मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> उत्तरप्रदेश >> सीडीआरआई ने संतरे के छिलके से तैयार की कोरोना वायरस की दवा

सीडीआरआई ने संतरे के छिलके से तैयार की कोरोना वायरस की दवा

लखनऊ 24 मई 2020 । कोरोना वायरस को पस्त करने के लिए सीडीआरआई ने संतरे के छिलके से दवा तैयार की है। यह दवा केजीएमयू में भर्ती कोरोना मरीजों पर परखी जाएगी। शनिवार को केजीएमयू एथिकल कमेटी की बैठक में ड्रग ट्रॉयल को मंजूरी मिलने की उम्मीद है।

कोरोना का प्रकोप लगातार बढ़ता जा रहा है। अभी कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के इलाज की पुख्ता दवा नहीं है। दुनिया भर में तमाम तरह की दवा और वैक्सीन पर ट्रॉयल चल रहा है। राजधानी लखनऊ के दो बड़े संस्थानों में भी कोरोना को हराने के लिए बड़े पैमाने पर शोध कार्य चल रहा है। इसी दौरान सीडीआरआई ने संतरे के छिलके से दवा तैयार की है। केजीएमयू और सीडीआरआई के बीच करार भी हो चुका है। अधिकारियों का कहना है कि इस दवा का कोई दुष्प्रभाव भी नहीं होगा।

132 मरीजों पर होगा ट्रॉयल
केजीएमयू रिसर्च सेल के प्रभारी डॉ. आरके गर्ग के मुताबिक कुल 132 कोरोना पॉजिटिव मरीजों पर ट्रॉयल होगा। इनमें 66 मरीजों को सीडीआरआई द्वारा तैयार दवा दी जाएगी। बाकी मरीजों को दूसरी दवाएं। इसके बाद शरीर में वायरस का प्रकोप कैसे और कितनी जल्दी खत्म हो रहा है। चिकित्सा विज्ञान में इसे वायरस क्लीयरेंस कहते हैं। जिन कोरोना पॉजिटिव की रिपोर्ट नेगेटिव आ रही है उसकी रफ्तार क्या है?

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

‘इंडोर प्लान’ से OBC वोटर्स को जोड़ेगी BJP, सभी 403 विधानसभा क्षेत्रों में उतरेगी टीम

नयी दिल्ली 25 जनवरी 2022 । उत्तर प्रदेश की आबादी में करीब 45 फीसदी की …