मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> मध्य प्रदेश में चुनाव हार सकती है बीजेपी

मध्य प्रदेश में चुनाव हार सकती है बीजेपी

नई दिल्ली 3 नवम्बर 2018 । मध्य प्रदेश से बीजेपी के लिए बुरी खबर आई है. स्टेट इंटेलिजेंस डिपार्टमेंट (राजकीय अभिसूचना विभाग) की रिपोर्ट के मुताबिक, आने वाले विधानसभा चुनाव में शिवराज सरकार मध्य प्रदेश में चुनाव हार सकती है. (फोटो: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान)

सीक्रेट रिपोर्ट में खुलासा- मध्य प्रदेश में चुनाव हार सकती है बीजेपी
इंडिया टुडे के हाथ लगी यह टॉप सीक्रेट रिपोर्ट 30 अक्टूबर को मुख्यमंत्री के सामने पेश की गई थी. इस रिपोर्ट में यह कहा गया है कि 230 में से 128 सीटों पर कांग्रेस पार्टी बीजेपी से आगे निकल सकती है. (फोटो: ज्योतिरादित्य सिंधिया और कमलनाथ मध्य प्रदेश में चुनाव प्रचार की कमान संभाले हुए हैं.)

सीक्रेट रिपोर्ट में खुलासा- मध्य प्रदेश में चुनाव हार सकती है बीजेपी
जबकि मध्य प्रदेश में एक दशक से ज्यादा समय से काबिज बीजेपी को केवल 92 सीटों पर जीत मिलने के आसार हैं. वहीं, बसपा 6 और सपा तीन सीटों और गोंडवाना गणतंत्र पार्टी एक सीट पर जीतती दिखाई दे रही है.

सीक्रेट रिपोर्ट में खुलासा- मध्य प्रदेश में चुनाव हार सकती है बीजेपी
रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि मध्य प्रदेश सरकार में मंत्री रुस्तम सिंह, माया सिंह, गौरी शंकर शेजवार, सूर्य प्रकाश मीणा समेत 10 मंत्री को चुनाव जीतना इस बार मुश्किल हो सकता है.

सीक्रेट रिपोर्ट में खुलासा- मध्य प्रदेश में चुनाव हार सकती है बीजेपी
गौरतलब है कि मुख्यमंत्री शिवराज के करीबी माने जाने वाले सूर्य प्रकाश मीणा ने भी इस रिपोर्ट के आने के दो दिन बाद यानी 1 नवंबर को ही चुनाव लड़ने से मना कर दिया था. वहीं, इस रिपोर्ट के आने के बाद कई मंत्रियों का टिकट कटने के भी आसार हैं.
सीक्रेट रिपोर्ट में खुलासा- मध्य प्रदेश में चुनाव हार सकती है बीजेपी
रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि कांग्रेस को चुनाव में सबसे ज्यादा फायदा ग्वालियर-चंबल डिविजन से होगा. क्योंकि यहां कि 34 में से 24 सीटों पर कांग्रेस को जीत हासिल हो सकती है. जबकि बीजेपी को केवल 7 सीट ही मिल सकती है. वहीं, बसपा के खाते में 3 सीट जाने की बात कही जा रही है.

सीक्रेट रिपोर्ट में खुलासा- मध्य प्रदेश में चुनाव हार सकती है बीजेपी
बुंदेलखंड की बात की जाए तो रिपोर्ट में बीजेपी को 26 में से 13 और कांग्रेस को 12 सीट मिलने की बात कही जा रही है. वहीं, सपा यहां एक सीट जीत सकती है.

विंध्याचल में भी कांग्रेस को फायदा मिलने की बात कही जा रही है. यहां की 30 सीटों में से 18 पर कांग्रेस और केवल 9 सीटों पर बीजेपी जीत सकती है. जबकि तीन सीटों पर बसपा आ सकती है.

रिपोर्ट में महाकौशल क्षेत्र में भी कांग्रेस को बढ़त बताई गई है. यहां 38 में से 22 सीटों पर कांग्रेस और बीजेपी को 13 सीट मिल सकती है. बाकी सपा दो सीट और जीजीपी पार्टी एक सीट पा सकती है.

हालांकि, मध्य भारत में बीजेपी और कांग्रेस के बीच बराबरी का मुकाबला है. यहां दोनों पार्टी 18-18 सीट जीत सकती है. वहीं, किसान आंदोलन से प्रभावित हुए मालवा निमाड़ इलाके में भी कांग्रेस को फायदा मिलता दिख रहा है. यहां कांग्रेस 34 तो बीजेपी 32 सीट जीत सकती है.

कलेक्टर से बोला- सपने में राम दिखते हैं और फिर शहजाद बना संजू
उत्तर प्रदेश के शामली में धर्म परिवर्तन का एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है. यहां एक व्यक्ति जिलाधिकारी के पास पहुंचा और कहा कि उसे सपने में भगवान राम दिखाई दे रहे हैं, इसलिए उसे अनुमति चाहिए ताकि वो धर्म परिवर्तन कर सके.
कलेक्टर से बोला- सपने में राम दिखते हैं और फिर शहजाद बना संजू
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, हरेंद्र नगर के रहने वाले शहजाद राणा का ट्रांसपोर्टर का काम है. वह गुरुवार को अपने छह साल के बेटे सुमेर के साथ कलक्ट्रेट में पहुंचा. यहां वह अधिवक्ता सतेंद्र धीरयान के साथ डीएम इंद्र विक्रम सिंह से मिला.

कलेक्टर से बोला- सपने में राम दिखते हैं और फिर शहजाद बना संजू
शहजाद राणा ने डीएम को पत्र देकर कहा कि उसके पूर्वज हिंदू धर्म को त्यागकर मुस्लिम धर्म में परिवर्तित हो गए थे, लेकिन उसकी आस्था हिंदू धर्म में है. उसे सपने में भगवान राम दिखाई देते हैं इसलिए वह बिना किसी दबाव और जोर-जबरदस्ती के धर्म परिवर्तन करना चाहता है.

शिवराज को झटका, चुनावी मैदान से हटे सूर्य प्रकाश मीणा
मध्य प्रदेश से शिवराज सरकार में मंत्री सूर्यप्रकाश मीणा ने चौकाने वाला फैसला किया है। मध्य प्रदेश के उद्यानिकी मंत्री सूर्यप्रकाश मीणा ने बीजेपी उम्मीदवारों की सूची जारी होने से ठीक पहले खुद चुनाव नहीं लड़ने की इच्छा जताई है। इस खबर से सियासी गलियों में हड़कंप मच गया है।

जानकारी के मुताबिक प्रदेश के उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण राज्यमंत्री सूर्यप्रकाश मीणा ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखा है। पत्र में उन्होंने लिखा कि वो इस बार विदिशा की शमशाबाद विधानसभा क्षेत्र से चुनाव नहीं लडऩा चाहते। उन्होंने ये भी कहा कि वे संगठन के लिए काम करना चाहते हैं इसलिए चुनाव नहीं लड़ेंगे। आपको बता दें कि सूर्यप्रकाश मीणा का नाम उन मंत्रियों-विधायकों की सूची में शामिल है जिनका परफॉर्मेंस खराब रहा है। इस रिपोर्ट के आधार पर ही मीणा का टिकट कटने की प्रबल संभावना थी। इसी आशंका के चलते पिछले दिनों वे अपने समर्थकों के साथ भाजपा प्रदेश कार्यालय पहुंचे थे और अपनी दावेदारी जताई थी। लेकिन पार्टी के आला नेताओं की दो टूक के बाद अचानक उन्होंने सीएम शिवराज को पत्र लिखकर चुनाव नहीं लडऩे की मंशा जाहिर कर दी

मामी को मनाया गया, सांसद या गर्वनर?
प्रदेश की नगरीय प्रशासन मंत्री माया सिंह यानी जगत मामी का टिकट आज विधानसभा के भाजपा प्रत्याशियों की सूची में से काट दिया गया है। मामी को टिकट कटने का मलाल भी है और उन्होंने अपना आक्रोश आलाकमान को जता भी दिया है। वह टिकट कटने की खबर पर कल अचानक ही दिल्ली पहुंची और अपनी बात आलाकमान के समक्ष भी रखी।
लेकिन अब मामी को पार्टी नाराज भी नहीं कर सकती इसलिये उन्हें मुरैना सांसदी या किसी राज्य का गर्वनर का आश्वासन दिया गया है। अपनी भोली और भली महिला नेत्री मामी इस आश्वासन पर फिलहाल शांत हैं। खैर कुछ भी हो अपनी मामी की इस बात की तारीफ करनी पड़ेगी कि वह वास्तव में भली महिला है। उन्होंने अपने कार्यकाल में सभी के कार्य निस्वार्थ किये और कभी किसी को परेशान भी नहीं किया और उन पर कोई भ्रष्टाचार के आरोप भी नहीं लगे। वह राजनीति की काजल की कोठरी में भी बेदाग रही।

मंत्री-विधायकों के टिकट काटे जाने पर BJP के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ने दिया ये बड़ा बयान

भोपाल: भाजपा ने विधानसभा चुनाव के लिए 177 प्रत्याशियों की लिस्ट जारी कर दी है। इस बार दो मंत्री और 27 विधायकों के नाम काटे गए है। टिकट नाम मिलने पर भाजपा में बगावती सुर फूटने लगे है। कई नेताओं ने अपनी पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोलने का प्लान बना लिया है। इसी बीच बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि सर्वे और कार्यकर्ताओं से लिए गए फीडबैक के आधार पर टिकट दिए गए है। झा ने आगे कहा कि जिनके टिकट कटे उन्हें थोड़ी तो तकलीफ होगी, लेकिन कार्यकर्ता काम करने के लिए समर्पित है। वो हमारे साथ चौथी बार सरकार बनाने के लिए तन मन धन से आगे आएगा। चुनाव के वक्त हर कार्यकर्त्ता के सामने कमल होता है, उसी को देखते हुए वो काम करता है।

वही कांग्रेस की लिस्ट में देरी पर बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा ने हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि हमें 15 दिन नहीं लगा प्रत्याशी तय करने में कांग्रेस में मारामारी हो रही है। कांग्रेसी अभी तक नही तय कर पा रहे किसे टिकट दे और किसे नही।हालांकि कांग्रेस के प्रभारी दीपक बाबरिया ने कहा है कि आज शाम तक कांग्रेस की लिस्ट जारी की जा सकती है।कांग्रेस ने करीब 200 सीटों पर नाम तय किए है। 30 सीटों पर सहमति नही बन पाई है। इन पर भी विचार कर जल्द प्रत्याशियों के नामों की घोषणा की जाएगी।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

आदित्य बिरला हेल्थ इंश्योरेंस का नया ऑफर:2 साल तक कोई क्लेम नहीं किया तो पूरा प्रीमियम वापस करेगी बीमा कंपनी

नई दिल्ली 27 फरवरी 2021 । आदित्य बिरला हेल्थ इंश्योरेंस ने अपने प्रमुख हेल्थ इंश्योरेंस …