मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> दिग्विजय सिंह को कठिन सीट से लोकसभा चुनाव लड़ाना चाहते हैं CM कमलनाथ

दिग्विजय सिंह को कठिन सीट से लोकसभा चुनाव लड़ाना चाहते हैं CM कमलनाथ

भोपाल 17 मार्च 2019 । मध्य प्रदेश कांग्रेस में सीटों के लेकर आपा धापी मची हुई है. इस बीच मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शनिवार को कहा कि उन्होंने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह से आग्रह किया है कि अगर वो लोकसभा चुनाव लड़ना चाहते हैं तो कांग्रेस के लिए प्रदेश में कुछ कठिन सीटों में से एक पर वह चुनाव लड़ें.

कमलनाथ ने कहा कि मैंने दिग्वियज सिंह से आग्रह किया है कि अगर वह चुनाव लड़ना चाहते हैं तो वह किसी कठिन सीट से लोकसभा का चुनाव लड़ें. भोपाल और इन्दौर जैसी लोकसभा सीटों की बात करते हुए उन्होंने कहा कि प्रदेश में 2-3 लोकसभा सीटें ऐसी हैं जहां से हम 30-35 साल से नहीं जीते हैं.

उम्मीदवारों का ऐलान जल्द

उन्होंने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री खुद तय कर लें कि वह कहां से चुनाव लड़ना चाहते हैं. टिकट बंटवारे के सवाल का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि अगले 3-4 दिन में लोकसभा चुनाव में मध्यप्रदेश से कांग्रेस उम्मीदवारों के टिकट बांटने का काम शुरू हो जाएगा. मुख्यमंत्री कमलनाथ दो दिवसीय छिंदवाड़ा के दौरे पर आए हैं. यहां वो 11 चुनावी सभाओं को सम्बोधित करेंगे. इसके साथ ही कमलनाथ 29 अप्रैल को छिंदवाड़ा से विधानसभा सीट का उपचुनाव भी लड़ेंगे.

कमलनाथ के बेटे को टिकट?

छिंदवाड़ा लोकसभा सीट से कमलनाथ के पुत्र नकुल नाथ के कांग्रेस उम्मीदवार बनने की उम्मीद है. हालाकि कांग्रेस ने इसको लेकर कोई औपचारिक ऐलान नहीं किया है. कमलनाथ छिंदवाड़ा लोकसभा सीट से 9 बार सांसद रहे हैं. मुख्यमंत्री बनने के बाद नियमानुसार छह माह के अंदर उन्हें मध्यप्रदेश विधानसभा का सदस्य निर्वाचित होना है.

उपचुनाव कराने के लिए चार बार कांग्रेस विधायक रहे दीपक सक्सेना ने छिंदवाड़ा विधानसभा सीट से इस्तीफा देकर कमलनाथ के लिए रास्ता साफ कर दिया था. कांग्रेस सूत्र के मुताबिक कमलनाथ चाहते हैं कि दिग्वियज सिंह भोपाल लोकसभा सीट से चुनाव लड़ें. भोपाल लोकसभा सीट से कांग्रेस साल 1989 के बाद से चुनाव नहीं जीती है.

गोवा में कांग्रेस ने पेश किया सरकार बनाने का दावा, कहा- BJP के पास बहुमत नहीं

गोवा में लंबे वक्त से जारी राजनीतिक उथल-पुथल के बीच कांग्रेस ने शनिवार को सरकार बनाने का दावा पेश किया. कांग्रेस ने राज्यपाल मृदुला सिन्हा को पत्र लिखकर बीजेपी के नेतृत्व वाली राज्य सरकार को भंग करने की मांग की है. कांग्रेस ने दावा किया है कि विधानसभा में बीजेपी के पास बहुमत नहीं है और कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी है. इसलिए कांग्रेस को सरकार बनाने का मौका दिया जाना चाहिए.

इस पत्र में कांग्रेस ने यह भी लिखा है कि गोवा में राष्ट्रपति शासन लागू करने की कोई भी कोशिश गैर-कानूनी होगी और कांग्रेस उसे कोर्ट में चुनौती देगी.

विपक्ष के नेता चंद्रकांत कवलेकर की तरफ से भेजे गए इस पत्र में लिखा है, ‘मनोहर पर्रिकर के नेतृत्व वाली सरकार जनता का विश्वास खो चुकी है, साथ ही साथ वह विधानसभा में बहुमत खो चुकी है.’ उन्होंने लिखा कि उन्हें विश्वास है कि राज्यपाल संविधान के नियमों का पालन करेंगी.

बता दें कि गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर लंबे वक्त से बीमार चल रहे हैं. पैनक्रियाटिक कैंसर से पीड़ित 61 वर्षीय पर्रिकर को 31 जनवरी को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में भर्ती कराया गया था. हाल ही में बीमार मुख्यमंत्री ने 3 मार्च को गोवा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल (जीएमसीएच) में चेक-अप कराया था.

फरवरी में पर्रिकर का जीएमसीएच में एक ऑपरेशन भी हुआ था. शनिवार को मुख्यमंत्री कार्यालय ने पर्रिकर के स्वास्थ्य को लेकर जारी अफवाहों के मद्देनजर ट्वीट किया, ‘मीडिया में कुछ रिपोर्टों के संबंध में, यह स्पष्ट किया जाता है कि मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर की हालत स्थिर है.’

पीएम मोदी के मैं भी चौकीदार पर कांग्रेस अटैक, राहुल ने कसा तंज

लोकसभा चुनाव 2014 में जिस तरह ‘चायवाला’ शब्द छाया रहा वैसे ही 2019 में ‘चौकीदार’ को पक्ष और विपक्ष दोनों भुना रहे हैं। शनिवार को भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने ‘मैं भी चौकीदार’ विडियो लॉन्च किया। जिसपर पलटवार करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और अन्य नेताओं ने तंज कसा। बता दें कि पीएम मोदी अपनी रैलियों में खुद को चौकीदार कहते रहे हैं। फिर राफेल डील में गड़बड़ी के आरोप लगाकर राहुल ने ‘चौकीदार चोर है’ कहना शुरू किया। इसे काउंटर करने के लिए ही बीजेपी अब ‘मैं भी चौकीदार’ विडियो लाई।

शनिवार को राहुल गांधी ने एक तस्वीर शेयर करते हुए उसके साथ लिखा, ‘ रक्षात्मक ट्वीट मिस्टर मोदी! आज आपको अपराधबोध हो रहा है।’ राहुल ने जो तस्वीर पोस्ट की है उसमें पीएम मोदी के साथ अन्य कई लोग हैं। इनमें बैंक घोटाला कर विदेश भागनेवाले नीरव मोदी, मेहुल चौकसी, विजय माल्या की तस्वीर है। वहीं इसमें गौतम अडानी और अनिल अंबानी भी दिख रहे हैं।

वहीं कांग्रेस के सीनियर नेता रणदीप सुरजेवाला ने लिखा, ’10 लाख का सूट पहन ठाठ-बाट करने वाला, भगोड़ों नीरव मोदी-मेहुल-माल्या का साथ निभाने वाला, सरकारी खजाने से खुद के प्रचार पर ₹5200 करोड़ लुटाने वाला, जनता के पैसे से 84 विदेशी दौरों में सैर-सपाटे पर ₹2010 करोड़ उड़ाने वाला, राफेल में ₹30000 करोड़ की चोरी कराने वाला, एक ही चौकीदार चोर है।’

कांग्रेस नेता संजय झा ने लिखा, ‘लेकिन मिस्टर पीएम, चौकीदार के रूप में आप सिर्फ दो ही लोगों की सेवा कर रहे हैं। पहला अंबानी और दूसरा अडानी। सही बताइए चौकीदार चोर है?’

बीजेपी ने लॉन्च किया विडियो
लोकसभा चुनाव के प्रचार के तहत बीजेपी ने एक विडियो लॉन्च किया है। 3.45 मिनट के उस विडियो में ‘मैं भी चौकीदार’प्रमुख है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के तंज ‘चौकीदार चोर है’ के जवाब में उन्होंने ट्वीट कर कहा कि वह अकेले चौकीदार नहीं हैं। उन्होंने लिखा जो भी भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ रहा है वह चौकीदार है। मोदी के ट्वीट के बाद कई बीजेपी नेताओं ने भी ‘#मैंभीचौकीदार’ का प्रयोग कर ट्वीट किया।

भारतीय जनता पार्टी के सूत्रों ने कहा कि अभियान को राहुल गांधी के तंज के जवाब में शुरू किया गया है जैसा कि 2014 में पूर्व केंद्रीय मंत्री मणिशंकर अय्यर के ‘चायवाले’ तंज का आक्रामक तरीके से जवाब दिया गया था।

कांग्रेस ने कहा चौकीदार चोर है, तो भाजपा ने शुरू की मैं भी चौकीदार कैंपेन

कांग्रेस पार्टी ने कहा कि चौकीदार चोर है, तो भाजपा ने लोकसभा चुनाव के लिए मैं भी चौकीदार नाम से चुनावी कैंपेन शुरू कर दी है। साथ ही मैं भी चौकीदार नाम से टीशर्ट और टोपी भी लॉन्च कर दी है।

तो क्या चौकीदार चोर है, तो क्या आप चौकीदार लिखी हुई टोपी, टी-शर्ट पहनना पसंद करेंगे। भाजपा ने चुनाव प्रचार को लेकर मैं भी चौकीदार नाम से टीशर्ट, टोपी और एक बैग लॉन्च किया है। @‌BJP4India twitter हैंडल के जरिये इसका प्रचार किया जा रहा है। साथ ही @amitshah ने ट्वीट किया है कि “वो एक अकेला चल पड़ा…मैं उसकी ही क़तार हूँ, मैं नये भारत की कल्पना से सहमत विचार हूँ, मैं देश के विकास में छोटा सा भागीदार हूँ, हाँ मैं भी चौक़ीदार हूँ। हर उस भारतीय में है एक चौक़ीदार जिसे है देश की फ़िक्र” ।

आपको बता दे कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी समेत कांग्रेस के तनाम नेता चौकीदार चोर है, का नारा देते हुए भाषण की शुरूआत करते है। भाजपा ने चौकीदार शब्द को भुनाते हुए यह कैंपेन शुरू की है।

भारतीय जनता पार्टी के सूत्रों ने कहा कि अभियान को राहुल गांधी के तंज के जवाब में शुरू किया गया है जैसा कि 2014 में पूर्व केंद्रीय मंत्री मणिशंकर अय्यर के ‘चायवाले’ तंज का आक्रामक तरीके से जवाब दिया गया था। इस ट्वीट के बाद कई भाजपा नेताओं ने भी हैशटैगमैंभी चौकीदार का प्रयोग किया और ट्वीट किया।

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा, “मुझे हैशटैगमैंभी चौकीदार अभियान में शामिल होने पर गर्व है। मैं एक ऐसे नागरिक के रूप में जो भारत से प्यार करता है, भ्रष्टाचार, गंदगी, गरीबी और आतंकवाद को हराने की पूरी कोशिश करूंगा और एक नया भारत बनाने में मदद करूंगा जो मजबूत, सुरक्षित और समृद्ध हो।”

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

टूटे सारे रिकॉर्ड, 10 बिंदुओं में जानिए क्यों आ रहा जोरदार उछाल

नई दिल्ली 24 सितम्बर 2021 । घरेलू शेयर बाजार में शानदार तेजी का सिलसिला जारी …