मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> आश्रय स्थलों का हर महीने होगा निरीक्षण : मुख्यमंत्री चौहान

आश्रय स्थलों का हर महीने होगा निरीक्षण : मुख्यमंत्री चौहान

भोपाल 11 अगस्त 2018 । मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज निवास पर उच्च स्तरीय बैठक में प्रदेश में आश्रय स्थलों का हर महीने निरीक्षण करने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने निजी संचालकों द्वारा चलाये जा रहे बालिकाओं के छात्रावासों के लिये भी नियम बनाने के निर्देश दिये। पत्रकार वेलफेयर सोसायटी के प्रतिनिधि मंडल से चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि ऐसी घटनाओं से मन व्यथित होता है। चौहान ने बताया कि बालिका छात्रावास में एनजीओ संचालक द्वारा मूक-बधिर युवती से ज्यादती करने की अप्रिय घटना का दोषी पकड़ा गया है और उसे कड़ी सजा दिलाई जायेगी।

चौहान ने कहा कि इस घटना को गंभीरता से लिया गया तथा दोषी गिरफ्तार हो चुका है। जांच-पड़ताल कर जल्दी ही चार्जशीट प्रस्तुत की जायेगी। आरोपी को कड़ी सजा दिलाई जायेगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश के उन सभी अनुदान प्राप्त, निजी अथवा सरकारी आश्रय स्थलों का हर माह निरीक्षण किया जायेगा, जहाँ बेटियां रहती हैं। अनुदान प्राप्त संस्थाओं का फिलहाल हर दो महीने में निरीक्षण होता है।

चौहान ने अनाथालयों का भी निरीक्षण करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि केवल संस्था चलाने वालों के भरोसे संचालन का काम नहीं छोड़ा जायेगा। नियमित निरीक्षण किया जायेगा। कई संस्थाएं अच्छे भाव से अनाथालय जैसी संस्थाएं चलाती हैं लेकिन उनका भी नियमित निरीक्षण जरूरी हैं। प्राइवेट होस्टल, जहां बाहर से बेटियों पढ़ने आती हैं, उनके लिये भी नियम बनाये जायेंगे। निरंतर निरीक्षण की व्यवस्था की जायेगी। समाज के साथ मिलकर प्रशासन पूरा प्रयास करेगा कि ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति न हो। अपराधी को कड़ी सजा मिलेगी।

कन्या छात्रावासों की होगी नियमित निगरानी

राजधानी में सरकारी छात्रावास में मूक बधिर बच्ची से दुष्कर्म की घटना सामने आने के बाद सरकार भी एक्शन में आ गई है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने छात्राओं के छात्रावासों की नियमित निगरानी के निर्देश दिए हैं। इन छात्रावासों का अब से हर माह निरीक्षण होगा। मूक-बधिर बच्ची से दुष्कर्म की घटना सामने आने के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मुख्य सचिव बसंत प्रताप सिंह और पुलिस महानिदेशक ऋषि कुमार शुक्ला के साथ की अहम बैठक की। बैठक में सीएम ने छात्राओं के छात्रावासों की नियमित न

चौथा जल-महोत्सव हनुवंतिया में आगामी 8 दिसम्बंर से 7 जनवरी तक

बहुख्याति प्राप्त प्रदेश के हनुवंतिया मे चैथा जल-महोत्सव आगामी 8 दिसम्बर से आंभ होकर समापन 7 जनवरी को होगा। इस तरह चैथे जल-महोत्सव में सैलानी वर्षांत दिसम्बर माह और साल 2019 की शुरूआत का
लुत्फ उठा सकेंगे। इस बार जल-महोत्सव के दौरान एडवेंचर गतिविधियों पर विशेष रूप से फोकस रहेगा।
महोत्सव आयोजन की आरंभिक तैयारियों संबंधी बैठक में यह जानकारी दी गई। इस मौके पर पर्यटन विकास निगम के एम.डी. टी. इलैया राजा और टूरिज्म बोर्ड की अपर प्रबंध संचालक भावना वालिम्बे सहित पर्यटन निगम और टूरिज्म बोर्ड
के संबंधित अधिकारी मौजूद थे।
बैठक में बताया गया कि महोत्सव में इस साल तकरीबन 104 टेंट लगाए जायेंगे। उल्लास, उमंग और उत्साह से सराबोर जल-महोत्सव में सैलानियों की सहूलियत के लिये वॉटर स्पोट्र्स कॉम्प्लेक्स हनुवंतिया में विभिन्न सुविधाएँ उपलब्ध करवाई जाएगी। जल-महोत्सव के दौरान जल, जमीन और आकाश की विभिन्न साहसिक गतिविधियाँ होंगी।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

Urdu erased from railway station’s board in Ujjain

UJJAIN 06.03.2021. The railways has erased Urdu language from signboards at the newly-built Chintaman Ganesh …