मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> जूना अखाड़ा के आयोजन से भाजपाईयो ने बनाई दूरी—

जूना अखाड़ा के आयोजन से भाजपाईयो ने बनाई दूरी—

उज्जैन 12 जून 2019 । बीते 15 साल में किसी कांग्रेसी ने साधु संतों के साथ सेल्फी भी यदि ले ली तो उसे तत्काल भाजपाई करार दे दिया गया या फ़िर उसे निजी बताया गया।। अब मप्र में कांग्रेस सरकार है,,, ऐसे में उज्जैन में आज से प्रारंभ हुए जूना अखाड़ा के अयोजन में शहर से लेकर प्रदेश के कांग्रसियों ने मंच से लेकर दर्शक दीर्घा संभाल ली,,, वहीं दूसरी ओर भाजपाईयो ने नीलगंगा सरोवर पर कार्यक्रम से लेकर महंत हरिगिरि व पायलेट बाबा के इस बेहद ही धार्मिक और महत्वपूर्ण आयोजन से “”दूरी “”बना ली ,जो चर्चा का विषय है।।
शहर में होर्डिंग भी जो लगाए गए है ,उनमे साधु संत तो वही है बस बधाई देने वाले ,,,इस बार भाजपाइयों की जगह कांग्रेसी है।।। इधर अखाड़ा परिषद के अध्य्क्ष नरेंद्र गिरी महाराज ने भी इस “”””वक्त के बदलाव “”””को आत्मसात कर लिया है।।

इधर नीलगंगा सरोवर पर आज यहां गाजे – बाजे है,, भजन कीर्तन है ,, साधु संत है ,, बच्चो की किलकारियो से लेकर रोशनी की जगमगाहट है …मगर नही है तो बस”””वो “” आत्मियता “” वो “”रस ओर वह अपनत्व ।।।
जो कभी ऐसे आयोजन में देखा गया है।।। पता नही …ऐसा क्यो महसूस हो रहा है कि “”कहीं कुछ छूट सा….रहा है।।।। ऐसा कही “शिवराज “”ओर उनके गण की अनुपस्थिति से नही लग रहा …बस…नीरसता ने बरबस ही ऐसा मानस बना दिया।।। इतनी अथक मेहनत करने पर आयोजको को साधुवाद।। पुलिस विभाग और प्रशाशनिक व्यवस्था चाकचौबंद किये जाने पर भी बधाई के पात्र है अफसर।।। इधर कांग्रेस ने जिस तरह से आयोजन में बढ़चढ़कर अपनी मौजूदगी दर्शाई है,ऐसे में चर्चा है कि ,,, कांग्रेस को हिन्दुतत्व की ओर रुख करने से राजनीतिक फायदा हो न हो  धार्मिक लाभ – फल…तो मिलना निश्चित है।।।

उज्जैन की पावन धरा पर उतरी नीलगंगा, महानाट्य का हुआ मंचन, भजन संध्या का हुआ आयोजन

गंगा दशहरा की पूर्व संध्या पर मंगलवार को उज्जैन की पावन धरा पर नीलगंगा उतर आई। इस मौके पर नीलगंगा मैदान पर नीलगंगा नाट्य का मंचन हुआ और मिश्रा बंधुओ की भजन संध्या का आयोजन किया गया। नीलगंगा मैदान पर महा नाटक नीलगंगा के मंचन में प्रसिद्ध नृत्यांगना पलक पटवर्धन के निर्देशन में नाटक हुआ। जिसमें मां नीलगंगा की उत्पत्ति से लेकर नीलगंगा सरोवर और जूना अखाड़ा के बारे में बताया गया। वहीं प्रयागराज के प्रसिद्ध भजन गायक मिश्र बंधु की भजन संध्या भी रात में हुई। इससे पहले पंच दशनाम जूना अखाड़ा नीलगंगा घाट पर अखाड़ा परिषद अध्यक्ष श्रीमहंत नरेन्द्र गिरी महाराज, जूना अखाड़ा के मुख्य संरक्षक और अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के महामंत्री श्रीमहंत हरि गिरि जी महाराज, पायलट बाबा सहित संतों ने नीलगंगा का पूजन अभिषेक किया। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के महामंत्री श्री हरि गिरि महाराज ने बताया कि आज 12 जून को सुबह 7 बजे 13 अखाड़ों के साधु संत नीलगंगा सरोवर में स्नान करेंगे। सुबह 10 बजे पायलट बाबा का पट्टाभिषेक होगा। शाम 5 बजे दत्त अखाड़ा घाट से 2100 महिलाएं कलश यात्रा के रूप में नीलगंगा सरोवर तक आएगी। वहीं शाम को अनूप जलोटा की भजन संध्या होगी।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

राहुल ने जारी किया श्वेतपत्र, बोले- तीसरी लहर की तैयारी करे सरकार

नई दिल्ली 22 जून 2021 । कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस …