मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> ट्रेन में पत्तों के दोने में मिलेगा खान-पान का सामान

ट्रेन में पत्तों के दोने में मिलेगा खान-पान का सामान

इंदौर 24 सितम्बर 2019 । पर्यावरण को ध्यान में रखकर रतलाम मंडल ने रेलवे मैं प्लास्टिक के उपयोग को रोकने का मन बना लिया है। इसमे यात्रियों के स्वास्थ्य को भी ध्यान में रखकर स्टेशन की खानपान यूनिटों पर कागज या सिंथेटिक बाउल के बजाय पत्तों से बने दोने का उपयोग शुरू कर दिया है। अब स्टेशन के स्टॉल, ट्रॉली पर खाद्य सामग्रियां पत्तों से बने दोने में दी जाएगी। रविवार से मंडल स्तर पर शुरुआत करते हुए इसका उपयोग अनिवार्य कर दिया गया है।
मंडल का दावा है कि भारतीय रेलवे और पश्चिम रेलवे जोन स्तर पर इस तरह का यह पहला प्रयोग है। मंडल के रेलवे स्टेशनों पर स्टॉलों से खानपान सामग्री का उपयोग होने के बाद कचरे में बड़ी मात्रा में पॉलीथिन देखने को मिल रही थी। पिछले दिनो स्टेशनों पर सफाई कराई गई। इसमें 3 हजार किलो कचरा और 50 किलो प्लास्टिक निकाला गया। इसके चलते अब पत्तों से बने दोने का उपयोग शुरू कर दिया गया है
रतलाम, इंदौर, उज्जैन, देवास, चित्तौड़गढ़, दाहोद सहित कई स्टेशनों पर इसके बारे में सूचना देकर रविवार को इस आदेश को लागू कर दिया गया है। स्टेशनों पर कार्यरत सीएमआई को निर्देश देकर स्टॉलों की जांच के लिए कहा गया। रेलवे द्वारा नए प्रयोग का डीआरएम की आईडी से ट्वीट भी किया गया। इसके दर्जनों ट्वीट आए। इसमें कमेंट कर यात्रियों ने पत्तों के दोने के उपयोग को पर्यावरण हितैषी तथा बेहतर माना। दोनों का उपयोग शुरू होने से इससे जुड़े लोगों को रोजगार भी मिलेगा।
यह कदम रोजगार के पर्यावरण हितैषी साबित होगा।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

राहुल ने जारी किया श्वेतपत्र, बोले- तीसरी लहर की तैयारी करे सरकार

नई दिल्ली 22 जून 2021 । कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस …