मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> कांग्रेस अध्‍यक्ष पद के लिए होगा चुनाव, ये आठ नाम रेस में

कांग्रेस अध्‍यक्ष पद के लिए होगा चुनाव, ये आठ नाम रेस में

नई दिल्ली 19 जुलाई 2019 । कांग्रेस के अध्‍यक्ष की कमान किसके हाथ जाएगी, इसको लेकर चर्चा का दौर जारी है. कांग्रेस कमेटी ने इशारा किया कि पार्टी अध्यक्ष के चुनाव के लिए सीडब्ल्यूसी की बैठक 22 जुलाई के बाद होगी. सूत्रों की मानें तो इस बार कांग्रेस अध्‍यक्ष पद के लिए चुनाव होगा जिसमें गांधी परिवार का कोई भी सदस्य का नाम शामिल नहीं किया जाएगा. आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव में मिली करारी शिकस्त के बाद राहुल गांधी इस्तीफा दे चुके हैं. यही नहीं उन्होंने साफ शब्दों में कहा है कि पार्टी जल्द ही कोई अध्यक्ष ढूंढे. पार्टी इस मुद्दे का हल निकालने में लाचार नजर आ रही है.
युवा संभाले कमान
पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह दो बार सार्वजनिक तौर पर कह चुके हैं कि किसी वरिष्ठ कांग्रेसी की बजाए किसी युवा को पार्टी का नेतृत्व करना चाहिए. पार्टी की कमान संभालने के लिए मोतीलाल वोरा का नाम चर्चा में था लेकिन बात नहीं बनी. सूत्रों की माने तो दबाव और विरोध के बीच पार्टी के प्रबंधक, अध्यक्ष की नियुक्ति को दो-तीन महीने के लिए टालकर पद के लिए चुनाव कराने के पक्ष में हैं.
प्रियंका का नाम
कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए प्रियंका गांधी का नाम भी सामने आने लगा है. पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के बेटे और पूर्व सांसद अभिजीत मुखर्जी ने प्रियंका गांधी वाड्रा के पक्ष में खुली अपील की है और कहा है कि उन्हें पार्टी की कमान संभालनी चाहिए. देशभर के कांग्रेस कार्यकर्ताओं की यही मांग है. पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता अनिल शास्त्री ने कहा कि इस वक्त पार्टी की अगुवाई करने के लिए प्रियंका गांधी बेहतरीन शख्सियत हैं. अन्य नेताओं के विचार पर पूर्व केंद्रीय मंत्री श्रीप्रकाश जयसवाल ने भी सहमति जतायी है और प्रियंका गांधी को पार्टी का अध्यक्ष बनाने की जोरदार वकालत की है.
दौड़ में शामिल हैं आठ चेहरे
सूत्रों की मानें तो कांग्रेस अध्यक्ष पद की रेस में कम से कम आठ नेता हैं. रेस में कांग्रेस की पुरानी और नयी दोनों पीढ़ी के नेता शामिल हैं. कांग्रेस के नये अध्यक्ष के दावेदारों में दलित समुदाय के चार वरिष्ठ नेताओं का नाम आ रहा है. ये नाम हैं मल्लिकार्जुन खड़गे, सुशील कुमार शिंदे, मीरा कुमार और मुकुल वासनिक…वहीं दूसरी ओर युवा और संगठन के अनुभव के लिहाज से मुकुल वासनिक को प्रमुख दावेदारों में से एक बताया जा रहा है. राजस्थान के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट और कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया की गिनती नयी पीढ़ी के नेतृत्व के चेहरे के तौर पर की जा रही है. युवा चेहरों में मिलिंद देवड़ा भी एक नाम आ रहा है.

इधर अमेरिका रवाना हुए राहुल गांधी, उधर भाजपा ने मार ली बड़ी बाजी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपना पद तो छोड़ दिया है। इसके बाद कांग्रेस के नए अध्यक्ष पद के लिए चुनाव होने जा रहे हैं। जैसा की राहुल गांधी ने वादा किया था कि वो चुनाव के दौरान भारत में नहीं रहेंगे क्योंकि वो नहीं चाहते हैं कि किसी भी तरह से गांधी परिवार से यह चुनाव प्रभावित हो, इसीलिए वो अमेरिका रवाना हो गए। हालांकि इधर वो अमेरिका रवाना हुए, उधर कांग्रेस के लिए बुरी खबर आ गई। आइए जानें वो भाजपा ने कैसे बाजी मारी।

चुनाव तक अमेरिका में ही रहेंगे राहुल
पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अमेरिका में तब तक रहेंगे जब तक कांग्रेस समिति अपना अध्यक्ष चुन नहीं लेती है। इसके लिए आठ नामों की लिस्ट भी तैयार हो गई है। हालांकि इनमें एक भी नाम गांधी परिवार से नहीं है। इसकी वजह राहुल का ही वो फरमान है जिसमें उन्होंने साफ कह दिया था कि वो नहीं चाहते हैं कि गांधी परिवार इस बार अध्यक्ष पद संभाले। इसी वजह से वो अमेरिका चले गए।

जानें भाजपा ने मारी कौन सी बाजी
राहुल गांधी के अमेरिका रवाना होते ही कांग्रेस के लिए बुरी खबर आ गई। गुजरात में कांग्रेस के पूर्व नेता अल्पेश ठाकोर को मनाने में पार्टी नाकाम हो गई और उन्होंने गुरुवार को भाजपा का दामन थाम लिया। उनके साथ पूर्व विधायक धवल सिंह झाला भी शामिल हो गए। दोनों सायं करीब 4 बजे भाजपाई बन गए। ठाकोर को राहुल का करीबी नेता माना जाता था लेकिन उनको वापस लाने के लिए पार्टी नाकाम रही और भाजपा ने बड़ी बाजी मार ली।

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने की पीएम नरेंद्र मोदी की तारीफ, कहा- मुझे नीति आयोग की सब कमेटी में शामिल किया, इसके लिए मैं PM मोदी का आभारी रहूंगा

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने विधानसभा की कार्यवाही के दौरान सदन में बजट पर चर्चा के बीच कहा कि मुझे नीति आयोग की सब कमेटी में शामिल किया गया है। इसके लिए मैं पीएम मोदी का आभारी हूं। सीएम ने कहा कि पीएम मोदी ने बिना भेदभाव के काम किया। औद्दोगीकरण बिना निवेश के नहीं होता, 15 साल में बहुत कम निवेश मप्र में आया है।

वहीं विधानसभा में सीएम कमलनाथ ने कहा कि मप्र के विकास के लिए, नौजवानों के नवनिर्माण के लिए उम्मीद है सभी का सहयोग मिलेगा। सीएम कमलनाथ ने सदन में कहा कि बिजली के स्टोरेज के लिए चीन में काम कर रहीं अमेरिका और जापान की कम्पनी से चर्चा की गई है। इसी हफ्ते एक प्रतिनिधिमंडल आएगा। सरप्लस बिजली का स्टोरेज प्लांट प्रदेश के लिए बड़ी उपलब्धि होगी। बता दें कि आज सुबह ही विधानसभा में बिजली की समस्या और भारी भरकम बिल को लेकर सदन में हंगामा हुआ था।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा- ‘कांग्रेस न सदन चलने देती है और न चर्चा होने देती’

नई दिल्ली 27 जुलाई 2021 । संसद शुरू होने से पहले भाजपा संसदीय दल की …