मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> MP में आर्थिक आपातकाल, कमलनाथ ने अफसरों को दी सख्त नसीहत

MP में आर्थिक आपातकाल, कमलनाथ ने अफसरों को दी सख्त नसीहत

भोपाल 21 फरवरी 2019 । प्रदेश में आर्थिक आपातकाल के हालात के कारण सरकार ने खर्चों पर लगाम कस दी है। कमलनाथ सरकार ने आहरण वितरण अधिकारियों की तय बजट से अधिक खर्च करने या अग्रिम राशि जारी करने पर जवाबदेही तय कर दी है। यदि तय बजट से अधिक खर्च होता है, तो कार्रवाई होगी।

चुनावी खर्च के बोझ के कारण सरकारी खजाने की हालत बहुत खराब है। इस बीच सरकार ने 31 मार्च तक 30 लाख से ज्यादा किसानों की कर्जमाफी करना तय किया है। अभी तक बजट से ज्यादा खर्च कर दिया जाता था और बाद में मद को अपडेट किया जाता था। अब इस पर रोक रहेगी।

अभी तक अग्रिम राशि आहरण कर ली जाती थी और बाद में समायोजन किया जाता था, अब इस पर भी रोक रहेगी। अग्रिम के लिए पहले मंजूरी लेना होगी। इसके बावजूद कहीं अग्रिम आहरण या बजट से ज्यादा खर्च होता है, तो संबंधित पर कार्रवाई होगी। इसका सबसे अधिक असर निर्माण, योजना और संचालन कार्यों पर होगा। इसके तहत पंचायतों के तहत आने वाले काम भी आएंगे। जो बड़े भुगतान रुके हुए हैं, उनका भुगतान अब नए वित्तीय सत्र में ही किया जाएगा।

मंत्रियों को दी जा चुकी है नसीहत

मुख्यमंत्री कमलनाथ की ओर से मंत्रियों को मितव्ययता की नसीहत दी जा चुकी है। काफिले में कटौती करने के लिए कहा गया था। मंत्रियों को अपने खर्च नियंत्रित करने के लिए कहा गया है।

वित्तमंत्री उठाएंगे खर्च

वित्तीय कसावट के तहत वित्तमंत्री तरुण भनोट ने अपना सत्कार खर्च खुद उठाना तय किया है। दरअसल, सभी मंत्रियों के यहां आगंतुकों के सत्कार के लिए सामान्य प्रशासन विभाग के जरिए व्यय किया जाता है। इसमें मितव्ययता बरतते हुए भनोट ने तय किया है कि वे अपने विभाग का सत्कार खर्च खुद वहन करेंगे। इसमें चाय-कॉफी सहित अन्य खर्च उनके निजी स्टॉफ को दिया जाएगा। इसके बाद वे खुद उसका भुगतान करेंगे।

अब सौ रूपए में मिलेगी सौ यूनिट बिजली

बिजली उपभोक्ताआंें को अब सौ यूनिट की बिजली खपत पर मात्र सौ रूपए का ही भुगतान करना होगा। और यदि सौ यूनिट से ज्यादा बिजली की खपत हुई तो उसकी अतिरिक्त राशि उपभोक्ताओं को टैरिफ के अनुसार ही भुगतान करनी होगी। सरल योजना के तहत पंजीकृत उपभोक्ताओं को यह सुविधा इंदिरा गृह ज्योति योजना के तहत मिलने जा रही है। इस योजना का लाभ 25 फरवरी एवं उसके बाद प्रारंभ होने वाले आगामी बिल चक्र से मिलेगा। उक्त जानकारी मध्य प्रदेश पूर्वी क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के नव पदस्थ मुख्य अभियंता के के अग्रवाल ने कार्यालय सभागार में पत्रकारों से चर्चा के दौरान दी।

अब सौ रूपए में मिलेगी सौ यूनिट बिजली
अब सौ रूपए में मिलेगी सौ यूनिट बिजली

श्री अग्रवाल ने बताया कि इंदिरा गांधी गृह ज्योति योजना के तहत शहडोल जिले में 94 हजार 876 बिजली उपभोक्ता लाभान्वित होंगे। उन्होंने बताया कि इस योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में 5 सौ वाट तक के संयोजित भार वाले अनमीटर्ड उपभोक्ताओं के लिए टैरिफ आदेश की श्रेणी एल वी 1.2 की उप श्रेणी (।।) के अनमीटर्ड संयोजन के लिए लागू दर से बिलिंग की जाएगी तथा शहरी क्षेत्रों में मीटर के आधार पर ही बिलिंग की जा सकेगी। मुख्य अभियंता श्री अग्रवाल ने यह भी बताया कि यदि किसी उपभोक्ता का पूर्व में लगा मीटर खराब हो गया है तो ऐसी स्थिति में तीन माह की औसत खपत सौ यूनिट से कम होने पर तदानुसार मान्य की जाएगी किन्तु औसत खपत सौ यूनिट से अधिक होने पर बिलिंग की सीमा सौ यूनिट ही होगी।

किसानों को 7 सौ लगेंगे

मुख्य अभियंता के के अग्रवाल ने बताया कि किसानों के लिए कंपनी द्वारा इंदिरा किसान ज्योति योजना लाई गई है। उन्होंने बताया कि इस योजना के तहत 10 हार्स पावर तक के स्थाई कृषि कनेक्शनों को अब सिर्फ 7 सौ रूपए प्रति हार्स पावर प्रति वर्ष के फ्लेट दर पर बिजली दी जाएगी। पूर्व में यह दर 14 सौ रूपए प्रति वर्ष थी। उन्हांेने यह भी बताया कि अनुसूचित जाति और जनजाति वर्ग के एक हेक्टेयर भूमि वाले एवं 5 हार्स पावर तक के किसानों को निःशुल्क बिजली प्रदान जारी रहेगा।

43 ट्रांसफार्मर लगेंगे

मुख्य अभियंता श्री अग्रवाल ने बताया कि बिजली उपभोक्ताओं को लो वोल्टेज की समस्या से निजात दिलाने के लिए नगरीय क्षेत्रों 43 नए ट्रांसफार्मर भी लगाए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि शहडोेल में 16, बुढ़ार में 6, ब्यौहारी में 9 और बाणसागर में 12 ट्रांसफारमर लगाए जा रहे हैं।

33 केवी की अतिरिक्त लाइन

मुख्य अभियंता श्री अग्रवाल ने बताया कि बिजली आपूर्ति में किसी तरह का व्यवधान उत्पन्न न हो इसके लिए 33 केवी की अतिरिक्त लाइन की भी वैकल्पिक व्यवस्था की जा रही है। इसका कार्य अंतिम चरण में हैं। उन्होंने यह भी बताया कि उपभोक्ताओं को आॅन लाइन बिजली का बिल जमा करने में दिक्कत न हो इसके लिए शहडोल में गांधी चैक के आसपास और जय स्तम्भ के आसपास अलग अलग एटीपी मशीन लगाने की तैयारी चल रही है। उन्होने बताया कि बिजली के फाल्ट को सुधारने के लिए शहडोल को एक अतिरिक्त वाहन उपलब्ध कराया जा रहा है, जिसमें 8 कर्मचारी तैनात रहेंगे। ये कर्मचारी तीन शिफ्ट में काम करेंगे। ये कर्मचारी कोटमा तिराहा के पास स्थित सब स्टेशन में तैनात रहेंगे। उन्हांेने बताया कि उपभोक्ताओं को लाभ पहुंचाने के लिए कंपनी द्वारा और भी कई प्रयास किए जा रहे हैं। पत्रकार वार्ता में कार्यपालन अभियंता मुकेश सिंह और आर सी सोनी भी उपस्थित रहे।

कांग्रेस के मप्र प्रभारी दीपक बाबरिया अस्‍वस्‍थ, एयर एंबुलेंस से दिल्ली ले जाया गया

भोपाल । अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव और प्रदेश प्रभारी दीपक बाबरिया की बुधवार रात अचानक तबीयत खराब हो गई। उन्हें तुरंत राजधानी के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया।

मुख्यमंत्री कमलनाथ सूचना मिलने के बाद मुख्यमंत्री निवास में चल रही बैठक को छोड़कर उन्हें देखने पहुंचे। डॉक्टरों ने उन्हें ब्रेन स्ट्रोक की शिकायत बताई।

मुख्यमंत्री ने उन्हें इलाज के लिए दिल्ली शिफ्ट करने एयर एंबुलेंस की व्यवस्था की और रात को ही वहां ले जाया गया।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

अभ्यास के दौरान गन का बैरल फटा, BSF जवान शहीद, 2 घायल

नई दिल्ली 4 मार्च 2021 । भारत-पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सीमा पर स्थित जैसलमेर जिले में कल …