मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> केंद्रीयसूचना आयोग ने रिज़र्व बैंक से बड़े क़र्ज़ डिफाल्टरों के नाम का खुलासा करने को कहा

केंद्रीयसूचना आयोग ने रिज़र्व बैंक से बड़े क़र्ज़ डिफाल्टरों के नाम का खुलासा करने को कहा

जयपुर 29 मई 2019 । केंद्रीय सूचना आयोग में भारतीय रिजर्व बैंक से कर्ज लौटाने में असफल बड़े कर्जदार ओं के नाम का खुलासा करने की बात कही है सीआईसी ने केंद्रीय बैंक को निर्देश दिए हैं कि उन सरदारों के नामों का भी खुलासा करें जिनके फंसे कर्ज खातों को उनसे बैंकों के पास समाधान के लिए भेजा है.

लखनऊ की सामाजिक कार्यकर्ता नूतन ठाकुर की एक अपील के बाद सीआईसी ने निर्देश जारी करें तो आपको बता दें कि ठाकुर में सूचना के अधिकार आरटीआई के तहत इस जानकारी की मांग करी थी और इसके बाद यह आदेश जारी किए गए हैं. आपको बता दें उन्होंने अपनी आरटीआई में आवेदन किया था कि उन मीडिया रिपोर्ट्स का उल्लेख किया जाए जिसमें रिजर्व बैंक के डिप्टी गवर्नर विरल आचार्य के 2017 में एक व्याख्यान के हवाले से कहा गया कि कुछ वर्ष डिफॉल्टर के खातों को के पास जाने के लिए भेजा गया है.

इसके अलावा आचार्य ने कहा कि आर्थिक सलाहकार समिति ने सिफारिश की है कि रिजर्व बैंक की शुरुआत में बड़ी राशि में फंसे कर्ज वाली संपत्तियों पर ध्यान केंद्रित किया जाए इसके अलावा उन्होंने कहा कि रिजर्व बैंक ने उसी के अनुरूप बैंक को तो बड़े 12 बड़े खातों के खिलाफ दिवाला आवेदन करने को कहा है. वही आपको बता दें कि बैंकों की जितनी राशि कर्ज में फंसी है उसका 25% है. इन्हीं बड़े खातों पर बकाया चल रहा है इसके अलावा ठाकुर ने अपने आवेदन में आचार्य ने व्याख्यान में जिस सूची का जिक्र किया था उसी सूची का ब्योरा मांगा है.

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

सुनील गावस्कर ने बताया, महेंद्र सिंह धोनी के बाद कौन सा बल्लेबाज नंबर-6 पर बेस्ट फिनिशर की भूमिका निभा सकता है

नयी दिल्ली 22 जनवरी 2022 । दक्षिण अफ्रीका दौरे पर टेस्ट के बाद भारत को …