मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> पूर्व आईएएस अधिकारी शाह फैसल की नजरबंदी 3 महीने के लिए बढ़ाई गई

पूर्व आईएएस अधिकारी शाह फैसल की नजरबंदी 3 महीने के लिए बढ़ाई गई

नई दिल्ली 14 मई 2020 । जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने पूर्व आईएएस अधिकारी और जम्मू कश्मीर पीपुल्स मूवमेंट पार्टी के संस्थापक शाह फैसल की नजरबंदी 3 महीने और बढ़ा दी। यह जानकारी अधिकारियों ने बुधवार को दी। फैसल को पब्लिक सेफ्टी एक्ट के तहत नजरबंद किया गया था।

फैसल को अनुच्छेद 370 हटाने के बाद 14 अगस्त को हिरासत में लेकर एमएलए हॉस्टल में रखा गया था। इसी साल15 फरवरी को उन पर पीएसए के तहत कार्रवाई की गई थी। बुधवार को उन पर लगा पीएसए खत्म हो रहा था। प्रशासन ने इससे पहले ही तीन महीने के लिए पीएसए को बढ़ा दिया।

नजरबंदी को 1 साल के लिए बढ़ाया जा सकता है

पब्लिक सेफ्टी एक्ट के दो सेक्शन हैं। एक पब्लिक ऑर्डर और दूसरा राज्य की सुरक्षा को खतरा। फिलहाल फैसल की नजरबंदी 3 महीने के लिए बढ़ाई गई है। बाद में इसे एक साल और इसके बाद 2 साल के लिए बढ़ाया जा सकता है।

फैसल ने प्रशासनिक सेवा छोड़ राजनीतिक पार्टी बना

फैसल को 13-14 अगस्त को इंस्ताम्बुल की फ्लाइट लेने से रोका गया था। इसके बाद वे श्रीनगर लौट आए थे। उन्हें वहां नजरबंद कर दिया गया। बता दें कि भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी रह चुके शाह फैसल ने नौकरी से इस्तीफा देकर जम्मू कश्मीर पीपुल्स मूवमेंट नाम से एक पार्टी बनाई थी। पिछले महीने ही जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला की नजरबंदी हटाई थी।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

सुनील गावस्कर ने बताया, महेंद्र सिंह धोनी के बाद कौन सा बल्लेबाज नंबर-6 पर बेस्ट फिनिशर की भूमिका निभा सकता है

नयी दिल्ली 22 जनवरी 2022 । दक्षिण अफ्रीका दौरे पर टेस्ट के बाद भारत को …