मुख्य पृष्ठ >> अंतर्राष्ट्रीय >> देश में तेजी से पांव पसार रहा कोरोना, महज 8 दिन में 89 से 250 हो गए पीड़ित

देश में तेजी से पांव पसार रहा कोरोना, महज 8 दिन में 89 से 250 हो गए पीड़ित

नई दिल्ली 21 मार्च 2020 । भारत में कोरोना वायरस तेजी से पांव पसार रहा है. इससे अब तक 250 लोग संक्रमित पाए गए हैं, वहीं चार लोगों की मौत हो चुकी है. इस महामारी को फैलने से रोकने के लिए भारत के कई शहरों में पाबंदियां लगाई गई हैं. कोरोना वायरस का अभी तक कोई इलाज नहीं है. ऐसे में वायरस को बड़े स्तर पर जाने से रोकने के लिए बचाव ही एक मात्र उपाय है. इसे देखते हुए भारत ने समय रहते कई आवश्क कदम उठाए हैं.

हालांकि, भारत में कोरोना से संक्रमित लोगों का आंकड़ा तेज से बढ़ रहा है. 13 मार्च को जहां कोरोना मरीजों की संख्या 89 थी, तो वहीं 14 मार्च को 96 हो गई.

15 मार्च को कोरोना के 112 केस सामने आए, तो 16 मार्च को बढ़कर 124 हो गया. 17 मार्च को 139 केस सामने आए, तो 18 मार्च को बढ़कर 168 हो गया. वही, 19 मार्च को 195 केस थे जो बढ़कर आज यानी 20 मार्च को 250 पहुंच गया है.

कोरोना के खतरा को देखते हुए भारत के तमाम शहर लॉकडाउन की तरफ बढ़ रहे हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में इस संकट से मुकाबला करने लिए 22 मार्च को जनता कर्फ्यू लगाने की बात की है. उन्होंने लोगों से अपील की है कि लोग घर से बाहर ना निकलें.

22 मार्च को जनता कर्फ्यू के दौरान 24 घंटे के लिए ट्रेन सेवाएं भी बंद रहेंगी. रेल मंत्रालय ने घोषणा की है कि 21/22 मार्च की आधी रात यानी ठीक 12 बजे से 22 मार्च की देर रात 10 बजे तक, 22 घंटे कोई भी यात्री ट्रेन नहीं चलेगी.

महाराष्ट्र में अब तक सबसे ज्यादा कोरोना वायरस के पॉजिटिव मामले देखने को मिले हैं. महाराष्ट्र सरकार ने सबसे ज्यादा प्रभावित मुंबई, पुणे, पिंपरी-चिंचवाड़ा और नागपुर में तमाम सेवाओं पर पाबंदी लगा दी है. वहीं सरकार ने पुलिस को क्वारनटीन का उल्लंघन करने वालों पर केस दर्ज करने का आदेश दिया है.
दिल्ली में अगले तीन दिनों के लिए बाजार बंद रहेंगे. पार्लर और सैलून भी दिल्ली में बंद रहेंगे. इसके अलावा दिल्ली के सभी रेस्टोरेंट 31 मार्च तक बंद रहेंगे. इसके अलावा राष्ट्रीय राजधानी में सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूल के साथ सभी जिम, नाइट क्लब और स्पा 31 मार्च तक के लिए बंद है.
कोरोना वायरस के संकट के बीच दिल्ली मेट्रो रेल कारपोरेशन (डीएमआरसी) ने अहम कदम उठाया है. डीएमआरसी ने 22 मार्च को दिल्ली मेट्रो की सेवाएं बंद रखने का ऐलान किया है. 22 मार्च को जनता कर्फ्यू के तहत दिल्ली मेट्रो बंद रहेगी.

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने राज्य में मॉल बंद करने का आदेश दिया है. इसके तहत उत्तर प्रदेश में सभी मॉल बंद रहेंगे. वहीं लखनऊ, कानपुर और नोएडा को सैनिटाइज करने का आदेश भी योगी सरकार ने दिया है. इसके अलावा लखनऊ में सभी रेस्टोरेंट, ढ़ाबा, मिठाई की दूकानें, कैफे सभी को 31 मार्च तक बंद करने का आदेश दिया गया है. वहीं राज्य में किसी बड़ी सभा या भीड़ इकट्ठा होने पर भी पाबंदी लगाई गई है.

इटली में एक दिन में हुईं रिकॉर्ड 627 मौतें, नहीं थम रहा कोरोना का कहर

कोरोना वायरस दुनिया भर के लिए एक विकराल समस्या बनता जा रहा है. चीन के वुहान शहर से शुरू हुआ इसका प्रसार रुकने का नाम ही नहीं ले रहा है. अबतक दुनिया के तमाम देश इसकी चपेट में आ चुके हैं. भारत में भी यह वायरस तेजी से फैल रहा है.

ताजा आंकड़े बता रहे हैं कि इटली में कोरोना का कहर रुकने का नाम नहीं ले रहा है. शुक्रवार को इटली में कोरोना की वजह से 627 लोगों की जान चली गई, जबकि कोरोना वायरस के संक्रमण के 5986 नए मामले भी सामने आए.

आपको बता दें कि शुक्रवार के इन आंकड़ों को मिला लें तो इटली में अब तक कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़कर 4032 हो चुकी है. वहीं कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या भी बढ़कर 47,021 हो चुकी है.

इटली में कोरोना वायरस का फैलाव कुछ ज्यादा ही तेजी से होता नजर आ रहा है. इटली में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की बात करें तो उनमें से 2,655 लोगों की हालत काफी गंभीर बताई जा रही है.

गुरुवार को मौत के आंकड़ों में इटली ने चीन को कर दिया था पीछे

इटली और चीन के आंकड़े बताते हैं कि वायरस से बुजुर्गों को ज्यादा खतरा है. कोरोना से होने वाली मौत के मामले में गुरुवार रात तक इटली ने चीन को पीछे छोड़ दिया है. इटली के स्वास्थ्य संस्थान ने अपने एक अध्ययन में कहा है कि ज्यादातर मौतें बुजुर्गों की हुई हैं. इटली में हुई मौत की औसत उम्र 80 साल के आसपास है. हालांकि सबसे ज्यादा संक्रमित होने वाले लोगों की औसत उम्र 63 साल है.

कुछ इसी तरह से मिलता जुलता अध्ययन चीन का रहा है. चीन में कुल मौत में से चौदह फीसदी से ज्यादा 80 साल से ऊपर वाले बुजुर्गों की रही. जबकि 8 फीसदी मौत 70 से 79 साल की उम्र वाले लोगों की थी. चीन के सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (CCDC) ने 11 फरवरी तक के कुल 72, 314 में से 44 हजार से ज्यादा मामलों के अध्ययन के बाद पाया कि बुजुर्गों की खास देखभाल जरूरी है.

इस वजह से बुजुर्गों को हो रही है दिक्कत

कोरोना वायरस से बुजुर्गों की सबसे ज्यादा मौत की वजह उनकी प्रतिरोध क्षमता का कम होना और डायबिटीज, फेफड़े के रोग जैसी पुरानी बीमारियां बड़ी वजह हैं. ऐसे में इस तरह का संक्रमण उनके लिए जानलेवा बन सकता है. बुजुर्ग भले ही ज्यादा भीड़-भाड़ वाली जगहों पर नहीं जाते हों लेकिन ये संक्रमण युवा लोगों के जरिए भी पहुंच रहा है.

कनिका कपूर की मुश्किलें बढ़ीं

सिंगर कनिका कपूर के कोरोना वायरस से पीड़ित होने की खबर जब से सामने आई है, तबसे देश भर में कोरोना को लेकर खौफ और तेजी से बढ़ गया है. कनिका 15 मार्च को लंदन से वापस आई थीं. मगर एयरपोर्ट पर उन्होंने अपना चेकअप नहीं कराया. ऐसे में यूपी सरकार ने उनपर सख्त कदम उठाने का फैसला लिया है. उनपर कानूनी कार्रवाई कर दी गई है. सिंगर पर .

कनिका पर संवेदनशील मुद्दे पर जानकारी छिपाने के आरोप में कार्रवाई की गई है. कुछ समय पहले ही आला अधिकारियों इसपर मीटिंग की थी. सिंगर पर आईपीसी धारा 188,269 और 270 के तहत एफआईआर दर्ज हुई है. कनिका के खिलाफ लखनऊ के सरोजिनी नगर थाने में एफआईआर दर्ज की गई है. बता दें कि लंदन से वापस आने के बाद उन्होंने अपना चेकअप नहीं कराया और वे लखनऊ में कई लोगों से मिलीं. वापस आने के बाद कनिका ने रविवार को गैलेंट अपार्टमेंट में एक पार्टी ऑर्गनाइज की थी. पार्टी में वसुंधरा राजे, दुष्यंत सिंह समेत कई बड़ी हस्तियां मौजूद थीं.

 

बता दें कि कनिका ने सोशल मीडिया पर पोस्ट के जरिए कनिका ने अपनी ओर से सफाई दी. उन्होंने लिखा- ”पिछले चार दिनों से मुझे फ्लू है. मैंने अपना टेस्ट करवाया और कोरोना पॉजिटिव निकला. इस समय में क्वारनटीन में हूं. डॉक्टरों की सलाह के मुताबिक मेरा उपचार चल रहा है. जिन लोगों के मैं संपक में आई हूं, उनको भी देखा जा रहा है.”

”मुझे 10 दिन पहले एयरपोर्ट पर भी स्कैन किया गया था. लेकिन पिछले 4 दिनों से मुझमें कोरोना के लक्षण आए हैं. मैं सभी से अनुरोध करती हूं कि वो भी इस समय ज्यादा से ज्यादा अकेले रहें और अगर कोरोना जैसे लक्षण लगे तो तुंरत अपना टेस्ट करवाएं. हम इस परिस्तथिति से निकल सकते हैं अगर सभी साथ मिलकर सरकार के दिशा-निर्देश का पालन करें.”

कोरोना पीड़ित कनिका कपूर के साथ कौन हैं ये हाई प्रोफाइल हस्तियां?

मशहूर सिंगर कनिका कपूर भी कोरोना पॉजिटिव पाई गई हैं. कनिका लंदन से लौंटी और कई पार्टियों में भी शामिल हुंईं. पार्टी में कई बड़े नेता, सासंद, अफसर शामिल थे. खबर के बाद अब सबमें हडकंप मचा है. हालांकि कनिका ने सफाई देते हुए कहा कि उन्हें कुछ नहीं मालूंम था और उन्होंने वक्त रहते एहतियात बरता. इस वीडियो में आपको बताएंगे कि कनिका की पार्टी में मौजूद हाई प्रोफाइल हस्तियां कौन हैं?

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

भस्मासुर बना तालिबान, अपने ही सुप्रीम लीडर अखुंदजादा का कत्ल; मुल्ला बरादर को बना लिया बंधक

नई दिल्ली 21 सितम्बर 2021 । अफगानिस्तान में सत्ता पाने के बाद आपस में खूनी …