मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> कैग रिपोर्ट का खुलासा 19 मंत्रालयों में हजारों करोड़ का घपला

कैग रिपोर्ट का खुलासा 19 मंत्रालयों में हजारों करोड़ का घपला

नई दिल्ली 7 अगस्त 2018 । कई साल के बाद कैग की एक रपट ने विपक्ष को संसद के लिए एक बड़ा मुद्दा दे दिया है। ईमानदार सरकार का तमंगा खुद पहनने वाली मोदी सरकार अरबों के घोटाले में फंस गई है। 19 मंत्रालयों में 1,179 करोड़ रुपए के घपले प्रकाश में आए हैं।

विशेष यह कि इन मंत्रालयों ने अपने ही मंत्रालय के वित्तीय नियमों की जमकर धज्जियां उड़ाई है। सबसे अधिक गड़बड़ी मानव संसाधन व विकास मंत्रालय में सामने आई हैं। सभी 19 मंत्रालयों के 78 विभागों ने देश को करोड़ों रुपए के राजस्व की चपत लगाई है।

विदेश मंत्रालय, सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय, संस्कृति मंत्रालय और उपभोक्ता मंत्रालय भी भ्रष्ट मंत्रालय की सूची में आ गए हैं। 10 मार्च, 2017 तक के वित्तीय दस्तावेजों की जांच के बाद यह खुलासा हुआ है।

खबरों के अनुसार, कैग को जांच में पता लगा कि मंत्रालय अपनी मनमर्जी से खर्च कर रहे हैं। इसका प्रमाण यह कि वर्ष 2015-16 में इन मंत्रालयों का सकल खर्च 53,34,037 था जो वर्ष 2016-17 में बढ़कर 73,62,394 हो गया था। जबकि सकल खर्च 38 फीसदी तय है।

संसद का म़नसून सत्र कल शुरू होने वाला है और कैंग की इस रिपोर्ट के आधार पर हंगामा होने की संभावनाएं है। ध्यान रहे कि भाजपा ने विपक्ष में रहते हुए यूपीए सरकार पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए कई मामलों में कैग रिपोर्ट का सहारा लिया था। भाजपा को यूपीए को भ्रष्ट सरकार घोषिथ कराने में कामयाब रही थी।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

मिंटो हॉल का नाम अब BJP के पूर्व अध्यक्ष कुशाभाऊ ठाकरे पर, सीएम शिवराज सिंह चौहान का ऐलान

भोपाल 27 नवंबर 2021 । मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने ऐलान किया है …