मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> उत्तरप्रदेश >> कांग्रेस ने किया मोहन भागवत पर वार, कहा- संघ में बदलाव सिर्फ ढोंग

कांग्रेस ने किया मोहन भागवत पर वार, कहा- संघ में बदलाव सिर्फ ढोंग

लखनऊ 24 सितम्बर 2018 । भाजपा को दिशा देने वाले राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) में इन दिनों काफी बदलाव की बात की जा रही है। हाल ही में नई दिल्ली में हुए 3 दिवसीय सम्मेलन में संघ प्रमुख मोहन भागवत ने बहुत बड़ी-बड़ी बातें कही हैं, लेकिन कांग्रेस का संघ पर तनिक भी भरोसा नहीं है। यही वजह है कि कांग्रेस ने संघ और भागवत पर हमले भी तेज कर दिए हैं। कांग्रेस ने सोशल मीडिया पर संघ को एक्सपोज करने की मुहिम भी शुरू कर दी है।

कांग्रेस ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक वीडियो जारी कर संघ और मोहन भागवत को आड़े हाथ लिया है। इस वीडियो में भागवत के बयानों पर भी निशाना साधा गया है। मीडिया द्वारा संघ के बारे में अब तक जो कहा गया है, उनको लेकर भी भागवत और संघ पर चुटकी ली गई है। कांग्रेस लिखती है कि ये जो बात बदलने की करते हो, ये सिर्फ तुम्हारा ढोंग है। नफरत की खेती पर सत्ता पाने का, तुम्हें बहुत पुराना रोग है।

कांग्रेस ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संस्थापक हेडगेवार को एक सुधारक बताने पर भी सवाल उठाए हैं। कांग्रेस के वीडियो में हेडगेवार के सामाजिक परिवर्तन कोशिश को ‘द कारवां’ मैगजीन के कवर से झुठलाने का प्रयास किया है, जिसमें लिखा है कि गांधी जी द्वारा मुस्लिमों से बातचीत के प्रस्ताव को नहीं पचा पाने की वजह से हेडगेवार ने आरएसएस की स्थापना की। वहीं, ‘द क्विंट’ का हवाला दिया और कहा कि हेडगेवार ने भारतीय मुस्लिमों को यवन सांप (विदेशी) बताया।

इसके बाद भागवत के उस बयान को दिखाया जाता है, जिसमें वह कहते हैं कि हिंदुत्व सभी को जोड़ता है और हम संपूर्ण हिंदू समाज का गठन करेंगे। इसके लिए समाज को ठीक करना है। यहां भागवत ने जनजातीय समाज को भी हिंदू करार दिया। इस पर कांग्रेस ने एमएस गोलवलकर का हवाला देते हुए लिखा कि संघ का मानना रहा है कि यह भरोसा करना आत्महत्या के समान होगा कि पाकिस्तान के निर्माण के बाद मुस्लिम रातों-रात देश भक्त के रूप में बदल गए।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

फ्रांस से भारत आएंगे 4 और राफेल लड़ाकू विमान, 101 स्क्वाड्रन को फिर से जिंदा करने के लिए IAF तैयार

नई दिल्ली 15 मई 2021 । राफेल लड़ाकू विमान का एक और जत्था 19-20 मई …