मुख्य पृष्ठ >> अंतर्राष्ट्रीय >> कोरोना वायरस का खतरा, नेपाल-भारत सीमा पर बढ़ी चौकसी

कोरोना वायरस का खतरा, नेपाल-भारत सीमा पर बढ़ी चौकसी

नई दिल्ली 29 जनवरी 2020 । नेपाल में कोरोना वायरस के एक मामले की पुष्टि होने की खबर के मद्देनजर केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने नेपाल-भारत की सीमा के सभी प्रवेश द्वार पर चौकसी बढ़ा दी है। पश्चिम बंगाल से नेपाल जाने वाले रास्ते पानीटंकी, नेपाल के जूलाघाट, पिथौड़ागढ़ के जौलजीबी में स्वास्थ्य जांच केन्द्र स्थापित किया गया है। इसमें स्वास्थ्य मंत्रालय की विशेष टीमें तैनात किए गए हैं। इसके साथ केन्द्र ने राज्यों को नेपाल से आने वाले सभी रास्तों पर स्वास्थ्य जांच केन्द्र स्थापित करने को कहा है। उल्लेखनीय है कि तीन दिन पहले नेपाल में कोरोना वायरस के एक मामले की पुष्टि हुई थी। इसी के मद्देनजर प्रधानमंत्री कार्यालय के प्रमुख सचिव ने गत शनिवार को स्वास्थ्य़ अधिकारियों के साथ आपात बैठक की थी। इससे पहले शनिवार को स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के साथ चीन व नेपाल सीमा से लगे सभी राज्यों को भी स्वास्थ्य मंत्रालय ने चिट्ठी लिखी थी। चीन में कोरोना वायरस के अबतक 1000 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं और 80 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।

उज्जैन में कोरोना वायरस का संदेही मरीज मिलने से मचा हड़कंप

उज्जैन में कोरोना वायरस का संदेही मरीज मिलने से हड़कंप मचा हुआ है। मरीज छात्र और उसकी माँ को शासकीय माधवनगर चिकित्सालय के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया है और ब्लड के सेम्पल लेकर जांच के लिए पुणे भेजा गया है। दरअसल चायना से भारत आने वाले लोगो की जांच के लिए एयरपोर्ट पर स्क्रीनिंग की व्यवस्था है लेकिन उसके पहले की छात्र भारत लौट आया था इसलिए जांच नही हो पाई थी जो कि अब उज्जैन के शासकीय चिकित्सालय में की जा रही है। छात्र उज्जैन के महानंदा नगर में रहता है जो कि चायना में मेडिकल की पढ़ाई कर रहा था और 13 जनवरी को भारत लौटा था। यह छात्र चायना के वुहान शहर में रह रहा था और इसी शहर से यह वायरस शुरू हुआ है इसलिए यह मामला काफी संदिग्ध माना जा रहा है। डॉक्टरों की टीम अब माँ बेटे पर 28 दिन तक रखेगी नजर। जिला कलेक्टर ने चिकित्सालय पहुंचकर मरीज के विषय मे जानकारी ली और विशेष नजर रखने के निर्देश दिये। हालां की जांच रिपोर्ट आने पर ही कोरोना वायरस का खुलासा हो पाएगा।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा- ‘कांग्रेस न सदन चलने देती है और न चर्चा होने देती’

नई दिल्ली 27 जुलाई 2021 । संसद शुरू होने से पहले भाजपा संसदीय दल की …