मुख्य पृष्ठ >> अंतर्राष्ट्रीय >> कोरोना के खिलाफ लड़ाई में काम आएगा पोलियो का अनुभव

कोरोना के खिलाफ लड़ाई में काम आएगा पोलियो का अनुभव

नई दिल्ली 17 अप्रैल 2020 । भारत से पोलियो के वायरस को पूरी तरह खत्म करने में सफल रही टीम अब कोरोना के वायरस के खिलाफ लड़ाई में शामिल हो गई है। पोलियो की सर्विलांस नेटवर्क का उपयोग कोरोना के मामले में करने के फैसले का विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने स्वागत किया है। डब्ल्यूएचओ ने कहा कि जिस तरह भारत ने पोलियो जैसी बीमारी को मात दी थी, कोरोना से निपटने में अब वही रणनीति काम आएगी। ध्यान देने की बात है कि भारत 2014 में पोलियो के वायरस को पूरी तरह खत्म करने में सफल रहा था। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि डब्ल्यूएचओ की मदद से चलाई जा रहे पोलियो उन्मूलन कार्यक्रम के तहत उसके वायरस पर नजर रखने वाली सर्विलांस टीम पूरे देश में मौजूद है। वायरस को ढूंढकर उसे खत्म करने में इस टीम के अनुभवों का लाभ अब कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में लिया जाएगा। उनका उपयोग यह देखने में किया जाएगा कि किसी क्षेत्र में कोरोना वायरस कितना फैल चुका है। लव अग्रवाल के अनुसार सरकार कोरोना के खिलाफ देश में मौजूद सभी संसाधनों का अधिकतम उपयोग करना चाहती है और पोलियो सर्विलांस नेटवर्क को शामिल करना इसी का हिस्सा है।डब्ल्यूएचओ के प्रमुख टेड्रोस अधनोम ग्रेबियेसस ने भारत के फैसले की तारीफ करते हुए कहा कि भारत दूसरे देशों के साथ-साथ डब्ल्यूएचओ से मिलकर कोरोना वायरस को मात देने में जुटा है। जिस तरह से पोलियो के एक-एक मरीज को ढूंढने के लिए डब्ल्यूएचओ और भारत सरकार साथ आई थीं, ऐसे ही अब कोरोना से निपटा जाएगा। उन्होंने कहा कि भारत में डब्ल्यूएचओ जो भी स्टाफ है अब वह कोरोना के मामले में सरकार की मदद करेगा।

देश में 941 नए मामलों के साथ 13 हजार के पास पहुंचा संक्रमितों का आंकड़ा, जानें राज्‍यों का हाल

देश में कोरोना संक्रमण के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। गुरुवार को 941 नए मामले सामने आए जिसके साथ कुल संक्रमितों की संख्या 12,758 हो गई है। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय की ओर से साझा किए गए आंकड़ों के मुताबिक, बीते 24 घंटों में 37 लोगों की संक्रमण से मौत हो गई है। इसके साथ ही देश में कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा 420 पर पहुंच गया है। देश में अभी 10,824 एक्टिव केस हैं जिनका इलाज चल रहा है। हालांकि 1514 लोग अब तक ठीक भी हुए हैं।

महाराष्ट्र में बिगड़े हालात

गुरुवार को महाराष्ट्र में 286 नए मरीजों के साथ संक्रमितों की संख्या 3,202 पर पहुंच गई। अकेले मुंबई में ही 2,000 से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं। 107 नए मामलों के साथ मुंबई में कुल संक्रमितों का आंकड़ा 2,043 पर चला गया है। महाराष्ट्र में अब तक 23 पुलिसकर्मी संक्रमित हो चुके हैं। महाराष्ट्र, दिल्ली, तमिलनाडु, राजस्थान और मध्य प्रदेश ऐसे राज्य हैं, जहां संक्रमितों की संख्या 1,000 से ज्यादा हो चुकी है।

मध्य प्रदेश में भी एक दिन में 271 नए मामले

मध्य प्रदेश में 271 नए मामलों के साथ संक्रमितों की संख्या 1,255 हो गई है। गुजरात में भी 163 नए मामलों के साथ संक्रमितों की संख्या 929 पर पहुंच गई है। बंगाल में संक्रमण के कुल मामले 24 बढ़कर 237 पर पहुंच गए। गुरुवार को महाराष्ट्र में सात लोगों की मौत के साथ राज्य में मृतकों की संख्या 194 हो गई।

दिल्ली में छह की मौत

गुरुवार को मध्य प्रदेश में नौ, दिल्ली में छह, गुजरात व बंगाल में तीन-तीन और उत्तर प्रदेश, पंजाब, और तमिलनाडु में एक-एक व्यक्ति की जान गई। आंकड़ों में अंतर को लेकर अधिकारियों का कहना है कि राज्यों से केंद्रीय एजेंसी तक आंकड़े पहुंचने में देरी के कारण यह अंतर रहता है। कई निजी एजेंसियां सीधे राज्यों से आंकड़े जुटाती हैं।

राज्य संक्रमित

महाराष्ट्र – 3,202

दिल्ली – 1,640

तमिलनाडु – 1,267

मध्य प्रदेश – 1,255

राजस्थान – 1,131

गुजरात – 929

उत्तर प्रदेश – 809

तेलंगाना – 650

आंध्र प्रदेश – 534

केरल – 394

कर्नाटक – 315

जम्मू-कश्मीर – 314

बंगाल – 237

हरियाणा – 219

पंजाब – 199

बिहार – 83

ओडिशा – 60

उत्तराखंड – 37

हिमाचल प्रदेश – 36

छत्तीसगढ़ – 36

असम – 34

झारखंड – 29

चंडीगढ़ – 21

लद्दाख – 19

अंडमान-निकोबार -11

मेघालय -9

पुडुचेरी – 8

गोवा – 7

मणिपुर – 2

त्रिपुरा – 2

मिजोरम – 1

नगालैंड – 1

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

Ram Mandir निर्माण के लिए Rajasthan के लोगों ने दिया सबसे ज्यादा चंदा

जयपुर: विश्व हिंदू परिषद (VHP) के केंद्रीय उपाध्यक्ष और श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के …