मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> उत्तरप्रदेश >> कुंभ पहुंचे दिग्विजय ने संगम स्नान के बाद बढ़ाई सियासी हलचल

कुंभ पहुंचे दिग्विजय ने संगम स्नान के बाद बढ़ाई सियासी हलचल

प्रयागराज 3 फरवरी 2019 । कुम्भ मेले में पहुंचे कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने भी आस्था की डुबकी लगायी। उन्होंने कम्प्यूटर बाबा समेत कई साधु संतों से भी मुलाकात की। पूर्व मुख्यमंत्री ने द्वारिका-शारदा पीठ के शंकराचार्य जगद्गुरु स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती के आश्रम में भी पहुंचे।
दिग्विजय सिंह ने राम मंदिर पर मुद्दे पर बोलते हुए भाजपा पर धर्म बेचने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अपने पुराने स्टैंड पर अभी भी कायम है। कांग्रेस नेता ने कहा कि भगवान राम का मंदिर बने इसमें किसी को एतराज नहीं है। लेकिन विवादित स्थल पर मंदिर का निर्माण की बात करना गलत है। जब तक मंदिर की जगह पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला ना हो मंदिर का निर्माण उचित नहीं है। दिग्विजय सिंह ने केंद्र सरकार द्वारा सुप्रीम कोर्ट से राम जन्मभूमि न्यास को गैर विवादित जमीन देने का अनुरोध किए जाने को भी उचित नहीं ठहराया है।
उन्होंने आरोप लगाया है कि भाजपा को यदि ऐसा ही करना था तो साढ़े चार साल इंतजार करने की क्या जरूरत थी। कांग्रेस नेता ने कहा है कि राम मंदिर निर्माण की लड़ाई निर्मोही अखाड़ा लड़ता रहा है। इसके लिए पूर्व प्रधानमंत्री नरसिम्हा राव ने रामालय ट्रस्ट का भी गठन किया था। उन्होंने कहा कि सनातन धर्म के धर्म गुरु, चारों पीठ के शंकराचार्य ही इस मामले में फैसला लेंगे।
उन्होंने विहिप पर हमला करते हुए कहा है कि विहिप हिंदुओं का प्रतिनिधित्व नहीं करती है। उन्होंने कहा है कि विहिप पूरी तरह से एक राजनीतिक संगठन है। दिग्विजय सिंह ने कहा है कि मैं विहिप के लोगों से बेहतर हिन्दू हूं। उन्होंने कहा कि हम धर्म को राजनीतिक रुप में नहीं देखते, धर्म हमारी आस्था का केंद्र है, राजनीति का मुद्दा नहीं है,। दिग्विजय सिंह ने प्रियंका के कांग्रेस की सक्रिय राजनीति में आने से कांग्रेस पर पड़ने वाले असर के बाबत पूछे गए सवाल पर कहा है कि कांग्रेसियों और आम लोगों में नई उर्जा आई है। उन्होंने राहुल और प्रियंका के भी कुंभ में आने का भी संभावना जतायी है। जबकि कुम्भ में विपक्ष के नेताओं के आने को लेकर भाजपा नेताओं के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि क्या अब भाजपा से पूछ कर कुम्भ आना पड़ेगा। उन्होंने कहा है कि जब से होश संभाला तबसे हर कुंभ में स्नान करने आता हूं, लेकिन मैं इसका प्रचार नहीं करता।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

पंजाब में अब जहरीली शराब बेचने वालों को मिलेगी सजा-ए-मौत

नई दिल्ली 3 मार्च 2021 । बीते साल पंजाब के अमृतसर, तरनतारन व गुरदासपुर जिले …