मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> मोदी और योगी के रहते मंदिर नहीं बनना सदमे जैसा-उमा भारती

मोदी और योगी के रहते मंदिर नहीं बनना सदमे जैसा-उमा भारती

भोपाल  1 जनवरी 2019 । केंद्रीय स्वच्छता एवं पेयजल मंत्री उमा भारती ने कहा है कि सरकार बनाना किसी का पेटेंट नहीं। सरकार गिराने में हमारी कोई दिलचस्पी नहीं, संभलने के लिए कांग्रेस को ही प्रयास करना होगा। जनहित पर कुठाराघात हुआ तो जरूर हम लाठी लेकर खड़े हो जाएंगे। नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री और आदित्य नाथ योगी के उप्र में मुख्यमंत्री रहते हुए यदि मंदिर निर्माण नहीं हो पाता तो यह जनता के लिए सबसे बड़ा सदमा होगा।

भोपाल में अपने निवास पर पत्रकारों से चर्चा करते हुए उमा भारती ने अनेक मुद्दों पर बेबाकी से अपनी बात कही। मध्य प्रदेश में भाजपा की चुनावी हार और कांग्रेस सरकार के भविष्य को लेकर हुए सवाल पर उन्होंने कहा कि मप्र सरकार की कुंडली हम नहीं बनाएंगे। सरकार गिराने में हमारी कोई दिलचस्पी नहीं है। उन्हें स्वयं को अपने कामकाज से जनहितैषी साबित करना होगा। उन्हें स्वयं ही संभलना होगा, हम उनके फटे में टांग नहीं अड़ाएंगे लेकिन जनहित पर कुठाराघात हुआ तो हम लाठी लेकर खड़े हो जाएंगे।राम मंदिर को लेकर हुए सवाल पर उन्होंने दोहाराया कि मोदी-योगी के रहते मंदिर का रास्ता निकलना चाहिए। यदि ऐसा नहीं हुआ तो देश की जनता के लिए बड़ा सदमा होगा। भले ही एक्ट बनाएं लेकिन मंदिर का रास्ता बातचीत और सामंजस्य से ही निकलेगा। आरएसएस को लेकर सवाल पर वह बोलीं कि हिंदुत्व सरकारी एजेंडा नहीं है, जब तक महिलाओं की मांग में सिंदूर रहेगा तब तक हिंदुत्व कायम रहेगा।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

कोरोना की तीसरी लहर आई तो बच्चों को कैसे दें सुरक्षा कवच

नई दिल्ली 12 मई 2021 । भारत में कोरोना वायरस की दूसरी लहर से हाहाकार …