मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> दिल्ली में आने वाली है कोरोना की चौथी लहर? केजरीवाल बोले- स्थिति पर सरकार की पैनी नजर

दिल्ली में आने वाली है कोरोना की चौथी लहर? केजरीवाल बोले- स्थिति पर सरकार की पैनी नजर

नयी दिल्ली 12 अप्रैल 2022 । राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस की संक्रमण दर एक बार फिर बढ़ने लगी है। हालात देखकर जहां चौथी लहर को लेकर लोगों की चिंताएं बढ़ने लगी हैं, वहीं सरकार भी सतर्क हो गई है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने मंगलवार को कहा कि उनकी सरकार राजधानी में कोविड-19 की स्थिति पर पैनी नजर रखे हुए है और फिलहाल घबराने की कोई बड़ी वजह नहीं है। केजरीवाल ने कहा कि जरूरत पड़ने पर सभी जरूरी कदम उठाए जाएंगे। स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक दिल्ली में सोमवार को कोविड महामारी की संक्रमण दर बढ़कर 2.70 फीसदी पहुंच गई जो पिछले दो महीनों में सबसे ज्यादा है। इससे राजधानी में कोविड के फिर से फैलने को लेकर चिंता बढ़ गई है। दिल्ली में पांच फरवरी को संक्रमण दर 2.87 फीसदी थी। केजरीवाल ने यहां संवाददाताओं से कहा कि हम स्थिति पर पैनी नजर रखे हुए हैं। अभी घबराने की कोई बड़ी वजह नहीं है। हम स्थिति के मुताबिक, सभी जरूरी कदम उठाएंगे। इससे एक दिन पहले सोमवार को स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा था कि दिल्ली सरकार कोविड की स्थिति पर नजर रख रही है और जब तक कोरोना वायरस के नए चिंताजनक वैरिएंट का पता नहीं चलता, तब तक फिक्र की कोई बात नहीं है। जैन ने कहा था कि दिल्ली में दैनिक मामले 100-200 के बीच आ रहे हैं। हम अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजो पर नजर रख रहे हैं और इनकी संख्या कम हो रही है। फिलहाल संक्रमण दर पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया जाना चाहिए।

दिल्ली में कोरोना संक्रमण के 137 नए मामले सामने आए गौरतलब है कि दिल्ली में सोमवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 137 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 18,66,380 हो गई। राजधानी में संक्रमण दर में वृद्धि देखी गई है और यह बढ़कर 2.70 प्रतिशत हो गई है। हेल्थ बुलेटिन में कहा गया है कि मृतकों की संख्या अब भी 26,157 है। चार अप्रैल को संक्रमण दर 0.5 प्रतिशत थी, जो सोमवार तक बढ़कर 2.70 फीसदी हो गई।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

‘राजपूत नहीं, गुर्जर शासक थे पृथ्वीराज चौहान’, गुर्जर महासभा की मांग- फिल्म में दिखाया जाए ‘सच’

नयी दिल्ली 21 मई 2022 । राजस्थान के एक गुर्जर संगठन ने दावा किया कि …