मुख्य पृष्ठ >> अंतर्राष्ट्रीय >> देश में कोरोना के दक्षिण अफ्रीकी स्ट्रेन की दस्तक

देश में कोरोना के दक्षिण अफ्रीकी स्ट्रेन की दस्तक

नई दिल्ली 18 फरवरी 2021 । भारत में दक्षिण अफ्रीका वाले कोरोना वायरस का पहला मामला सामने आया है. दक्षिण अफ्रीका से लौटे 4 लोगों में यह कोरोना का यह नया रूप मिला है.

सभी पीड़ित लोगों को क्वारंटीन कर दिया गया है और उनके संपर्क में आए लोगों का भी टेस्ट कर उन्हें क्वारंटीन कर दिया गया है.

बता दें कि ब्राजील वाले कोरोना वायरस का भी एक मामला फरवरी के पहले हफ्ते में सामने आया था. खास बात ये है कि दक्षिण अफ्रीका और ब्राजील वाले कोरोना वायरस का रूप ब्रिटेन में मिले नए स्ट्रेन से अलग है.

केरल और महाराष्ट्र में कोरोना वायरस का कहर जारी है. इन दोनों राज्यों में ही देश के 72 फीसदी एक्टिव मामले हैं. हालांकि, देश में कुल सक्रिय मामलों की संख्या गिरी है. देश में फिलहाल 1.40 लाख से कम कोरोनामरीज हैं.

आज प्रेस ब्रीफिंग के दौरान केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह जानकारी दी है. खास बात है कि महाराष्ट्र में बढ़ते मामलों को देखते हुए अधिकारियों को राज्य में दूसरी लहर का डर सता रहा है.

CM उद्धव ठाकरे को आया गुस्सा, बोले- कोरोना नियम पालन होगा या फिर लगा दिया जाए लॉकडाउन

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने सूबे में बढ़ रहे कोरोना वायरस के ग्राफ को देखते हुए दोबारा लॉकडाउन लगाने की धमकी दी है. आज मंत्रियो के साथ हुई बैठक मैं उद्धव ठाकरे ने कोरोना के कारण हर जिले में फैल रहे संक्रमण के चलते उपजी परिस्थितियों का जायजा लिया.

इस बैठक में उद्धव ने कोरोना और लॉकडाउन के नियमों को सख्ती से लागू करने के संकेत दिए. मुख्यमंत्री ने साथ ही उन इलाकों में टेस्टिंग और स्क्रीनिंग बढ़ाने के निर्देश दिए जहां एक बार फिर कोरोना के मामलों में तेजी देखने को मिल रही है.

मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा जारी किए गए एक बयान में उद्धव ने सूबे की जनता से पूछा है कि जनता कोरोना नियमों का पालन करना चाहेगी या सूबे में दोबारा लॉकडाउन लगा दिया जाए. सीएमओ से जारी बयान में कहा गया है, बहुत सारे लोग मास्क नहीं पहन रहे हैं.

लोगों को लग रहा है कि कोरोना चला गया है. पुलिस और प्रशासन पर नियमों का पालन करवाने की जिम्मेदारी है और जो लोग नियम नहीं मान रहे हैं उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए. प्रशासन उन लोगों की भी स्थिति की जानकारी ले जिन्हें पहले कोरोना हो चुका है.

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

Ram Mandir निर्माण के लिए Rajasthan के लोगों ने दिया सबसे ज्यादा चंदा

जयपुर: विश्व हिंदू परिषद (VHP) के केंद्रीय उपाध्यक्ष और श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के …