मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> पूर्व राष्ट्रपति मुखर्जी की फोटो से छेडछाड: संघ ने कहा साजिश

पूर्व राष्ट्रपति मुखर्जी की फोटो से छेडछाड: संघ ने कहा साजिश

नई दिल्ली 9 जून 2018 । पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी की एक तस्वीर में फोटो मार्फिंग कर उन्हें संघ प्रार्थना करते हुए दिखाये जाने पर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ ने इसे विभाजनकारी राजनैतिक ताकतों की साजिश बताया है।
आज सायं सायं राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रदेश कार्यालय केशव कुंज झंडेवालान नई दिल्ली से जारी एक वक्तव्य में सचिव गोपाल आर्य ने कहा कि कुछ विभाजनकारी राजनैतिक तत्वों ने नागपुर में कल आयोजित आरएसएस के एक समारोह से जुडी झूठी तस्वीर पोस्ट की है जिसमें पूर्व राष्ट्रपति डॉ. प्रणव मुखर्जी को संघ की एक प्रार्थना के दौरान प्रार्थना स्थिति में दिखाया गया है।
आर्य ने कहा कि इन्हीं ताकतों ने डॉ. मुखर्जी को इस समारोह में भाग लेने से रोकने के लिये विरोध किया था और अब यह हताश ताकतें संघ को बदनाम करने के लिए इस प्रकार की घटिया चालें चल रहीं हैं। हम जानबूझकर संघ को बदनाम करने के लिए इन विभाजनकारी राजनैतिक ताकतों द्वारा चलाई जा रही ऐसी कुत्सित चालों की निंदा तथा विरोध करते हैं।

प्रणब की फेक फोटो पर RSS का बयान- संघ को बदनाम करने की घटिया चाल

पूर्व राष्ट्रपति और कांग्रेस के दिग्गज नेताप्रणब मुखर्जी गुरुवार को नागपुर में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ(आरएसएस) के कार्यक्रम में शामिल हुए. उनके साथ संघ प्रमुख मोहन भागवत भी रहे. नागपुर में आरएसएस मुख्यालय में हुए इस कार्यक्रम में प्रणब मुखर्जी ने संघ के स्वयंसेवकों को राष्ट्रवाद का पाठ पढ़ाया. समारोह में शामिल होने के कुछ देर बाद प्रणब की एक फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई है. फोटो में प्रणब मुखर्जी को संघ के अन्य स्वयंसेवकों की तरह अभिवादन करते हुए दिखाया गया है. हालांकि, प्रणब मुखर्जी ने ऐसा नहीं किया था.

इस फर्जी फोटो को लेकर आरएसएस के सह सर कार्यवाह डॉ. मनमोहन वैद्य ने बयान दिया है. उन्होंने कहा कि कुछ विभाजनकारी राजनीतिक तत्वों ने नागपुर में गुरुवार को आयोजित आरएसएस के एक कार्यक्रम से जुड़ी एक तस्वीर पोस्ट की है, जिसमें पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को संघ की प्रार्थना के दौरान प्रार्थना स्थिति में दिखाया गया है.

मनमोहन ने कहा कि इन्हीं ताकतों ने प्रणब को इस समारोह में भाग लेने से रोकने के लिए विरोध भी किया था. और अब ये हताश ताकतें संघ को बदनाम करने के लिए इस प्रकार की घटिया चालें चल रही हैं. हम जानबूझकर संघ को बदनाम करने के लिए इन विभाजनकारी ताकतों द्धारा चलाई जा रही ऐसी चालों की निंदा करते हैं.

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

टी-20 वर्ल्ड कप के लिए भारत के गेम प्लान पर बोले कोच रवि शास्त्री- खिलाड़ियों को ज्यादा तैयारी की जरूरत नहीं

नई दिल्ली 19 अक्टूबर 2021 । भारतीय क्रिकेट टीम को टी-20 वर्ल्ड कप में अपना …