मुख्य पृष्ठ >> अंतर्राष्ट्रीय >> UN में चौथी बार रूस के खिलाफ बोलने से भारत ने काटी कन्नी

UN में चौथी बार रूस के खिलाफ बोलने से भारत ने काटी कन्नी

नयी दिल्ली 04 मार्च 2022 ।  भारत ने संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (यूएनएचआरसी) में चौथी बार रूस के खिलाफ बोलने से कन्नी काट ली है। भारत ने यूक्रेन के खिलाफ रूस की सैन्य कार्रवाई की जांच के प्रस्ताव को लेकर हुए वोटिंग में भी हिस्सा नहीं लिया। हालांकि, यूएनएचआरसी ने यूक्रेन के खिलाफ रूस की सैन्य कार्रवाई की एक स्वतंत्र अंतरराष्ट्रीय जांच आयोग स्थापित करने का फैसला किया है। संयुक्त राष्ट्र की 47 सदस्यीय इस परिषद में यूक्रेन में मानवाधिकारों की स्थिति पर एक मसौदा प्रस्ताव पर मतदान हुआ। प्रस्ताव पारित कर दिया गया। प्रस्ताव के पक्ष में 32 मत पड़े जबकि दो वोट (रूस और इरित्रिया) इसके खिलाफ पड़े, वहीं भारत, चीन, पाकिस्तान, सूडान और वेनेजुएला सहित 13 देशों ने इस मतदान में हिस्सा नहीं लिया।

प्रस्ताव के पक्ष में मतदान करने वाले देशों में फ्रांस, जर्मनी, जापान, नेपाल, संयुक्त अरब अमीरात, ब्रिटेन और अमेरिका शामिल हैं। परिषद ने ट्वीट किया, ‘यूक्रेन के खिलाफ रूस की सैन्य कार्रवाई के परिणामस्वरूप मानवाधिकार परिषद ने तत्काल एक स्वतंत्र अंतरराष्ट्रीय जांच आयोग गठित करने का निर्णय लिया है।’भारत ने पिछले एक सप्ताह के दौरान 15 देशों की सुरक्षा परिषद में यूक्रेन पर दो प्रस्तावों और 193 सदस्यीय महासभा में एक प्रस्ताव पर मतदान में हिस्सा नहीं लिया है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

‘राजपूत नहीं, गुर्जर शासक थे पृथ्वीराज चौहान’, गुर्जर महासभा की मांग- फिल्म में दिखाया जाए ‘सच’

नयी दिल्ली 21 मई 2022 । राजस्थान के एक गुर्जर संगठन ने दावा किया कि …