

पंजाब कांग्रेस का सस्पेंस बरकरार, नाराज सुनील जाखड़ को अपनी फ्लाइट में दिल्ली लाए राहुल-प्रियंका गांधी

नई दिल्ली 23 सितम्बर 2021 । चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बनाने के बावजूद पंजाब …