मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> बिजनेस स्टैंडर्ड (BS) के पत्रकारो पर भी ‘संकट’

बिजनेस स्टैंडर्ड (BS) के पत्रकारो पर भी ‘संकट’

नई दिल्ली 12 सितम्बर 2019 । ऑटो, टेक्सटाइल समेत कई सेक्टर्स में मंदी की खबरों को प्रकाशित कर रहा मीडिया सेक्टर भी इससे अछूता नहीं रह पा रहा है। कई मीडिया हाउसेज से छंटनी की खबरों के बीच अब बिजनेस न्यूजपेपर बिजनेस स्टैंडर्ड भी मंदी की चपेट मे आ गया है। बताया जा रहा है कि पिछले डेढ़-दो साल से लगातार खर्चों को कम करने की मुहिम में जुड़े संस्थान ने अब कई पत्रकारों से रिजाइन मांगा है। वरिष्ठ पद पर आसीन कई नामी पत्रकारो के रिजाइन के बाद से संस्थान में काफी उथल-पुथल है।

इसी बीच बीएस में सीनियर एसोसिएट एडिटर के पद पर कार्यरत नितिन सेठी ने अपना इस्तीफे की औपचारिक घोषणा भी कर दी है। करीद डेढ़ साल से बीएम में कार्यरत नितिन की ये संस्थान के साथ दूसरी पारी थी। वे इससे पहले भी इसी पद पर जून 2014 से 2017 तक बीएस का हिस्सा रह चुके हैं। अपनी दोनों पारियों के बीच वे 9 महीने के लिए डेप्युटी एडिटर के पद स्क्रॉल मीडिया से जुड़ गए थे। वे टाइम्स ऑफ इंडिया, द हिंदू और डाउन टू अर्थ मैगजीन के साथ भी काम कर चुके हैं। I have resigned from the Business Standard with immediate effect.
2. Here is a link to, more than a 100 stories, more than a hundred thousand words, of investigations, deep dives, analysis, exclusives, long form and opinion I wrote during the short stint.
3. It was particularly great to team up with some of my young and brilliant colleagues at Business Standard. Without them many investigations and deep dives would have never come through with such clarity and at such speed. Several would have never seen the light of the day without these collaborations.
4. I would like to believe, we let the facts lead us. We said it straight and never buried facts in the safety of a fake balance. We said it without fear. We did not let go. In the process, I learnt a lot.
5. Thank you for reading and following. Support reportage, however you can. It forms the substratum of journalism. Revealing facts that the powerful do not want citizens to know.

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

31 जुलाई तक सभी बोर्ड मूल्यांकन नीति के आधार पर जारी करें परिणाम, सुप्रीम कोर्ट ने दिए आदेश

नई दिल्ली 24 जून 2021 । देश के सभी राज्य बोर्डों के लिए समान मूल्यांकन …