मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> कार्रवाई की चेतावनी के बाद दिग्विजय ने विवादित ट्वीट हटाया, CM बोले- यह हिंसा फैलाने की साजिश

कार्रवाई की चेतावनी के बाद दिग्विजय ने विवादित ट्वीट हटाया, CM बोले- यह हिंसा फैलाने की साजिश

भोपाल 12 अप्रैल 2022 । कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह एक बार फिर ट्वीट के साथ एक विवादित फोटो डालने के बाद चर्चा में आ गए। जिस पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और अन्य की प्रतिक्रियाएं आईं। इसके बाद दिग्विजय सिंह ने इसे ट्वीट को हटा दिया। दिग्विजय सिंह ने ट्वीट में एक फोटो पोस्ट करते हुए लिखा था, ‘क्या तलवार लाठी लेकर धार्मिक स्थल पर झंडा लगाना उचित है? क्या खरगोन प्रशासन ने हथियारों को लेकर जुलूस निकालने की इजाजत दी थी? क्या जिन्होंने पत्थर फेंके चाहे जिस धर्म के हों, सभी के घर बुलडोजर चलेगा? शिवराज ही मत भूलिए आपने निष्पक्ष होकर सरकार चलाने की शपथ ली है।’ इसके साथ पोस्ट किए गए फोटो में दिख रहा है कि कुछ भगवाधारी युवक हाथों में भगवा और तलवार लिए एक धार्मिक स्थल पर ध्वज लगा रहे हैं। इसके तत्काल बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर कहा कि दिग्विजय सिंह ने जो ट्वीट किया है, वो मध्यप्रदेश का नहीं है। दिग्विजय सिंह का यह ट्वीट प्रदेश में धार्मिक उन्माद फैलाने का षड़यंत्र है और प्रदेश को दंगे की आग में झोंकने की साजिश है, जिसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

दरअसल मध्य प्रदेश के खरगोन में रामनवमी के जुलूस के दौरान हुई हिंसा को लेकर कांग्रेस नेता ओर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह काफी मुखर नजर आ रहे हैं। वह सरकार पर एक के बाद एक लगातार हमले किए जा रहे हैं। ऐसे में उन्होंने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट लिख करके सरकार पर सवाल खड़े किए इसपर शिवराज सिंह सरकार ने इस पोस्ट में उपयोग किए गए फोटो पर आपत्ति जताते हुए कहा कि, दिग्विजय सिंह प्रदेश में दंगा करवाना चाहते हैं। तो वहीं प्रदेश के गृहमंत्री ने इस बात के सीधे संकेत दिए कि कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह के खिलाफ सरकार मामला दर्ज कर सकती है।

गृहमंत्री ने दिये कार्रवाई के संकेत

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के ट्वीट के बाद प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा का एक बयान सामने आया है। जिसमें उन्होंने कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह पर कार्रवाई करने की बात कही है। नरोत्तम मिश्रा ने अपने बयान में कहा कि दिग्विजय सिंह ने ट्वीट कर भ्रम फैलाया है। उन्होंने कहा कि दिग्विजय सिंह ऐसे भ्रम फैलाते रहते हैं। मध्य प्रदेश को बदनाम करने की बात हो या सांप्रदायिक तनाव फैलाने की बात हो वो ऐसा पहले भी करते आए हैं।

उन्होंने पहले पाकिस्तान के ब्रिज को भोपाल से जोड़कर बताया था। अब बाहर की मस्जिद जिस पर भगवा झंडा लहराया जा रहा है उसको मध्य प्रदेश से जोड़कर ट्वीट किया है। इस पर हम विधि-विशेषज्ञों से राय लेकर दिग्विजय सिंह पर संवैधानिक कार्रवाई करने का विचार कर रहे हैं।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

नरेश पटेल की एंट्री के कयास ने लिखी हार्दिक पटेल के एग्जिट की पटकथा

नयी दिल्ली 18 मई 2022 । कांग्रेस से लंबे समय से नाराज चल रहे गुजरात …