मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> भ्रष्टाचार पर ED की सबसे बड़ी करवाई, TMC सांसद की 238 करोड़ की संपत्ति जब्त

भ्रष्टाचार पर ED की सबसे बड़ी करवाई, TMC सांसद की 238 करोड़ की संपत्ति जब्त

नई दिल्ली 29 जनवरी 2019 । प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने भ्रष्टाचार पर बड़ी करवाई करते हुए तृणमूल कांग्रेस के सांसद की 238 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की है. ईडी ने पोंजी घोटाला मामले में पश्चिम बंगाल की सत्ताधारी टीएमसी के राज्य सभा सांसद केडी सिंह के कई राज्यों में स्थित ठिकानों; हिमाचल, चंडीगढ़ और हरियाणा में छापेमारी की है जिसमें की 238 करोड़ की संपत्ति जब्त की गई. पोंजी घोटाले में टीएमसी सांसद की संलिप्तता को लेकर ईडी ने चंडीगढ़ में उनके शोरूम, हिमाचल के कुफरी में टीएमसी सांसद के रिसॉर्ट और हरियाणा में उनकी कई संपत्तियों और बैंक अकाउंट्स सीज किए हैं.

नवंबर 2018 में कर्नाटक के पूर्व मंत्री और उद्योगपति जी जनार्दन रेड्डी को पोंजी घोटाला मामले में गिरफ्तार किया था. 10 नवंबर को केंद्रीय अपराध शाखा (सीसीबी) के कार्यालय पहुंचे थे. रविवार की सुबह पूछताछ समाप्त होने के बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया. उन्होंने बताया कि सीसीबी ने इस मामले में रेड्डी के विश्वस्त सहायोगी अली खान को भी गिरफ्तार किया है. क्या है मामला

शेयर मार्केट रेग्युलेटरी संस्था, सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया (SEBI) ने पिछले साल यह आरोप लगाया था कि अलकेमिस्ट समूह के पूर्व चेयरमैन & एमडी ने कथित तौर पर गलत तरीके से 100 मिलियन डॉलर की राशि निकालकर देश छोड़ने की फिराक में हैं. ईडी पहले से ही अलकेमिस्ट ग्रुप के कथित पोंजी ऑपरेशन की जांच कर रहा था. इससे पहले भी देश-विदेश में करोड़ों का घोटाला हुआ है. जिससे बड़ी संख्या में लोग अपने पैसे गवां देते हैं.

बता दें कि कि इससे पहले भी तृणमूल कांग्रेस के कई नेताओं का नाम शारदा चिटफंड घोटाले में आया था. टीएमसी प्रमुख और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी कई बार केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर आरोप लगाती रही है कि सरकार जांच एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही है.

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

अभ्यास के दौरान गन का बैरल फटा, BSF जवान शहीद, 2 घायल

नई दिल्ली 4 मार्च 2021 । भारत-पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सीमा पर स्थित जैसलमेर जिले में कल …