मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> किसानों के आंदोलन से पंजाब और हरियाणा में ट्रेनों की बनी रेल, जहां-तहां हुईं खड़ी, हजारों यात्री परेशान

किसानों के आंदोलन से पंजाब और हरियाणा में ट्रेनों की बनी रेल, जहां-तहां हुईं खड़ी, हजारों यात्री परेशान

नई दिल्ली 18 अक्टूबर 2021 । लखीमपुर खीरी कांड के विरोध में संयुक्त किसान मोर्चे के आह्वान पर देश के कई राज्यों में किसानों का ‘रेल रोको अभियान’ सोमवार को सुबह ही शुरू हो गया। इसका असर पश्चिम यूपी, दिल्ली के अलावा हरियाणा और पंजाब में देखने को मिल रहा है। खासतौर पर पंजाब और हरियाणा में किसान कई जगह रेलवे ट्रैक पर जमे हुए हैं और इसके चलते ट्रेनों का आवागमन बुरी तरह से प्रभावित हुआ है। केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा को पद से हटाए जाने की मांग करते हुए किसान आंदोलन कर रहे हैं। इस मामले में उनके बेटे आशीष मिश्रा को मुख्य आरोपी बनाया गया है। किसानों ने रेलवे ट्रैक्स को जाम कर रखा है, लेकिन अब तक यह आंदोलन शांतिपूर्ण बना हुआ है। किसान आंदोलनकारियों की मांग है कि तीनों नए कृषि कानूनों को खत्म किया जाए। इन मांगों के साथ किसान करीब एक साल से दिल्ली की सीमाओं पर डटे हुए हैं और कई हाईवे ब्लॉक हैं। किसान संगठनों का प्रतिनिधित्व कर रहे संयुक्त किसान मोर्चा ने सोमवार को सुबह 10 बजे से शाम 4 बजे तक रेल रोको अभियान का ऐलान किया था। हालांकि पंजाब के फिरोजपुर में एक घंटे पहले ही किसानों ने रेल ट्रैक को जाम कर दिया। हरियाणा और पंजाब के कई इलाकों में कानून व्यवस्था की स्थिति को बनाए रखने के लिए बड़े पैमाने पर पुलिस की तैनाती की गई है। किसानों के रेल रोको अभियान के चलते हजारों लोगों को मुसीबत का सामना करना पड़ रहा है। लोग ट्रेनों में बैठे हुए हैं और जहां-तहां गाड़ियों को रोकना पड़ा है। यही नहीं बड़ी संख्या में लोगों को रोडवेज से सफर करना पड़ रहा है। आइए जानते हैं, रेल रोको अभियान के चलते कहां क्या है हाल…

– अंबाला में किसानों ने दिल्ली-अंबाला रेल ट्रैक को जाम कर दिया है। शाहपुर गांव के पास किसान बड़ी संख्या में रेल ट्रैक के पास बैठ गए हैं। इससे ट्रेनों का आवागमन प्रभावित हुए हैं।

– पंजाब के मोगा जिले में भी कई स्थानों पर किसान रेलवे ट्रैकों पर डटे हुए हैं। फिरोजपुर डिविजन के रेलवे के प्रवक्ता ने कहा कि मंडल में कुल 5 यात्री ट्रेनों को रोका गया है। ये ट्रेनें फिरोजपुर कैंट, जलालाबाद, मोगा और लुधियाना में खड़ी हैं। – ट्रेनों के ठप होने के चलते पंजाब में हजारों लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा रहा है। ट्रेनों को छोड़कर लोग सड़क मार्ग से यात्रा करने को मजबूर हो रहे हैं।

– हरियाणा के करनाल में भी किसानों ने दिल्ली-अमृतसर रेल ट्रैक को जाम कर दिया है। किसी भी तरह की हिंसा की आशंका को टालने के लिए सरकार की ओर से बड़े पैमाने पर पुलिस बल की तैनाती की गई है। किसानों के रेल रोको अभियान का असर पंजाब और हरियाणा के अलावा जम्मू-कश्मीर, पश्चिम उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़ समेत कई राज्यों में देखने को मिल रहा है। इसके चलते रेलवे को बड़ी संख्या में ट्रेनों को कैंसल भी करना पड़ा है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

ज्ञानवापी मस्जिद का सर्वे पूरा, हिंदू पक्ष ने किया दावा-‘बाबा मिल गए’; कल कोर्ट में पेश होगी रिपोर्ट

नयी दिल्ली 16 मई 2022 । ज्ञानवापी मस्जिद का सर्वे पूरा हो गया है। तीसरे …