मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> लॉकडाउन से हताश शिल्पकार ने मंदिर में देवी को चढ़ावा चढ़ाने के लिए काटी अपनी जीभ !

लॉकडाउन से हताश शिल्पकार ने मंदिर में देवी को चढ़ावा चढ़ाने के लिए काटी अपनी जीभ !

मुरैना 19 अप्रैल 2020 ।  मध्य प्रदेश के रहने वाले एक प्रवासी शिल्पकार ने गुजरात के एक मंदिर में अपनी जीभ काट दी। ऐसा माना जा रहा है कि वह लॉकडाउन के कारण हताश था और घर वापस जाना चाहता था। हालांकि, पुलिस ने उन खबरों से इंकार किया है कि शिल्पकार ने मंदिर में देवी को ‘चढ़ावा’ चढ़ाने के लिये अपनी जीभ काटी है।

मध्य प्रदेश के मुरैना जिला निवासी विवेक शर्मा पेशे से शिल्पकार है। उन्हें शनिवार को सुई गाम तहसील के नादेश्वरी गांव के नादेश्वरी माता मंदिर में खून से लथपथ बेहोश स्थिति में पाया गया। विवेक शर्मा की उम्र 24 साल बताई जा रही है।

पुलिस उपनिरीक्षक एच.डी. परमार ने बताया, ‘जब वह हमें मिला उसने अपनी जीभ हाथ में पकड़ी हुई थी। हम उसे तुरंत सुई गाम अस्पताल ले गए।’ जिस मंदिर में यह घटना हुई, उसकी देखभाल सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) करता है, जबकि शर्मा वहां से करीब 14 किलोमीटर दूर एक दूसरे मंदिर में काम करता था। प्रारंभिक जांच के अनुसार, लॉकडाउन के कारण राज्यों की सीमाएं सील होने के बाद शर्मा को घर की बहुत याद सता रही थी और वह व्याकुल हो गया था।

बीएसएफ के स्थानीय अधिकारी ने बताया कि शर्मा ने संभवत: सोचा होगा कि देवी को जीभ के रूप में चढ़ावा चढ़ाने से हालात बदल जाएंगे और वह घर जा सकेगा। हालांकि, पुलिस ने कहा कि शर्मा की तबीयत सुधरने और उसका बयान दर्ज करने से पहले वह ऐसी किसी भी चीज की पुष्टि नहीं कर सकती कि वास्तव में क्या हुआ था।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

फतह मुबारक हो मुसलमानो, भारत के खिलाफ जीत इस्लाम की जीत…जश्न मनाने के बदले जहर उगलने लगा पाक

नई दिल्ली 25 अक्टूबर 2021 । खराब बल्लेबाजी और खराब गेंदबाजी की वजह से टीम …