मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> पश्चिम रेलवे में भी चलाई जा सकती है वन्दे भारत जैसी हाईस्पीड ट्रेन-परे महाप्रन्धक एके गुप्ता ने कहा

पश्चिम रेलवे में भी चलाई जा सकती है वन्दे भारत जैसी हाईस्पीड ट्रेन-परे महाप्रन्धक एके गुप्ता ने कहा

नई दिल्ली 24 फरवरी 2019 । पश्चिम रेलवे के महाप्रबन्घक एके गुप्ता ने आज यहां कहा कि पश्चिम रेलवे में ट्रेनों की गति प्रभावित करने वाले करीब 121 स्थानों को अब समाप्त कर दिया गया है,जिससे अब पश्चिम रेलवे में ट्रेनों की गति बढ गई है। पश्चिम रेलवे में पूरा रेलवे ट्रेक उच्चस्तरीय है और इस पर वन्दे भारत एक्सप्रेस जैसी हाईस्पीड गाडियां आसानी से चलाई जा सकती है।
श्री गुप्ता रतलाम रेल मण्डल के वार्षिक निरीक्षण के बाद रेलवे स्टेशन पर पत्रकारों से चर्चा कर रहे थे। रेल मण्डल के निरीक्षण की जानकारी देते हुए उन्होने बताया कि इस निरीक्षण में रेलवे के सभी विभागों के प्रमुख और कमिश्नर आफ रेलवे सेफ्टी भी मौजूद थे। उनका निरीक्षण रतलाम रेल मण्डल के बैरागढ स्टेशन से प्रारंभ होकर रतलाम स्टेशन तक हुआ। इस दौरान कोई खामी नहीं पाई गई। महाप्रबन्धक श्री गुप्ता के अनुसार वार्षिक निरीक्षण एक तरह का आडिट होता है। निरीक्षण के दौरान ट्रेक के रखरखाव का मूल्यांकन किया जाता है। निरीक्षण के दौरान ट्रेक व अन्य विभागों का कार्य संतोषजनक पाया गया है। श्री गुप्ता ने कहा कि कमिश्नर आप रेलवे सेफ्टी ने अपने निरीक्षण के दौरान ट्रेक की स्थिति,ट्रेक पर बने पुल पुलियाओं की स्थिति और रेलवे स्टेशन के सुरक्षा मानकों का भी निरीक्षण किया और इन्हे संतोषजनक पाया। श्री गुप्ता ने रतलाम रेल मण्डल के दस विभागों को उत्कृष्ट कार्य के लिए दस दस हजार रु. इस प्रकार कुल एक लाख रु. का पुरस्कार देने की भी घोषणा की।
रतलाम रेलवे स्टेशन पर रतलामी सेव नहीं बेचे जाने के सम्बन्ध में पूछे जाने पर उन्होने कहा कि रेलवे की शर्तों को पूरा करने वाले स्थानीय सेव निर्माता यदि आवेदन करेंगे तो सेव विक्रय की अनुमति दी जा सकती है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

अपोलो हॉस्पिटल्स, इंदौर में हार्ट सर्जरी के बाद नन्हे हीरोज अपने घर वापिस जाने के लिए तैयार

इंदौर 1 मार्च 2021 । यह अनुमान है कि भारत में हर साल 240,000 बच्चे …